0

सरस्वती पूजन 2020 : जो सरस और रसमयी हैं वही देवी सरस्वती हैं

बुधवार,जनवरी 29, 2020
saraswati puja
0
1
0 जनवरी को सरस्वती देवी की पूजा अर्चना की जाएगी। माघ मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि में इस वर्ष 3 ग्रहों का स्वराशि योग निर्मित हो रहा है। मंगल वृश्चिक राशि पर, गुरु धन में और शनि मकर में रहेंगे।
1
2
सर्दी के दिनों में त्वचा का रूखा होना, फटना या फिर निर्जीव होना खूबसूरती में कमी लाता है। इन दिनों में त्वचा को अतिरिक्त पोषण और नमी की आवश्यकता होती है।
2
3
हर महिला चाहती है कि उसकी स्कीन साफ और ग्लोइंग हो और चेहरे पर चमक लाने के लिए पार्लर में जाकर महंगे फेशियल कराने से भी महिलाएं पीछे नहीं हटतीं।
3
4
वसंत पंचमी के दिन राशि अनुसार विशेष उपाय करने से विद्या, समृद्धि, सुख, धन और ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है....
4
4
5
हे देवी, वसंत में खिली लताओं से मंडित, नाना कमलों से, हंसों की मंडली से अलंकृत मलय पवन से आंदोलित सरोवर में सखियों के मध्य क्रीड़ा करती हुई मां सरस्वती तुम्हारा ध्यान करने से ज्वरजनित पीड़ा दूर होती है।
5
6
महात्मा गांधी को प्रिय 'वैष्णव जन तो तेने कहिए' यह भजन 15वीं शताब्दी के गुजरात के संत कवि नरसी मेहता द्वारा रचित एक अत्यंत लोकप्रिय भजन है।
6
7
महात्मा गांधी का जन्म 2 अक्टूबर 1869 को गुजरात के पोरबंदर नामक स्थान पर हुआ था। इनका पूरा नाम मोहनदास करमचंद गांधी था।
7
8
मंगलवार को 'लाभ मंडपम' में आयोजित संगीत सभा Indore Music Festival में ज्यादातर युवा श्रोता उस्ताद राशिद खान को उनके लाइट मूड को सुनने के लिए आए होंगे, लेकिन उन्हें क्या पता था उस्ताद गला साफ़ करने में भी मज़ा दे जाते हैं।
8
8
9
देवी सरस्वती के 3 ऐसे भक्त रहे हैं। जो पहले मंद बुद्धि थे। लेकिन मां सरस्वती की आराधना के बाद वह विद्वानों की श्रेणी में वरिष्ठ क्रम में आते हैं। यह तीन भक्त कालिदास, वरदराजाचार्य और वोपदेव हैं, जो बचपन में अत्यल्प बुद्धि के थे।
9
10
वसंत ऋतु में पंचमी का उत्सव 'मां सरस्वती' के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता है। भगवती सरस्वती विद्या की अधिष्ठात्री देवी हैं और विद्या को सभी धनों में प्रधान धन कहा गया है। विद्या से ही अमृतपान किया जा सकता है। विद्या और बुद्धि की देवी सरस्वती की ...
10
11
- जो लोग सरस्वती के कठिन मंत्र का जप नहीं कर सक‍ते, उनके लिए प्रस्तुत है मां सरस्वती के सरल मंत्र। वसंत पंचमी के दिन से इस मंत्र जप का आरंभ करने और आजीवन इस मंत्र का पाठ करने से विद्या और बुद्धि में वृद्धि होती है।
11
12
जो विद्या की देवी भगवती सरस्वती कुन्द के फूल, चंद्रमा, हिमराशि और मोती के हार की तरह धवल वर्ण की है और जो श्वेत वस्त्र धारण करती है, जिनके हाथ में वीणा-दण्ड शोभायमान है, जिन्होंने श्वेत कमलों पर आसन ग्रहण किया है तथा ब्रह्मा विष्णु एवं शंकर आदि ...
12
13
वर्ष 2020 का नए साल में पहला पंचक काल जहां 4 जनवरी तक रहा, वहीं दूसरा पंचक 26 जनवरी से लग गया है। रविवार, 26 जनवरी 17:39:48 बजे से शुरू हुआ यह पंचक शुक्रवार, 31 जनवरी 18:10:15 बजे तक जारी रहेगा।
13
14
यदि आप चाहते हैं कि हर सुंदर गुण आपके जीवन में समा जाए, तो वसंत पंचमी पर आपको सरस्वती साधना सिद्धि अवश्य ही करनी चाहिए।
14
15
राशिद खान क्रिकेट के दीवाने थे, अगर संगीत की तरफ उनका रुझान नहीं होता तो बहुत हद तक संभव है कि हम उनकी ठुमरी और ख्‍याल सुनने के बाजाए आज उन्‍हें क्रिकेट के मैदान में पसीना बहाते देख रहे होते।
15
16
आजादी की लड़ाई का इतिहास क्रांतिकारियों के विविध साहसिक कारनामों से भरा पड़ा है और ऐसे ही एक वीर सेनानी थे लाला लाजपतराय जिन्होंने देश के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर कर दिया।
16
17
सृष्टि की रचना का कार्य जब भगवान विष्णु ने ब्रह्मा जी को दिया तब खुश नहीं थे। सृष्टि निर्माण के बाद उदासी से भरा वातावरण देख वे विष्णु जी के पास गए और सुझाव मांगा।
17
18

डिलीशियस वासंती सेवई खीर

मंगलवार,जनवरी 28, 2020
सेवईं के छोटे-छोटे टुकड़े कर लें। कड़ाही में घी डालकर इन्हें हल्का भूरा होने तक सेंक लें।
18
19
सबसे पहले क्रीम, शकर, नींबू रस व एसेंस को मिक्सी जार में भरें व मिक्सी चला कर क्रीम को पफ कर लें।
19
विज्ञापन
Traveling to UK? Check MOT of car before you buy or Lease with checkmot.com®