0

24 जून को है ज्येष्ठ पूर्णिमा तिथि : वट सावित्री पूनम पर बन रहे हैं बहुत शुभ संयोग

मंगलवार,जून 22, 2021
0
1
आय बनी रहेगी। व्यापार ठीक चलेगा। नौकरी में सहकर्मी विरोध कर सकते हैं। जोखिम व जमानत के कार्य टालें, धैर्य रखें।
1
2
शुक्र ग्रह 22 जून 2021 को दोपहर 2:07 बजे से 17 जुलाई 2021 को सुबह 09:13 बजे तक कर्क राशि में गोचर करेगा, इसके बाद यह सिंह राशि में गोचर कर जाएगा। आओ जानते हैं कि यह किन बातों पर असर डालेगा।
2
3
ज्येष्ठ पूर्णिमा के दिन वट पूर्णिमा व्रत करने की परंपरा है। विवाहित महिलाएं पति की लंबी उम्र के लिए यह व्रत करती हैं। इस व्रत के प्रभाव से महिलाओं को पति की दीर्घायु और सुखी वैवाहिक जीवन की प्राप्ति होती है।
3
4

23 जून 2021 : आपका जन्मदिन

मंगलवार,जून 22, 2021
23 का अंक देखने पर ॐ का आभास देता है। जो कि भारतीय परंपरा में शुभ प्रतीक है। आप बेहद भाग्यशाली हैं कि आपका जन्म 23 को हुआ है। 23 का अंक आपस में मिलकर 5 होता है।
4
4
5
शुभ विक्रम संवत्-2078, शक संवत्-1943, हिजरी सन्-1442, ईस्वी सन्-2021 अयन- उत्तरायण मास-ज्येष्ठ पक्ष-शुक्ल संवत्सर नाम-आनन्द ऋतु-वर्षा वार-बुधवार तिथि (सूर्योदयकालीन)-त्रयोदशी/चतुर्दशी (क्षय) नक्षत्र (सूर्योदयकालीन)-अनुराधा योग ...
5
6
जगन्नाथ पुरी में रथयात्रा की परंपरा में बहुत तरह की रस्में निभाई जाती है। प्रभु जगन्नाथ की यात्रा उनके मंदिर से प्रारंभ होती है और 2 किलोमीटर के मार्ग का सफर तय करके गुंडिचा मंदिर पहुंचती है। इस दौरान यात्रा के पूर्व, यात्रा के बीच और यात्रा की ...
6
7
प्रभु जनन्नाथ स्वामी की रथ यात्रा कब से और किस कारण से प्रारंभ हुई इस संबंध में हमें कई तरह की कथाएं मिलती है। उन्हीं कथाओं में से चार कथा आप यहां संक्षिप्त में पढ़ें। इसके अलावा नीचे दी गई लिंक पर क्लि करके मूर्ति स्थापना और मंदिर संबंधि अन्य कथाएं ...
7
8
आषाढ़ी/ हलहारिणी अमावस्या इस वर्ष शुक्रवार, 9 जुलाई 2021 को मनाई जा रही है। आषाढ़ अमावस्या पर दान और पूर्वजों की आत्मा शांति के लिए गंगा स्नान का विशेष महत्व होता है।
8
8
9
जिस जातक की जन्म कुंडली, लग्न/चंद्र कुंडली आदि में मंगल ग्रह, लग्न से लग्न में (प्रथम), चतुर्थ, सप्तम, अष्टम तथा द्वादश भावों में से कहीं भी स्थित हो, तो उसे मांगलिक कहते हैं। मांगलिक कुंडली वालों को विवाह के पूर्व भात पूजा करने की सलाह दी जाती है। ...
9
10
बार-बार की जीत और गुरु के अत्यधिक भरोसे के कारण पाइंदे खां का सिर घूम गया। वह सार्वजनिक रूप से अपने बारे में बढ़-चढ़कर बातें करने लगा और सारी सफलताओं
10
11
इस वर्ष 11 जुलाई 2021, रविवार से आषाढ़ गुप्त नवरात्रि का प्रारंभ हो रहा है। आषाढ़ नवरात्रि जून-जुलाई के महीने में आती हैं। आषाढ़ और माघ मास की नवरात्रि गुप्त नवरात्रि के नाम से जानी जाती है।
11
12
जगतगुरु स्वामी रामानंदाचार्य के बारह शिष्यों में से एक संत कबीर सभी से अलग थे। उन्होंने गुरु से दीक्षा लेकर अपना मार्ग अलग ही बनाया और संतों में वे शिरोमणि हो गए। कुछ लोग कबीर को गोरखनाथ की परम्परा का मानते हैं, जबकि उनके गुरु रामानंद वैष्णव धारा से ...
12
13
द्वापर के बाद भगवान कृष्ण पुरी में निवास करने लगे और बन गए जग के नाथ अर्थात जगन्नाथ। पुरी का जगन्नाथ धाम चार धामों में से एक है। यहां भगवान जगन्नाथ बड़े भाई बलभद्र और बहन सुभद्रा के साथ विराजते हैं। आओ जानते हैं बलभद्र और सुभद्रा के बारे में कुछ
13
14
इस संबंध में एक जन प्रचलित कथा है कि एक बार श्रीकृष्‍ण अचानक नींद में राधे-राधे कहने लगे तो श्रीकृष्‍ण की आठों पत्नियां चौंक गई और सोचने लगे कि भगवान अभी तक राधा को नहीं भले हैं। सभी ने मिलकर माता रोहिणी से इस संबंध मैं विचार किया और उनसे राधा और ...
14
15
ज्येष्ठ मास का चौथा बड़ा मंगल 22 जून 2021, दिन मंगलवार को मनाया जा रहा है। यह अंतिम बड़ा मंगल है। आज के दिन जिन्हें भगवान शिव जी का रुद्र अवतार और कलयुग के साक्षात् देवता माना जाता है
15
16
मोर बेहद खूबसूरत पंछी है। ज्योतिष, वास्तु, धर्म, पुराण और संस्कृति में मोर का अत्यधिक महत्व माना गया है। मोर पंख घर में रखने से अमंगल टल जाता है। आइए जानें 25 अनूठी बातें मोर पंख के बारे में...
16
17
भगवान श्रीकृष्ण को मोर मुकुट धारी कहा जाता है क्योंकि वे अपने मुकुट पर मोर पंख धारण करते थे। मोरपंख धारण करने के पांच कारण बताए जाते हैं, लेकिन हमें तो मात्र एक कारण ही समझ में आता है। आओ जानते हैं मोर पंख धारण करने की कथा।
17
18
इस बार ज्येष्ठ मास में शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी का व्रत 22 जून 2021, दिन मंगलवार को भौम प्रदोष व्रत रखा जाएगा। मंगल ग्रह का ही एक अन्य नाम भौम है। यह व्रत हर तरह के कर्ज से छुटकारा दिलाता है।
18
19
हिन्दू कैलेंडर के अनुसार श्रावण मास वर्ष का पांचवां माह होता है। अंग्रेजों के कैलेंडर के अनुसार यह जुन-जुलाई के बीच आता है। इस बार इस माह की शुरुआत 25 जुलाई 2021 रविवार से हो रही है। 26 जुलाई को सावन का पहला सोमवार रहेगा। 22 अगस्त रविवार रक्षा बंधन ...
19