0

सड़क 2 फिल्म समीक्षा: गड्ढों से भरी आलिया भट्ट और संजय दत्त की सड़क

शनिवार,अगस्त 29, 2020
0
1
गुंजन सक्सेना - द कारगिल गर्ल की शुरुआत में ही बता दिया गया है यह फिल्म गुंजन सक्सेना के जीवन से प्रेरित है। मतलब साफ है क‍ि सिनेमैटिक लिबर्टी के नाम पर कुछ काल्पनिक प्रसंगों को भी संभवत: जोड़ा गया है। इससे फिल्म देखते समय मन में हमेशा संदेह रहता है ...
1
2
पिछले कुछ समय में ऐसी फिल्में लगातार देखने को मिल रही है जब आर्थिक संकट से जूझ रहे इंसान को अचानक करोड़ों रुपये मिल जाते हैं। लूटकेस भी इस कड़ी को आगे बढ़ाती है। प्रिटिंग प्रेस में काम करने वाला नंदन कुमार (कुणाल खेमू) अपने बच्चे और पत्नी की ...
2
3
फिल्म की शुरुआत में ही कह दिया गया है कि यह किसी की बायोग्राफी या डॉक्यूमेंट्री नहीं है, बल्कि कुछ सत्य घटनाओं से प्रेरित है, इसलिए शंकुतला देवी को बायोपिक मानना गलत होगा। इससे मन में एक संदेह भी पैदा हो जाता है कि स्क्रीन पर जो दिखाया जा रहा ...
3
4
फिल्म रात अकेली है एक हत्या की गुत्थी को सुलझाने की कहानी है। इस तरह की मर्डर मिस्ट्री तब अच्छी लगती है जब दर्शकों को हत्यारे तक पहुंचने की यात्रा में मजा आए। मजा तब दोगुना हो जाता है जब मन में उठ रहे प्रश्नों और हत्या क्यों की गई इसका वाजिब जवाब ...
4
4
5
यह प्रभाव पैदा करने में मुकेश छाबड़ा 'दिल बेचारा' में असफल रहे हैं। दर्शकों का इस फिल्म से इसलिए इमोशनल जुड़ाव है क्योंकि फिल्म के हीरो सुशांत सिंह राजपूत फिल्म रिलीज होने के 40 दिन पहले इस दुनिया को अलविदा कह गए। वे इस फिल्म को देख सुशांत को ...
5
6
अच्छा आइडिया तब अपना असर खो देता है जब वह विश्वसनीय नहीं होता है। इसी बात का शिकार अमेज़न प्राइम की नई सीरिज ब्रीद : इनटू द शैडोज़ है। डा. अविनाश सबरवाल (अभिषेक बच्चन) की 6 साल की बेटी सिया का अपहरण हो जाता है। 9 महीने तक अपहरणकर्ता किसी तरह से ...
6
7

365 डेज़ : फिल्म समीक्षा

मंगलवार,जुलाई 7, 2020
नेटफ्लिक्स पर भारत ही नहीं बल्कि कई देशों में पोलिश फिल्म '365 डेज़' खूब देखी जा रही है। इसकी एक प्रमुख वजह यह हो सकती है कि फिल्म में बोल्ड दृश्यों की भरमार है। हीरो-हीरोइन कई बार रति-क्रिया करते हुए नजर आते हैं। इसके अलावा फिल्म देखने का कोई ...
7
8
बुलबुल चुड़ैल है या देवी? इस प्रश्न का उत्तर आप 'बुलबुल' देखते समय अपनी समझ के हिसाब से पता कर सकते हैं। गांव वालों के लिए वह चुड़ैल है क्योंकि पुरुषों का लगातार कत्ल हो रहा है, लेकिन इन लोगों को मारने की जो वजह है उसे आप देवी का दण्ड भी कह सकते ...
8
8
9
क्राइम ड्रामा वेब सीरिज़ आर्या डच ड्रामा सीरिज पेनोज़ा पर आधारित है। इसे पहले काजोल करने वाली थी, लेकिन उनके मना करने के बाद सुष्मिता सेन को इसमें लिया गया। सुष्मिता ने लगभग दस साल बाद अभिनय की दुनिया में प्रवेश किया है और एक एक्टर के तौर पर वे ...
9
10
शूजीत सरकार की फिल्म 'गुलाबो सिताबो' का टाइटल उत्तर प्रदेश के लोकप्रिय कठपुलती शो से लिया गया है क्योंकि कहानी इस बड़े राज्य की राजधानी लखनऊ में सेट है। यह लखनऊ पुराना किस्म का है जहां पर फातिमा महल नामक एक जर्जर हवेली है। इस खंडहर होती हवेली की ...
10
11
निम्न मध्यवमवर्गीय किरदारों को लेकर अनुराग बसु ने 'चोक्ड: पैसा बोलता है' बनाई है। अनुराग डार्क और इंटेंस किरदारों को लेकर फिल्म बनाने के लिए जाने जाते हैं जिसकी धुरी पैसा, अपराध और सेक्स के इर्दगिर्द घूमती है। संवादों में अपशब्दों की भरमार होती है। ...
11
12
हॉरर-थ्रिलर सीरीज 'बेताल' का पहला सीज़न चार एपिसोड में बंटा हुआ है। लगभग तीन घंटे की इस सीरिज में एक भी ऐसा क्षण नहीं है जब आप डर के मारे पीले पड़ जाएं या रोमांच के मारे आपके रोंगटे खड़े हो जाए। पहले सीन से ही यह आपको बांध नहीं पाती, लेकिन आप इस ...
12
13
पाताल लोक सीरिज एक बार फिर हमारा सामना उस भयावह सिस्टम से कराती है जिसे हम सड़ा-गला मानते हैं, जबकि वो सिस्टम ओवर-आइलिंग किया हुआ बढ़िया तंत्र है जिसका पुर्जा-पुर्जा जानता है कि उसे क्या करना है और जो पुर्जा काम का नहीं होता, फौरन बदल दिया जाता है।
13
14
कई बार कहानी से ज्यादा दिलचस्प किरदार होते हैं और यही खासयित है हॉटस्टार पर उपलब्ध वेबसीरिज़ 'हंड्रेड' की। दो महिलाएं लीड रोल में हैं। एक पुलिस ऑफिसर है सौम्या (लारा दत्ता) जिसे डिपार्टमेंट ने शो-पीस बना कर रखा है। वह चाहती है कि बदमाशों का पीछा ...
14
15
नेटफ्लिक्स की फिल्म 'मिसेज सीरियल किलर' के निर्देशक के रूप में शिरीष कुंदर का नाम देख कर ही फिल्म को लेकर मन में शंकाएं उत्पन्न होने लगती हैं क्योंकि शिरीष ने इसके पहले कुछ खराब फिल्में बनाई हैं। शिरीष ने जो 'नाम' बनाया है उस पर वे खरे उतरते हैं। ...
15
16
नेटफ्लिक्स पर स्ट्रीमिंग होने वाली मूवी एक्सट्रैक्शन का निर्देशन सेम हारग्रेव ने किया है जो एवेंजर्स एंडगेम और कैप्टन अमेरिका: सिविल वॉर जैसी फिल्मों से बतौर स्टंट कॉर्डिनेटर जुड़े रहे हैं और उनके स्टंट्स कितने बेहतरीन होते हैं यह बात सभी जानते हैं। ...
16
17
बात को लंबा खींचा जाऐ तो वो भले ही कितनी अच्छी हो अपना असर खो बैठती है। फिल्म बनाने के यह बेसिक नियमों में से एक है, लेकिन हंसमुख नामक वेबसीरिज में इसका पालन नहीं किया गया। जो बात तीन एपिसोड के लायक थी उस पर दस एपिसोड बना डाले। इस सीरिज का मूल ...
17
18
नीरज ने अब वेबसीरिज में हाथ आजमाया है और 'स्पेशल ऑप्स' नामक उनकी वेबसीरिज हॉट-स्टार पर दिखाई जा रही है। इसमें एक ऑपरेशन दिखाया है जो 19 साल लंबा है और कई देशों में फैला हुआ है। इस ऑपरेशन में वो तमाम उतार-चढ़ाव और थ्रिल मौजूद हैं जो इस विषय की ...
18
19
हिंदी मीडियम में दिखाया गया था कि किस तरह अंग्रेजी मीडियम और महंगे स्कूलों में एडमिशन पाने के लिए पैरेंट्स जतन करते हैं। अंग्रेजी मीडियम में छात्रों के विदेश में पढ़ने के मोह को दर्शाया गया है। यह बात निर्देशक होमी अडजानिया ने कॉमेडी के साथ ...
19