छेड़छाड़ का विरोध पिता को पड़ा महंगा, आरोपियों की गोली से गंवाई जान

हिमा अग्रवाल| Last Updated: मंगलवार, 2 मार्च 2021 (12:34 IST)
(यूपी)। का हाथरस जिला एक बार फिर से सुर्खियों में है, क्योंकि इस बार बेटी की इज्जत के लिए न्याय की गुहार लगाना एक पिता को भारी पड़ गया। मामला हाथरस जिले का है, जहां बेटी से छेड़छाड़ का पिता ने किया। पीड़िता के पिता ने पुलिस से शिकायत की। आरोपी को यह बात पसंद नही आई और उसने अपने साथियों के साथ मिल 52 वर्षीय अमरीश को गोलियों से भून डाला। मौके पर पहुंची पुलिस ने पीड़िता के पिता का शव पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मृतक की पुत्री ने इस मामले में 4 लोगों के खिलाफ केस दर्ज करवाया है।
ALSO READ:
उत्तरप्रदेश सरकार राज्य में शराब पर प्रतिबंध लगाने के पक्ष में नहीं, योगी ने दिए संकेत
नौजरपुर के एक युवक ने मृतक किसान अमरीश की बेटी के साथ 16 जुलाई 2018 को घर में घुसकर छेड़खानी की थी। मृतक ने छेड़खानी का आरोप गौरव पर लगाते हुए स्थानीय थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी जिसमें आरोपी गौरव को 1 माह की जेल हुई थी। आरोपी जमानत पर बाहर आया और तभी से वह अमरीश पक्ष से रंजिश रखने लगा। मृतक परिवार के मुताबिक गौरव मामले को खत्म करने और फैसले का दबाव बना रहा था।
1 मार्च 2021 की अपराह्न करीब 4 बजे अमरीश अपने खेतों पर मजदूरों से आलू की खुदाई करवा रहे थे। उसी दौरान उनकी पत्नी और पुत्री खाना देने के लिए खेतों पर आ गईं। खेतों के नजदीक आरोपी अपने 2 साथियों के साथ सफेद रंग की गाड़ी में सवार होकर आया और पीड़ित परिवार को भला-बुरा कहने लगे। इसी बीच अपना आपा खोकर गौरव और उसके साथियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। गोली लगने से अमरीश की अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई।
हाथरस के थाना सासनी को जैसे ही घटना की सूचना मिली तो वह तत्काल प्रभाव से मौके पर रवाना हो गई। मामले की गंभीरता को समझते हुए पुलिस क्षेत्राधिकारी सदर और एसपी विनीत जायसवाल घटनास्थल गांव नौजरपुर पहुंच गए। पीड़ित परिवार द्वारा नामजद 4 लोगों के खिलाफ थाने में मुकदमा पंजीकृत करके पुलिस ने मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है।
हाथरस आईजी पीयूष मोडिया ने इस मामले पर 4 टीमें गठित की थीं। इन टीमों ने चारों आरोपियों की तलाश में देर रात्रि तक ताबड़तोड़ दबिश दी। जिसमें से एक नामजद आरोपी ललित को गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्य आरोपियों की तलाश में पुलिस जुटी हुई है, वहीं घटनास्थल पर पीड़ित परिवार के साथ मिलकर पुलिस गहन छानबीन में जुटी हुई है। सुरक्षा की दृष्टि से मृतक के परिवार को पुलिस सुरक्षा प्रदान की गई है।



और भी पढ़ें :