गुरुवार, 25 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. rajya sabha election 15-seats up himachal pradesh karnataka bjp sp congress results
Last Updated :नई दिल्ली , बुधवार, 28 फ़रवरी 2024 (00:14 IST)

Rajya Sabha Election Result 2024 : UP में 8 सीटें BJP ने जीतीं, सपा को 2 सीटें, हिमाचल में कांग्रेस को बड़ा झटका

कर्नाटक में कांग्रेस को 3, भाजपा को 1 सीट

Rajya Sabha Election Result 2024 : UP में 8 सीटें BJP ने जीतीं, सपा को 2 सीटें, हिमाचल में कांग्रेस को बड़ा झटका - rajya sabha election 15-seats up himachal pradesh karnataka bjp sp congress results
हिमाचल में बढ़ी सियासी हलचल
भाजपा ने कहा- अल्पमत में सुक्खू सरकार 
हिमाचल की 1 सीट पर टॉस के बाद रिजल्ट आया 
 
Rajya Sabha Election Result : देश के 3 राज्यों की 15 राज्यसभा (rajya sabha) सीटों के लिए मंगलवार को मतदान हुआ। इनमें उत्तरप्रदेश की 10, कर्नाटक की 4 और हिमाचल प्रदेश (himachal pradesh)  की 1 राज्यसभा सीट पर चुनाव हुआ। कर्नाटक में 3 कांग्रेस के खाते में गई, वहीं हिमाचल में 1 सीट के चुनाव में  कांग्रेस और भाजपा को 34-34 वोट मिले और ड्रॉ में कांग्रेस के अभिषेक मनु सिंघवी को हर्ष महाजन से हार मिली। हिमाचल में कांग्रेस की हार के बाद सियासी हलचल तेज हो गई। उत्तरप्रदेश में भाजपा ने 10 राज्यसभा सीटों में से 8 सीटें जीत ली हैं। 2 सीट पर समाजवादी पार्टी को जीत मिली।
उत्तरप्रदेश में क्रॉस वोटिंग : उत्तर प्रदेश में राज्यसभा की 10 सीटों के लिए मंगलवार को हुए चुनाव में ‘क्रॉस वोटिंग’ की आशंकाओं के बीच सत्तारूढ़ भाजपा के 8 और मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी (सपा) के दो उम्मीदवार विजयी घोषित किए गए।
राज्यसभा चुनाव के लिए उत्तर प्रदेश की 10 सीटों पर कुल 11 उम्मीदवार मैदान में थे। सपा ने तीन प्रत्याशियों को मैदान में उतारा था जबकि भाजपा ने पहले सात प्रत्याशी उतारे थे लेकिन बाद में उसने संजय सेठ के रूप में आठवां उम्मीदवार भी खड़ा कर दिया था। इस वजह से चुनाव आवश्यक हो गया था।
भाजपा के सात अन्य उम्मीदवारों में पूर्व केंद्रीय मंत्री आर.पी.एन. सिंह, पूर्व सांसद चौधरी तेजवीर सिंह, पार्टी की उत्तर प्रदेश इकाई के महासचिव अमरपाल मौर्य, पूर्व राज्य मंत्री संगीता बलवंत (बिंद), पार्टी प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी, पूर्व विधायक साधना सिंह और आगरा के पूर्व महापौर नवीन जैन हैं। इन सभी ने जीत हासिल कर ली है।
सपा ने अभिनेत्री-सांसद जया बच्चन, भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के सेवानिवृत्त अधिकारी एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्‍य सचिव आलोक रंजन और दलित नेता रामजी लाल सुमन को मैदान में उतारा था। इनमें से रंजन को पराजय का सामना करना पड़ा।
 
उत्तर प्रदेश से राज्यसभा के लिए निर्वाचित होने के खातिर एक उम्मीदवार को लगभग 37 प्रथम वरीयता मतों की आवश्यकता थी।
 
हालांकि, राज्यसभा चुनाव परिणाम की आधिकारिक रूप से अभी तक घोषणा नहीं की गई है लेकिन सूत्रों के मुताबिक चुनाव में सपा प्रत्याशी जया बच्चन को 41 तथा रामजीलाल सुमन को 40 वोट मिले हैं, वहीं आलोक रंजन को मात्र 19 मत हासिल हो सके।
इसके अलावा भाजपा उम्मीदवार अमरपाल मौर्य, तेजवीर सिंह, नवीन जैन, साधना सिंह, संगीता बलवंत और सुधांशु त्रिवेदी को 38-38, आरपीएन सिंह को 37 और संजय सेठ को 29 वोट हासिल हुए हैं।
 
सपा के नवनिर्वाचित राज्यसभा सदस्य रामजीलाल सुमन ने भाजपा पर सत्ता का बेतहाशा दुरुपयोग करने का आरोप लगाते हुए संवाददाताओं से कहा, ‘‘भाजपा ने एक धन्ना सेठ (संजय सेठ) को लड़ा कर पूरे चुनाव का गणित बिगाड़ दिया। हम समीक्षा करेंगे और देखेंगे कि कहां गलतियां हुई।’’
कर्नाटक में क्रॉस वोटिंग : कर्नाटक में सत्तारूढ़ कांग्रेस ने तीन सीट, जबकि भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने एक सीट जीती। चुनाव में क्रॉस वोटिंग हुई। उच्च सदन के लिए निर्वाचित हुए व्यक्तियों में अजय माकन, जीसी चंद्रशेखर और सैयद नसीर हुसैन (सभी कांग्रेस से) और भाजपा के नारायणसा के. भांडगे शामिल हैं। चुनाव में चार सीट के लिए 5 उम्मीदवार मैदान में थे, जिनमें जनता दल (सेक्युलर) के उम्मीदवार डी. कुपेंद्र रेड्डी भी शामिल थे। भाजपा विधायकों में से एक, एस टी सोमशेखर ने कांग्रेस के अजय माकन के लिए मतदान किया, जबकि अन्य विधायक ए. शिवराम हेब्बार ने मतदान में भाग नहीं लिया।
Himachal rajya sabha Election
हिमाचल में हुआ 'खेला' : हिमाचल प्रदेश में सत्तारूढ़ दल कांग्रेस के प्रत्याशी अभिषेक मनु सिंघवी को हराकर भाजपा के हर्ष महाजन ने राज्यसभा चुनाव जीतकर बड़ा खेल किया। राज्यसभा सीट का नतीजा औपचारिक रूप से घोषित होने से पहले ही भाजपा द्वारा सुखविंदर सिंह सुक्खू की 14 महीने पुरानी सरकारी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की चर्चा तेज हो गई थी। 
हिमाचल में पर्ची से फैसला : दोनों दलों के प्रत्याशियों को 34-34 वोट मिले थे। इसके बाद पर्ची से फैसला हुआ जिसमें भाजपा ने बाजी मारी। कांग्रेस के 6 व 3 निर्दलीय विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की है।
भाजपा ने सुखविंदर सिंह सुक्खू सरकार के अल्पमत में होना का दावा किया। यह कांग्रेस के लिए बड़ा झटका है जिसके पास 68 सदस्यीय विधानसभा में 40 विधायक हैं। राज्य में भाजपा के 25 विधायक हैं और तीन विधायक निर्दलीय हैं।

विधायकों को अगवा किया : हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू आरोप लगाया कि कांग्रेस के 5 से 6 विधायकों को 'अगवा' कर लिया गया और उन्हें केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) तथा हरियाणा पुलिस के काफिले में साथ ले जाया गया। उन्होंने यह भी कहा कि इन विधायकों के परिजन उनसे (विधायकों से) संपर्क करने की कोशिश कर रहे हैं।
 
‘क्रॉस वोटिंग’ (पार्टी व्हिप से हटकर मतदान करने) को लेकर सत्तारूढ़ कांग्रेस में जारी चिंताओं के बीच राज्य से राज्यसभा की एकमात्र सीट के लिए मतदान समाप्त होने के कुछ घंटे बाद यह आरोप लगाया गया है। सुक्खू ने प्रेस कॉन्फेंस में कहा कि भाजपा गुंडागर्दी में लिप्त है, जो लोकतंत्र के लिए अच्छा नहीं है। एजेंसियां  Edited By : Sudhir Sharma