0

कुपोषण को हराने की पहल ‘आहार-क्रांति’ के मजबूत स्तंभ होंगे शिक्षक

रविवार,जुलाई 25, 2021
0
1
नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ कैंसर प्रिवेंशन एंड रिसर्च (एनआईसीपीआर) के अनुसार प्रतिवर्ष कैंसर के 7 लाख से अधिक नए मामले दर्ज किए जाते हैं और कैंसर के कारण होने वाली मृत्यु का आंकड़ा 5 लाख 50 हजार से भी अधिक हैं। वहीं, कैंसर सें संबंधित 50 प्रतिशत मृत्यु ...
1
2
हमारे जीवन में रंगों का खास महत्व है। हरा रंग जीवन में सौभाग्य, विकास और स्वास्थ्य का प्रतीक भी माना जाता है। किसी रंग को देखकर हमें खुशी महसूस होती है तो किसी दूसरे रंग को देखकर तनाव दूर हो जाता है।
2
3
मानसून ने भी दस्‍तक दे दी है। और सावन सोमवार भी शुरू होने वाले हैं। लेकिन मानसून सीजन में पाचन तंत्र अन्‍य सीजन के मुकाबले कमजोर हो जाता है। ऐसे में व्रत रखने के दौरान सावधानियां बरतना जरूरी है। खान-पान का ख्‍याल विशेष रूप से रखें। क्‍योंकि पाचन ...
3
4
टमाटर का उपयोग भोजन के स्वाद को बढ़ाने के लिए खूब किया जाता है। पौष्टिक गुणों से भरपूर टमाटर सेहत और सौंदर्य दोनों के लिए बेहद लाभकारी है। नियमित रूप से टमाटर के जूस के सेवन से सेहत और सौंदर्य दोनों ही पाई जा सकती हैं। टमाटर आपकी खूबसूरत त्वचा की ...
4
4
5
यूटीआई यानी यूरिनरी ट्रैक्‍ट इंफेक्‍शन यह बीमारी किसी को भी हो सकती है। नवजात और 5 से 6 साल के बच्‍चों को भी यह खतरा हो सकता है।लेकिन यह बीमारी सबसे अधिक महिलाओं को होती है। बरसात के मौसम में उनके लिए परेशानी बढ़ जाती है। मौसम की नमी के चलते ...
5
6
एप्पल साइडर विनेगर की किचन में आम जगह बन गई है। कई तरह से इसका उपयोग किया जा रहा है ताकि खाने में और स्वाद बढ़ जाए। लेकिन इसका सही इस्तेमाल नहीं
6
7
मॉनसून हो या ठंड का मौसम अगर आपको पानी की प्‍यास नहीं लगती है तब भी आपको पानी पीना चाहिए। पानी नहीं पीने से बहुत सारी गंभीर समस्‍या होने लगती है। इसके बाद डॉक्‍टर सबसे पहले पानी पीने की मात्रा बढ़ाने पर जोर देता है। अगर आप स्‍वस्‍थ्‍य है तब भी पानी ...
7
8
सुबह उठते ही सबसे पहले लोग चाय पीना पसंद करते हैं। इसके बाद उनके दिन की शुरूआत होती है। फिर वह कोई अन्‍य कार्य करते हैं। लेकिन कई बार लोग चाय पीने के बाद शिकायत करते हैं कि उन्‍हें एसिडिटी हो रही है, बदहजमी, पाचन क्रिया गड़बड़ हो रही और अन्‍य पेट से ...
8
8
9
चाय को भारत की नेशनल ड्रिंक के तौर पर जाना जाता है। भारत में चाय हर मर्ज की दवा है। खुशी से लेकर दुखी आदमी के साथ साये की तरह रहती है। फिर इंसान अकेला ही क्‍यों नहीं हो वह चाय जरूर पीता है। यह बात हो गई शौकिया तौर पर चाय पीने की। लेकिन क्‍या आप ...
9
10
सब्जियों में मशहूर खीरा हर किसी को पसंद होता है। कई लोग इसे सलाद के रूप में नियमित खाना पसंद करते हैं। शरीर को हाइड्रट रखने के साथ ही त्वचा की खूबसूरती तक कई अनमोल गुणों का खजाना है खीरा
10
11
कोरोना वायरस महामारी के बीच नए-नए वायरस पनप रहे हैं। इसी बीच अब एक ओर नए वायरस ने दस्‍तक दे दी है। जिस वजह से चिंता बढ़ना लाजमी है। वहीं अगर देखा जाए तो कोरोना वायरस को लेकर जहां - जहां ढील दी गई है वहां एक बार फिर से वायरस के मामले बढ़ने लगे हैं। ...
11
12
अभी तक यह समझना मुश्किल रहा है कि मानवीय आंत में उपस्थित जीवाणु प्रवासी (बैक्टीरियल रेजिडेंस) यानी ई-कोलाई कैसे आगे बढ़ता है या रासायनिक क्रियाओं के प्रति उसकी क्या प्रतिक्रिया होती है। ई-कोलाई मानवीय जठर तंत्र (गेस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट) में ...
12
13
देश में पनीर की डिमांड हर साल करीब 25 फीसदी तक बढ़ती है। लेकिन जैसे-जैसे डिमांड बढ़ रही है मिलावट और अधिक बढ़ती जा रही है। कुछ खाद्य पदार्थ में बहुत अधिक तेजी से मिलावट हो रही है। जिसमें पनीर भी शामिल है। बता दें कि पनीर का सेवन लोगों के बीच पिछले ...
13
14
बारिश का मौसम सेहत के लिहाज से बहुत ही संवेदनशील मौसम है। ऐसे में अपनी सेहत के प्रति पूरी सावधानी रखनी चाहिए।
14
15
सेहत के लिए गर्म पानी पीने की सलाह दी जाती है। वहीं अक्सर लोग सर्दी के मौसम में गर्म पानी पीना पसंद करते है, तो वहीं कुछ लोग गर्मी के मौसम में भी इसे बेहतर मानते हैं। गर्म पानी स्वास्थ के लिहाज से काफी फायदेमंद माना जाता है, इसके सेवन से कई सेहत ...
15
16
सूरज का ताप और भी अधिक बढ़ने लगा है। गर्मी में आमजन बाहर निकलने से बचने लगे हैं।
16
17
आइए जानें 7 बहुत ही सरल और सस्ते उपाय जो दूर करेंगे कैल्शियम की कमी। मात्र 2 रुपए से लेकर 10 रुपए तक में संभव है कैल्शियम की कमी का इलाज... यह इलाज विशेष रूप से उनके लिए हैं जो दूध या दूध से बने पदार्थ नहीं लेते हैं।
17
18
पैरों में बिछिया पहनने से महिलाओं का हार्मोनल सिस्टम सही रूप से कार्य करता है, बिछिया पहनने से थाइराइड की संभावना कम हो जाती है।
18
19
कोरोना काल में उपयोगी - जामुन का रस, शहद, आँवले या गुलाब के फूल का रस बराबर मात्रा में मिलाकर एक-दो माह तक प्रतिदिन सुबह के वक्त सेवन करने से रक्त की कमी एवं शारीरिक दुर्बलता दूर होती है।
19