0

आयुर्वेद और योग के पंचकर्म से हो जाता है कायाकल्प, जानिए क्या है ये

शनिवार,अप्रैल 10, 2021
0
1
कोरोना वायरस (coronavirus) नामक महामारी से बचने के लिए इम्युनिटी बढ़ाने (Immunity power) के साथ ही फेफड़ों को मजबूत रखने और ऑक्सीजन लेवल ( Low Oxygen Level ) बढ़ाने की बात भी कही जाती है। कोरोना वायरस सचमुच घातक है, लेकिन इससे बचना भी बहुत आसान है। ...
1
2
कोरोना वायरस नामक महामारी से बचने के लिए इम्युनिटी बढ़ाने खा खास महत्व है। कई लोग इसके लिए बहुत से उपाय करते हैं। कोरोना वायरस सचमुच घातक है, लेकिन इससे संक्रमित हजारों लोग ठीक भी हो गए हैं। यदि आपने लोगों से मिलना-जुलना और भीड़ वाले क्षेत्र में ...
2
3
गलत आदतों से आज के वक्त में मोटापा तेजी से बढ़ने लगा है। हालांकि कई लोग वक्त के साथ सतर्क भी हो गए है और अपनी हेल्थ का ख्याल रख रहे हैं।
3
4
किसी भी तरह का वर्कआउट करने से पहले खुद को मन से तैयार करना बेहद जरूरी होता है, जो कई लोगों के लिए काफी मुश्किल भी है। पर एक बार इसकी शुरूआत हो जाएं और एक्सरसाइज करने की आदत हो जाएं, तो बहुत से अच्छे परिणाम भी सामने आते हैं.....
4
4
5
हठयोग में शुद्धि क्रियाओं का बहुत महत्व है। क्रियाओं में प्रमुख है- नेती, धौती, बस्ती, कुंजर, न्यौली, त्राटक आदि। उक्त क्रियाओं के अभ्यास से संपूर्ण शरीर शुद्ध हो जाता है। किसी भी प्रकार की गंदगी जब शरीर में स्थान नहीं बना पाती है तो चित्त भी निर्मल ...
5
6
योगा स्नान के बहुत से चरण होते हैं। माह में एक बार योग अनुसार स्नान करने से शरीर फिर से तरोताजा होकर युवा बना रहता है और इससे थकान, चिंता, रोग, शोक, अवसाद, झुर्रियां आदि दूर हो जाते हैं। योगा रिजॉर्टों में आजकल इसका प्रचलन बढ़ गया है, लेकिन आप चाहे ...
6
7
कोरोना वायरस (coronavirus) का संक्रमण फेफड़ों को कमजोर कर देता है। इस दौर में जहां इम्युनिटी पावर (Immunity power) बढ़ाना जरूरी है वहीं फेफड़ों (Lungs) को सुरक्षित और मजबूत बनाए रखना भी जरूरी है और सबसे जरूरी है शरीर के भीतर का ऑक्सीजन लेवल बढ़ाना। ...
7
8
वर्तमानकाल में अधिकतर लोगों की सोच नकारात्मक हो चली है। इसके पीछे कई राजनीतिक, सामाजिक और रहन-सहन में परिवर्तन के कारण भी हो सकते हैं। यह भी हो सकता है कि कोई व्यक्ति बचपन से ही गलत लोगों के साथ रहा हो या बाद में उसकी संगति गलत लोगों की हो गई हो। कई ...
8
8
9
वर्क फ्रॉम होम के दौरान हम लंबे समय तक अपने डेस्क या लैपटॉप के सामने बैठकर काम करते हैं, ऐसे में शरीर में दर्द, कंधे, गर्दन और पीठ में अजीब-सा दर्द होता है और इस दर्द के कारण रात में नींद भी अच्छी तरह नहीं आती है। इन सबसे बचने के लिए स्ट्रेचिंग की ...
9
10
कोरोना वायरस अर्थात कोविड 19 की महामारी अभी भी पूर्णत: समाप्त नहीं हुई है। जब तक वैक्सीन नहीं लग जाती तब तक मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग रखना जारी रखें। वैक्सीन लगाने के बाद भी यह कार्य तब तक जारी रखें जब तक की महामारी का दौर समाप्त नहीं हो जाता ...
10
11
योग के आठ अंग है, यम, नियम, आसन, प्राणायाम, प्रत्याहार, धारणा, ध्यान और समाधी। आसन करने के लिए आसनों को सीखना होगा। प्राणायाम करना बहुत ही सरल होता है। प्राणायाम में रेचक पूरक और कुम्भक यह तीन तरह की प्रक्रिया होती है। मात्र इन तीन तरह की प्रक्रिया ...
11
12
कोरोना वायरस अर्थात कोविड 19 की महामारी अभी भी पूर्णत: समाप्त नहीं हुई है। जब तक वैक्सीन नहीं लग जाती तब तक मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग रखना जारी रखें। वैक्सीन लगाने के बाद भी यह कार्य तब तक जारी रखें जब तक की महामारी का दौर समाप्त नहीं हो जाता ...
12
13
कहते हैं कि जहां गंदगी होती है वहां पर ही वायरस और बैक्टीरिया पनपते हैं। अत: कोरोना काल में साफ-सफाई के साथ ही शरीर और मन की शुद्धि का भी महत्व बढ़ गया है। आओ जानते हैं कि स्नान के कितने प्रकार हैं और यह कैसे किया जाता है। यहां मुख्‍यत: दो तरह के ही ...
13
14
योग में मुद्राओं के दो मुख्‍य प्रकार है। पहला हस्तमुद्रा और दूसरा मुख्य आसन या आकृतियां। हस्तमु्द्रा तो हाथ से की जाती है और आसन मुद्रा शरीर के किसी भी अंग से की जाती है। आसन मुद्राओं में से एक ही काकी मुद्रा। आओ जानते हैं इसे करने के 10 फायदे।
14
15
विश्व में ध्यान करने का प्रचलन बढ़ा है। ध्यान करने से आपकी मोमोरी बढ़ती है, दिमाग शांत रहता है और कई तरह के मानसिक रोगों का भी इलाज होता है। ध्यान पर विश्‍वभर में कई तरह के शोध हुए हैं। कुछ वर्ष पूर्व हुए शोध ने नए तथ्‍य सामने रखे हैं।
15
16
कोराना से जंग में मन की शक्ति का होना बहुत जरूरी है। ऐसे कई लोग हैं जो कोराना मरिज से मिले और फिर भी उन्हें कोरोना नहीं हुआ। ऐसे भी कई लोग हैं जिन्हें कोरोना हो गया और वे 4 दिन में या 7 दिन में ठीक हो गए। यह सब मन का खेल है परंतु आप सोचेगे ऐसा कैसे ...
16
17
यदि ध्यान आपकी दिनचर्या का हिस्सा बन गया है तो यह आपके दिन का सबसे बढ़िया समय बन जाता है। आपको इससे आनंद की प्राप्ति होती है। फिर आप इसे पांच से दस मिनट तक बढ़ा सकते हैं। पांच से दस मिनट का ध्यान आपके मस्तिष्क में शुरुआत में तो बीज रूप से रहता है, ...
17
18
अष्टांग योग का 7वां अंग है ध्यान। दरअसल, ध्यान 7वीं सीढ़ी है। योग में ध्यान 7वीं स्टेप है। लेकिन वर्तमान में कुछ संस्थान ऐसे हैं, जो व्यक्ति को डायरेक्ट ध्यान लगाने या सिखाने का कार्य करते हैं। उन्होंने अपनी अलग ध्यान विधियां विकसित करके उसकी ...
18
19
यदि निम्नलिखित 10 नियम आपने अपना लिए तो निश्चित ही शर्तिया आपको कभी भी कोई गंभीर रोग नहीं होगा और आप जीवनभर निरोगी बने रहेंगे, परंतु उससे पूर्व आपको 3 शर्तों का पालन करना होगा। जैसे कुछ पाने के लिए खोना पड़ता है उसी तरह यह 3 शर्तें अपनाएं।
19