0

मजदूरों के पलायन पर ‘गुलजार’ का दर्द… ‘ख़ुदा जाने, ये बंटवारा बड़ा है, या वो बंटवारा बड़ा था’

रविवार,मई 31, 2020
0
1
गायत्री मंत्र के चौबीस अक्षरों के चौबीस देवता हैं। उनकी चौबीस चैतन्य शक्तियां हैं। गायत्री मंत्र के चौबीस अक्षर 24 शक्ति बीज हैं। गायत्री मंत्र की उपासना करने से उन मंत्र शक्तियों का लाभ और सिद्धियां मिलती हैं।
1
2
वहां कुत्‍तों को बेरहमी से मारा-काटा जाता है और फि‍र स्‍वाद के ल‍िए थाली में परोसकर खाया जाता है।
2
3
शास्त्रों में मंत्रों को बहुत शक्तिशाली और चमत्कारी बताया गया है। सबसे ज्यादा प्रभावी मंत्रों में से एक मंत्र है गायत्री मंत्र।
3
4
गंगा दशहरा पर्व प्रति वर्ष ज्येष्ठ माह की शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को मनाया जाता है। इस बार यह तिथि 1 जून 2020, सोमवार को है। इसलिए गंगा दशहरा इस साल 1 जून को मनाया जाएगा।
4
4
5
फिल्मी हीरो और हीरोइन हो तो उनके छींकने तक और सांस लेने की खबरें आ जाएंगी और सरकार के मंत्री से लेकर सारे नुमाइंदे जल्दी ही स्वस्थ होने की कामना करने लगेंगे।
5
6
खबरें दो हैं और दोनों के उद्गम स्थल भी अलग-अलग हैं पर संयोग कुछ ऐसा है कि टाइमिंग एक है और इसीलिए दोनों को एक ही चश्मे से पढ़ा जाना ज़रूरी हो गया है। आश्चर्य प्रकट किया जा सकता है कि जिस समय हम कोरोना से मरने वालों की बढ़ती हुई तादाद, दो महीनों से ...
6
7
कामधेनु गाय समस्त कामनाओं को पूर्ति करने वाली होती है। आइए जानते हैं कि निर्जला एकादशी के दिन इस कामधेनु अनुष्ठान को कैसे सम्पन्न किया जाए।
7
8
गायत्री देवी की स्तुति में लिखी गई चालीस चौपाइयों की एक रचना है 'गायत्री चालीसा' । यह चालीसा पढ़ने से जहां जीवन के सारे कष्ट दूर हो जाते हैं
8
8
9
गंगा दशहरा के दिन पवित्र नदी गंगा में स्नान करने से मनुष्य अपने पापों से मुक्त हो जाता है। स्नान के साथ-साथ इस दिन दान-पुण्य करने से मोक्ष की प्राप्ति होती है। आइए जानते हैं इस साल कब है गंगा दशहरा पर्व और हिन्दू धर्म में क्या है इस खास पर्व का ...
9
10
गंगा दशहरा : प्रतिवर्ष ज्येष्ठ मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को "गंगा दशहरा" का पर्व मनाया जाता है। इस बार यह तिथि 1 जून 2020, सोमवार को आ रही है। इसलिए गंगा दशहरा इस साल 1 जून 2020 को मनाया जाएगा।
10
11
श्री गंगा मां की आरती - ॐ जय गंगे माता, श्री गंगे माता। जो नर तुमको ध्याता, मनवांछित फल पाता। ॐ जय गंगे माता...
11
12
इस वर्ष 1 जून 2020, सोमवार को गंगा दशहरा मनाया जाएगा। ज्येष्ठ शुक्ल दशमी को हस्त नक्षत्र में श्रेष्ठ नदी 'गंगा' स्वर्ग से अवतरित हुई थीं। गंगा के पृथ्वी पर अवतरण के पर्व को गंगा दशहरा के रूप में मनाया जाता है।
12
13
आभूषणों ने मानव जाति व समाज में अपनी अलग और महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। चाहे वह सोना-चांदी हो, हीरे हों, रूबी, नीलम, पन्ना, मोती कोई भी रत्न या धातु हों। इनकी चकाचौंध ने हमेशा सभी को आकर्षित किया है। भारतीयों में तो यह प्रतिष्ठा का प्रश्न भी रहता
13
14
Ganga Aarti in India- जय गंगा मैया मां जय सुरसरी मैया। भवबारिधि उद्धारिणी अतिहि सुदृढ़ नैया।।
14
15
Ganga Chalisa- जय जय जय जग पावनी जयति देवसरि गंग । जय शिव जटा निवासिनी अनुपम तुंग तरंग ॥
15
16
गंगा स्नान से सारे पाप धुल जाते हैं, ऐसी लोगों की मान्यता रहती है। गंगा में लगाई गई एक डुबकी ही श्रद्धालुओं को क्षणभर में पवित्र कर देती है, इसमें रत्तीभर भी संदेह नहीं है।
16
17
वराह पुराण में लिखा हुआ है कि, ज्येष्ठ शुक्ला दशमी बुधवारी में हस्त नक्षत्र में श्रेष्ठ नदी स्वर्ग से अवतीर्ण हुई थी, वह दस पापों को नष्ट करती है।
17
18
जून माह जन्में युवा कुशल अधिकारी, पेंटर, काउंसलर, मैनेजर, टीचर या डॉक्टर होते हैं। राजनीति के लिए अगर इनके सितारे थोड़े भी सहयोग करें तो सब पर छा जाने की ताकत रखते हैं।
18
19
भीमसेन व्यासजी से कहने लगे कि हे पितामह! भ्राता युधिष्ठिर, माता कुंती, द्रोपदी, अर्जुन, नकुल और सहदेव आदि सब एकादशी का व्रत करने को कहते हैं
19