मध्यप्रदेश में एक दिन में रिकॉर्ड 13 लाख से ज्यादा लोगों का वैक्सीनेशन

Last Updated: सोमवार, 21 जून 2021 (19:32 IST)
भोपाल। को रोकने के लिए मध्यप्रदेश में महाअभियान के पहले दिन रिकॉर्ड 13 लाख 72 हजार से ज्यादा लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई। इंदौर में 2 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगी, जबकि भोपाल करीब 1 लाख 15 हजार टीके लगाए गए। अंतिम समाचार लिखे जाने तक टीकाकरण का कार्य जारी था।

वैक्सीनेशन महाअभियान की शुरुआत मुख्यमंत्री और गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दतिया के ग्राम पाराशरी से की। वैक्सीनेशन अभियान की शुरुआत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि ये वैक्सीन नहीं जिंदगी है। इसलिए जिंदगी बचाने के लिए वैक्सीन जरुरी लगवाए। दतिया पहुंचे मुख्यमंत्री ने पीतांबरा पीठ पहुंचकर मां के दर्शन कर प्रदेश को कोरोना मुक्त करने की प्रार्थना की।

दतिया के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राजधानी भोपाल के अन्नागर बस्ती पहुंचकर लोगों को वैक्सीनेशन के लिए जागरुक किया। अन्ना नगर में लोगों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वो दिन हम कभी भू​ल नहीं सकते, जब हमने अपनों को खोया,वैसे दिन दोबारा नहीं आने देना है। कोरोना वायरस अभी खत्म नहीं हुआ है। तीसरी लहर आने के पहले पूरी तैयारी करेंगे और जनता को सुरक्षित करने में जी-जान लगा देंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने जिद ठानी है कि चाहे कुछ हो जाए अपनी जनता को वैक्सीन का टीका लगवाना है। जो रह गए हों उनसे भी कहें,18 साल से अधिक उम्र के सभी। अब लॉकडाउन नहीं होने देना है। बच्चों की पढ़ाई लिखाई कब तक रोकेंगे, सिनेमा हॉल बंद हैं वैक्सीन लग जाए तो हम अन्य गतिविधियां शुरू कर सकते हैं। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने नागरिकों को स्वयं टीकाकरण कराने एवं दूसरों को भी प्रेरित करने की शपथ दिलाई। मुख्यमंत्री ने लोगों को वैक्सीन लगवाने और दूसरों को वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करने की शपथ भी दिलाई।

वैक्सीनेशन महाअभियान का जायजा लेने निकली वेबदुनिया की टीम को राजधानी भोपाल में बनाए गए वैक्सीनेशन सेंटर पर लंबी-लंबी लाइनें दिखाई दी। लोग वैक्सीन लगवाने के लिए केंद्रों पर इंतजार करते हुए दिखाई दिए। वैक्सीनेशन सेंटर पर युवा बड़ी संख्या में लोग वैक्सीन लगवाने के लिए इंतजार करते नजर आए।



और भी पढ़ें :