0

सुशांत सिंह का फिल्मी करियर : छोटी किंतु चमकीली पारी

बुधवार,अप्रैल 14, 2021
0
1
अबोध फिल्म से माधुरी दीक्षित ने बॉलीवुड में कदम रखा था। फिल्म बुरी तरह फ्लॉप रही थी। माधुरी की जगह कोई और हीरोइन होती तो यह उसकी पहली और आखिरी फिल्म साबित होती, लेकिन माधुरी का अभिनय पसंद किया गया और उन्हें कुछ फिल्में मिल गईं। स्वाति, आवारा बाप ...
1
2
बहुत कम लोग दुनिया में सबसे मुश्किल काम पूरा करते पाते हैं और वह है इंसान बनना। भारतीय सिनेमा के इतिहास में बलराज साहनी एक ऐसा ही नाम है। फिल्म उद्योग जैसे चकाचौंध वाले व्यवसाय में रहकर भी वे ग्लैमर से कोसों दूर रहे। उन जैसा सरलमना, उदार और सर से ...
2
3
अमिताभ बच्चन ने अनेक यादगार फिल्मों में काम किया है। उसमें से दस चुन पाना बेहद मुश्किल कार्य है। फिर भी कोशिश की है। आइए नजर डाले उनकी दस श्रेष्ठ फिल्मों पर...
3
4
अमिताभ बच्चन के बेहतरीन अभिनय से सजी कई फिल्में हैं। लेकिन 'दीवार' को उनका सर्वश्रेष्ठ काम माना जा सकता है। एंग्रीयंग मैन की छवि को उन्होंने इस फिल्म के जरिये आगे बढ़ाया और सही मायनों में दीवार ने उन्हें सुपरस्टार बनाया। विजय के अंदर धधकती आग को ...
4
4
5
रितिक रोशन बतौर बाल कलाकार अपने पिता राकेश रोशन की कुछ फिल्में कर चुके थे। थोड़े बड़े हुए तो राकेश ने उन्हें अपना सहायक बना लिया। जब लगा कि उम्र हीरो बनने लायक हो गई है तो 1998 में राकेश रोशन ने उनको लेकर फिल्म 'कहो ना प्यार है' की प्लानिंग बनाई। नए ...
5
6
हेमा-जीतेन्द्र और धर्मेन्द्र का एक किस्सा बहुत मशहूर है। हेमा मालिनी पर जीतेन्द्र बहुत लट्टू थे। उस समय धर्मेन्द्र भी हेमा पर फिदा थे। हेमा मालिनी और जीतेन्द्र गुपचुप तरीके से एक मंदिर में शादी रचाने वाले थे।
6
7
शशिकला रील लाइफ में ज्यादातर परिवार की ऐसी महिला के रूप में दिखाई दीं जिसका काम अपने रिश्तेदारों की जिंदगी में आग लगाने का होता था। कभी वे ननद बन कर भाभी को सताती हुई दिखाई दीं तो कभी सास बन बहू की जिंदगी हराम करती रहीं। परदे की यह कुटील इंसान रियल ...
7
8
भट्ट फैमिली सदैव ही बोल्ड और बिंदास रही है। जो दिल में है उसे छिपाने में उन्होंने कोई परहेज नहीं किया। फिर दुनिया कुछ भी सोचे। दुनिया की ऐसी की तैसी वाली सोच पर वे सदैव चले। महेश भट्ट ने कई बार ऐसी बातें कहीं जिनको लेकर विवाद खड़ा हो गया। उनकी बेटी ...
8
8
9
सभी लोकप्रिय होना चाहते हैं, लेकिन सेलिब्रिटीज़ के लिए कई बार यह लोकप्रियता सिर दर्द बन जाती है। कुछ फैंस हद पार कर जाते हैं और उन्हें फैंस कहना ठीक नहीं है क्योंकि फैंस कभी भी अपने प्रिय कलाकार का अहित नहीं करते। मौनी रॉय कितनी पॉपुलर हैं यह ...
9
10
1) अजय देवगन का घरेलू नाम राजू है और उनके पास बी.-कॉम. की डिग्री है। 2) फिल्म में लांच करने के पहले वीरू देवगन अपने बेटे अजय को महेश भट्ट के पास ले गए थे, तब महेश भट्ट ने कहा कि इसकी आंखें बहुत कुछ अपने भीतर छुपाए हैं। इससे वीरू देवगन का काफी उत्साह ...
10
11
होली हो और फिल्मों की बात न हो, ऐसा संभव नहीं। होली के रंग अकसर रूपहले पर्दे पर बिखरे दिखाई देते हैं। बॉलीवुड के कई निर्देशकों ने फिल्मों में होली का रंग डाला है। कई फिल्मों में होली के गीत इतने लोकप्रिय हुए कि आज भी होली के दिन वह दिनभर सुनाई देते ...
11
12
मैं खिलाड़ी तू अनाड़ी और इंसाफ जैसी फिल्में साथ करते हुए शिल्पा शेट्टी और अक्षय कुमार की दोस्ती नजदीकियां में बदल गईं और दोनों एक-दूसरे को बहुत पसंद करने लगे। जल्दी ही दोनों का रोमांस सुर्खियों में था। वैसे भी अक्षय दिल को हथेली पर लेकर घूमते ...
12
13
अक्षय कुमार और डिम्पल कपाड़िया स्क्रीन पर रोमांस करते-करते रह गए... नब्बे के दशक में अक्षय कुमार ने अपनी खिलाड़ी सीरिज की फिल्मों से धूम मचा रखी थी। रोमांस और शानदार एक्शन इन फिल्मों की खासियत हुआ करती थी। 1996 में 'खिलाड़ियों का खिलाड़ी' नामक फिल्म ...
13
14
डिम्पल कपाड़िया और अनिल कपूर ने जांबाज नामक फिल्म में साथ काम किया है, जिसे फिरोज खान ने निर्देशित किया था। इस फिल्म में फिरोज खान ने भी अभिनय किया था। एक गाने में रेखा नजर आई थी और श्रीदेवी ने भी छोटा-सा रोल अदा किया था। जांबाज सफल तो रही, लेकिन ...
14
15
रंगों को उत्साह, उल्लास और खुशियों का पर्याय कहा जा सकता है। इसलिए रंगों के त्योहार पर चारों ओर खुशियाँ दिखाई देती हैं। फिल्म वालों को तो रंगीला ही कहा जाता है। जीवन के हर रंग उनकी फिल्मों में शामिल होते हैं। खुशियों का रंग, जोश का रंग, देशभक्ति ...
15
16
टारजन पर खूब फिल्में बनी हैं और 1985 में फिल्म निर्माता-निर्देशक बी. सुभाष ने भी 'टारजन' फिल्म बनाई। उन्होंने टारजन के किरदार के लिए पहलवाननुमा हीरो हेमंत बिरजे को चुना। हीरोइन के किरदार के लिए किमी काटकर को प्रस्तुत किया। किमी ने भी बॉलीवुड में कदम ...
16
17
आमिर खान ने अपने लंबे करियर में कई बेहतरीन फिल्में की, जिनमें से बेस्ट मूवी यहां पेश है। इन्हें इनके रिलीज होने के वर्ष अनुसार जमाया गया है।
17
18
1) आमिर खान के लिए तमाम पापुलर अवॉर्ड्‍स पाना 'बेकार' लगता है। आमिर कहते हैं- ये सब बेकार हैं। 2) ऑस्कर जीतने की ख्वाहिश उनके मन में है, जिसके करीब वे एक-दो बार पहुँच चुके हैं। 3) आमिर काम करते समय घड़ी नहीं देखते। जब तक काम पूरा नहीं होता ...
18
19
हर कलाकार चाहता है कि उसके जीवन में एक फिल्म ऐसी हो जो कालजयी हो। उस फिल्म का नाम वह गर्व से ले सके। उस फिल्म के लिए उसे बरसों याद किया जाए। सुपरस्टार राजेश खन्ना को अपने करियर के शुरुआती दौर में ही एक ऐसी फिल्म करने का मौका मिल गया था यूं तो राजेश ...
19