0

शिव पुराण के उपाय : श्रावण मास की शिव भक्ति,दिलाए कई रोगों से मुक्ति

गुरुवार,जुलाई 16, 2020
0
1
सावन मास की कामिका एकादशी के दिन सूर्य कर्क राशि में गोचर कर रहे हैं। कर्क संक्रांति इस बार 16 जुलाई 2020 को मनाई जा रही है।
1
2
अगर प्रतिदिन कोई मंत्र न पढ़ सकें तो कम से कम किसी खास अवसर पर या जैसे एकादशी या गुरुवार के दिन भगवान विष्णु का स्मरण कर 'ॐ नमो भगवते वासुदेवाय' मंत्र का जाप करना फलदायी रहता है।
2
3
कामिका एकादशी इस साल 16 जुलाई 2020, गुरुवार को मनाई जाएगी। श्रावण कृष्ण पक्ष में आने वाली इस एकादशी को कामिका एकादशी कहते है।
3
4
16 जुलाई को श्रावण मास की संक्रांति है। इस दिन सूर्य देव मिथुन से कर्क राशि में जाएंगे। सावन में सूर्य का राशि परिवर्तन काफी महत्वपूर्ण होता है।
4
4
5
कर्क संक्रांति पर वस्त्र एवं खाने की चीजों और विशेषकर तेल के दान का विशेष महत्व है। करें इन 5 चीजों का दान..
5
6
श्रावण माह के बारे में मन में प्रश्न उपजते हैं।क्यों उपवास करते हैं? क्यों सभी शिवलिंग पर दूध चढ़ाते हैं? क्यों जल चढ़ाते हैं? रुद्राभिषेक क्यों करते हैं?
6
7
एकादशी तिथि को श्रीहरि विष्णु का पूजन किया जाता है। आओ जानते हैं एकादशी के दिन भगवान विष्णु की पूजा में कौन सी 11 चीजें चढ़ाने से वे प्रसन्न होंगे।
7
8
शास्त्रों के अनुसार एकादशी व्रत-उपवास करने का बहुत महत्व होता है। साथ ही सभी धर्मों के नियम भी अलग-अलग होते हैं। खास कर हिंदू धर्म के अनुसार एकादशी व्रत करने की इच्छा रखने वाले मनुष्य को दशमी के दिन से ही कुछ अनिवार्य नियमों का पालन करना चाहिए।
8
8
9
आज एकादशी है। ॐ जय जगदीश हरे, स्वामी! जय जगदीश हरे। यह आरती करने से श्रीहरि विष्णु प्रसन्न होकर खुशहाल जीवन का आशीर्वाद देते हैं। यहां पढ़ें आरती...
9
10
श्री विष्णु चालीसा- एकादशी पर श्रीविष्णु पूजन का विशेष महत्व है। एकादशी पर श्री विष्णु चालीसा का पाठ पढ़ने से सारे दु:ख-दर्द दूर हो जाते हैं। यह चालीसा विष्‍णु जी को प्रिय है।
10
11
यह सवाल अक्सर कई लोगों के मन में आता है कि एकादशी के दिन चावल क्यों नहीं खाते? आखिर एकादशी के दिन चावल खाना क्यों वर्जित है?
11
12
सूर्य 16 जुलाई को कर्क राशि में प्रवेश करने जा रहे हैं। सूर्य का यह गोचर शुरु होते ही समसप्तम योग आरंभ हो जाएगा। इस दौरान सूर्य के कर्क और शनि के मकर राशि में होने से दोनों एक दूसरे के सातवें घर में विराजमान होंगे।
12
13
16 जुलाई को सूर्य मिथुन राशि से निकल कर्क राशि में आ रहे हैं। सूर्य का यह राशि परिवर्तन कर्क संक्रांति के नाम से जाना जाता है। इस दिन कामिका एकादशी भी है।
13
14
20 जुलाई को श्रावण अमावस्या है। हिंदू संस्कृति में श्रावण अमावस्या या चंद्रमा का दिन काफी महत्वपूर्ण होता है। यह भारत की स्थानीय संस्कृतियों के आधार पर विभिन्न क्षेत्रों में विभिन्न नामों से प्रसिद्ध है।
14
15
सूर्य का राशि परिवर्तन करना संक्रांति कहलाता है। 16 जुलाई को सुबह 11 बजकर 03 मिनट पर सूर्य मिथनु राशि से कर्क में आ रहे हैं। सूर्य का कर्क राशि में आगमन आपकी राशि के लिए कैसा होगा,आइए जानते हैं...
15
16
16 जुलाई को कर्क संक्राति है। सूर्य का यह राशि परिवर्तन कर्क संक्रांति के नाम से जाना जाता है। श्रावण मास की कर्क संक्रांति के समय काल में सूर्य को पितरों का अधिपति माना जाता है।
16
17
हर कोई शिव भक्त इस बात को जानना चाहता है कि आखिर भगवान शंकर का जन्म कैसा हुआ और इनके माता-पिता का क्या नाम है।
17
18
3 अगस्त 2020 को राखी का पर्व मनाया जाएगा। रक्षा बंधन का पर्व वैदिक विधि से मनाना श्रेष्ठ माना गया है। इस विधि से मनाने पर भाई का जीवन सुखमय और शुभ बनता है।
18
19
वॉशिंगटन। गूगल, फेसबुक और माइक्रोसॉफ्ट समेत अमेरिका की कई शीर्ष प्रौद्योगिकी कंपनियां आव्रजन एवं सीमा शुल्क प्रवर्तन (आईसीई) के नए नियम के खिलाफ हॉर्वर्ड यूनिवर्सिटी और मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी की तरफ से दायर वाद में पक्ष बन गई हैं।
19