0

लाल किताब में कान छिदवाने से होते हैं 5 सबसे बड़े फायदे

शुक्रवार,फ़रवरी 28, 2020
0
1
जब उम्र ज्यादा हो जाती है तो और भी कठिनाइयों का सामना करना होता है। विवाह करना चाहते हैं तो लाल किताब के ये 5 उपाय आजमाएं।
1
2
आजकल विदेशी कुत्तों को पालने का प्रचलन बढ़ गया है। बेचारे देशी कुत्ते गली में सचमुच ही भूखे ही मर जाते हैं या किसी कार, ट्रक के नीचे कुचलकर मर जाते हैं। वैसे हिन्दू धर्म में कुत्ते को घर में पालना वर्जित है, लेकिन बाहर पास सकते हैं। आओ जानते हैं ...
2
3
मंगल का परिचय : मेष व वृश्चिक राशि का स्वामी मंगल मकर में उच्च का और कर्क में नीच का माना गया है। सूर्य और बुध मिलकर मंगल नेक बन जाते हैं, सूर्य और शनि मिलकर मंगल बद बन जाते हैं। गुरु मित्र के साथ बलवान बन जाते हैं। राशि प्रथम भाव है और बुध और केतु ...
3
4
लाल किताब में ग्रहों की स्थिति के अनुसार कंबल दान के बारे में उल्लेख मिलता है। किसी गरीब को या किसी मंदिर में कंबल दान करने के वैसे तो कई फायदे हैं, लेकिन सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह पुण्य का कार्य है। आओ जानते हैं लाल किताब क्या कहती है।
4
4
5
तोता की तस्वीर या चित्र लगाने से क्या होता है? और, मिट्ठू या मिठू पालने से क्या होता है? आओ जानते हैं इस संबंध में वास्तुशास्त्र और लाल किताब में क्या लिखा है।
5
6
खड़े नमक की तरह दिखने वाली फिटकरी सेंधा नमक की तरह चट्टानों से मिलती है। इसके कई तरह के औषधीय उपयोग हैं। औषधीय उपयोग के अलावा ज्योतिषियों अनुसार फिटकरी के कुछ और भी प्रयोग होते हैं जिनको करने से जीवन में लाभ प्राप्त किया जा सकता है। आओ जानते हैं 5 ...
6
7
गृहस्थ सुख का अर्थ यह कि वैवाहिक जीवन में रहकर सभी तरह के सुख भोगना। यह संभव होता है शुक्र की अच्छी स्थिति से। शुक्र, भोग-विलास, सांसारिक सुख, प्रेम, मनोरंजक, व्यवसाय, पत्नी का कारक ग्रह है। प्रमेह, मूत्राशय, चर्म, सेक्स संबंधी बीमारी से इसका सीधा ...
7
8
लाल किताब के अनुसार कालसर्प दोष कुछ नहीं, यह राहु का दोष है। सोचिए, कालसर्प दोष होता किस कारण है? दरअसल, इस योग या दोष के लिए राहु जिम्मेदार होता है। लाल किताब के अनुसार राहु बद और राहु नेक होता है। यदि राहु बद है और वह किसी भी खाने में बैठा है तो ...
8
8
9
नीम के पेड़ के यूं तो सैंकड़ों फायदे हैं लेकिन यहां जानिए ज्योतिष और लाल किताब के अनुसार बताए गए 5 फायदे।
9
10
वर्तमान युग में अधिकतर घरों में गृह कलह या लड़ाई झगड़े आम बात हो चली है। इसके चलते घर एक धर्मशाला या शरणार्थी शिविर जैसा बन जाता है। जहां लोग बस सोने, खाने, पीने और रहने के लिए रहते हैं। इसके क्या कारण है और इसका समाधान क्या है आओ जानते हैं ...
10
11
लाल किताब में उपाय से ज्यादा सावधानियां होती हैं। जहां तक सवाल है उपाय का तो कई लोगों के मन में यह सवाल है कि उपाय से क्या होता होगा। क्या उपाय से कोई फायदा हो सकता है?
11
12
लाल किताब में चांदी की डिब्बी के कई उपयोग बताए गए हैं। यहां प्रस्तुत है लाल किताब का एक उपयोग और दूसरा ज्योतिष शास्त्र का उपयोग। दोनों ही उपाय करके आप धन समृद्धि बढ़ा सकते हैं।
12
13
लाल किताब के अनुसार घर में निम्नलिखित वस्तुएं रखने से सुख और समृद्धि आती है। संकट मिट जाते हैं। प्राचीनकाल में लोगों के घरों में यह वस्तुएं होती थी लेकिन आजकर प्रचलन से बाहर हो चली है। सवाल यह उठता है कि इन वस्तुओं के रखने कैसे जीवन सुधरेगा तो यहां ...
13
14
लाल किताब में आपकी कुंडली के अनुसार आपके घर और वस्तु के बारे में जानकारी दी गई है। अपनी कुंडली के अनुसार ही घर खरीदे, बनवाएं या घर का वास्तु बदलें। आओ जानते हैं इस संबंध में यह कि शनि ग्रह की स्थिति अनुसार क्या सावधानी रखना चाहिए।
14
15
लाल किताब के अनुसार कुछ निषेध कर्म है और कुछ ऐसा कर्म है जिन्हें करने से हर तरह के संकट समाप्त होकर जीवन में समृद्धि और सुख बढ़ जाता है। आओ जानते हैं वे कौन सी बातें हैं।
15
16
ज्योतिष में चांदी का संबंध चंद्रमा और शुक्र से है। चांदी शरीर के जल तत्व और कफ को नियंत्रित करती है। चांदी के प्रयोग से मन मजबूत और दिमाग तेज होता है। साथ ही चांदी के प्रयोग से चंद्रमा की समस्याओं को शांत किया जा सकता है। लाल किताब में चांदी के कई ...
16
17
लोहे के छल्ले या अंगुठी को शनि का छल्ला कहा जाता है। कुछ लोग घोड़े की नाल की अंगुठी बनवाकर पहनते हैं। ज्योतिषानुसार शनि की ढैय्या, साढ़े साती, दशा, महादशा या अन्तर्दशा में तमाम तरह की परेशानियों से बचने के लिए लोहे का छल्ला पहना जाता है। लाल किताब ...
17
18
यदि आप यह जान लेते हैं कि आपका कौन सा अंग-खराब हो रहा है तो यह भी जान लेंगे कि वह किस ग्रह से प्रभावित होकर ऐसा हो रहा है तो निश्चित ही आप उस ग्रह के उपाय कर पाएंगे। तो आओ जानते हैं कि शनि को मूलत: शरीर के किन अंगों पर खास प्रभाव रहता है और इसके ...
18
19
लाल किताब और ज्योतिष के अनुसार शनिदेव कब और कैसे प्रसन्न होते हैं। इसके कई कारण है। पहला यह कि कुंडली में शनि की स्थिति बताती है कि शनिदेव आप पर प्रसन्न हैं और दूसरा यह कि आपके कर्म और आपका जीवन बताता है कि शनिदेव आप पर प्रसन्न हैं या नहीं। तो आओ ...
19