0

holi puja vidhi : होलिका दहन व पूजन की प्रामाणिक विधि, 10 प्रमुख बातें

गुरुवार,फ़रवरी 27, 2020
holi puja vidhi
0
1
होलाष्टक होली से पहले के 8 दिनों को कहा जाता है। इस वर्ष होलाष्टक 02 मार्च से प्रारंभ हो रहा है, जो 09 मार्च यानी होलिका दहन तक रहेगा। फाल्गुन मास के शुक्ल पक्ष की अष्टमी से लेकर पूर्णिमा ​तिथि तक होलाष्टक माना जाता है। 09 मार्च को होलिका दहन के ...
1
2
इन सब के बीच भी दिल्‍ली के ही कुछ इलाकों से हिंदू-मुस्‍लिम भाईचारे की उम्‍मीद भरी तस्‍वीरें सामने आ रही हैं।
2
3
होली वसंत ऋतु में मनाया जाने वाला महत्वपूर्ण भारतीय त्योहार है। यह पर्व हिन्दू पंचांग के अनुसार फाल्गुन मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है।
3
4
होली की बची हुई अग्नि और भस्म को अगले दिन प्रात: घर में लाने से घर को अशुभ शक्तियों से बचाने में सहयोग मिलता है तथा इस भस्म का शरीर पर लेपन भी किया जाता है।
4
4
5
अगर आपके बाल घुंघराले हैं और आपको स्ट्रेट यानि सीधे बाल बहुत पसंद है, तो अब इसके लिए आपको किसी स्ट्रेटनर या फिर सलून की जरुरत नहीं है। जी हां...........
5
6
भारत रत्न प्राप्त महान वैज्ञानिक प्रोफेसर सी.वी. रमन (चंद्रशेखर वेंकटरमन) ने सन् 1928 में कोलकाता में 28 फरवरी के दिन एक उत्कृष्ट वैज्ञानिक खोज की थी, जो ‘रमन प्रभाव’ के रूप में प्रसिद्ध है। इसी खोज की याद में भारत में सन् 1986 से प्रतिवर्ष 28 फरवरी ...
6
7
मैं दिल्‍ली हूं, जब देश की बात होती है तो लाखों-करोड़ों लोग मेरी तरफ उम्‍मीद भरी निगाहों से देखने लगते हैं, क्‍योंकि मैं वो जगह हूं जहां से पूरे देश की धड़कन रवां होती है। इसलिए मुझे दिल भी कहते हैं, लेकिन मैं दिल ही की तरह मायूस हो गई हूं। मजबूर भी ...
7
8
नींबू केवल खाने-पीने की चीजों में ही इस्तेमाल नहीं होता। इसके कुछ ऐसे नुस्खे भी है जिन्हें आजमाकर आप कई तरह की सेहत और सौन्दर्य समस्याओं से निजात पा सकते हैं। आइए, जानते हैं नींबू के 10 कमाल के घरेलू नुस्खे .....
8
8
9
रमन की यह उत्कृष्ट वैज्ञानिक खोज 28 फरवरी 1930 को प्रकाश में आई थी। इस कारण 28 फरवरी राष्ट्रीय विज्ञान दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस कार्य के लिए उनको 1930 में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
9
10
रूखी त्वचा वाले लोगों को अपनी त्वचा की नमी बरकरार रखने के काफी ध्यान देना पड़ता है। हम आपको बता रहे हैं 5 प्रकार के फेस पैक (face pack) जो रूखी त्वचा पर चमत्कारी असर दिखाते हैं ........
10
11
28 फरवरी के दिन भौतिक विज्ञान के क्षेत्र में सर सीवी रमन यानी चंद्रशेखर वेंकटरमन ने 'रमन प्रभाव' की खोज की थी जिसने पूरे विज्ञान जगत में तहलका मचा दिया था।
11
12
ड्रायफ्रूट यानि सूखे मेवे, वैसे तो सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं, लेकिन जब तक इन्हें सीमित मात्रा में लिया जाए तब तक ही। इनका अत्यधिक सेवन सेहत को नुकसान भी पहुंचा सकता है। आपको भी जरूर पता होने चाहिए, इनके अधिक सेवन से होने वाले नुकसान -......
12
13
27 फरवरी 1931 को चंद्रशेखर आजाद के रूप में देश का एक महान क्रांतिकारी योद्धा देश की आजादी के लिए अपना बलिदान दे गया, शहीद हो गया।
13
14
कृष्ण काल में नंदा नाम की एक गाय थी। चारा चरते हुए झुंड से बिछड़ गई और वहां पहुंच गई जहां एक बाघ बैठा था। बाघ गरजते हुए नंदा पर टूट पड़ा। नंदा की सिट्टी-पिट्टी गुम हो गई। उसे अपना नन्हा बछड़ा याद आने लगा। उसके आंसुओं की धारा बह निकली।
14
15
आपने आस-पास, परिवार या रिश्तेदार में किसी न किसी को सांस फूलने की समस्या का सामना करते जरूर देखा होगा। सांस फूलना यानी उसे लेने में दिक्कत होना, ये समस्या नीचे बताए गए कारणों में से किसी वजह से हो सकती है। आइए, जानें....
15
16
चंद्रशेखर 'आजाद' ने देशभर में अनेक क्रांतिकारी गतिविधियों में भाग लिया और अनेक अभियानों का प्लान, निर्देशन और संचालन किया।
16
17
सबसे पहले दो कप पानी लेकर शक्कर गला लें। फिर सभी मेवा सामग्री को मिक्स करके 3-4 घंटे के लिए भिगो कर रखें। त‍त्पश्चात पानी निथारकर मिक्सी में बारीक पीस लें।
17
18
सबसे पहले मैदे में घी का मोयन डालकर पानी की मदद से सख्त आटा गूंथ लें। एक कड़ाही में खोया भून लें। ठंडा छोने पर इसमें कोको पावडर, पिसी शक्कर, बादाम एसेंस एवं चॉकलेट चिप्स मिलाकर
18
19
शास्त्रों में फाल्गुन शुक्ल पक्ष का महत्व विशेष प्रकार की उपासना पूजा के लिए जाना जाता है। फाल्गुल शुक्ल की चतुर्थी को गणेश जी की प्रतिष्ठित प्रतिमा को विधिवत पूजन
19