लव जिहाद के लिए हो रही विदेशी फंडिंग, मेघालय से आई युवती से दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार

में एक बार फिर का मामला सामने आया है। की रहने वाली एक युवती को जबरन नशे की गोलियां खिलाकर 4 माह तक बंधक बनाकर दुष्कर्म किया गया। इस मामले की शिकायत पीड़िता ने पुलिस से की तो हड़कंप मच गया। पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। ने आरोपी को कर जेल भेज दिया है और पीड़िता के परिवार और को भी सूचना दे दी।
वहीं इस मामले में हिंदू संगठन भी युवती के साथ खड़े हो गए हैं, उनका कहना है कि विदेशी फंडिंग के जरिए लव जिहाद फैलाया जा रहा है। धर्म परिवर्तन में फेल होने पर ये जिहादी पीड़िता को मौत के घाट उतार देते हैं। मेघालय की रहने वाली युवती नौकरी की तलाश में मौसी के घर दिल्ली आई थी। पीड़िता को एक कॉल सेंटर में नौकरी मिल गई। यहीं उसकी मुलाकात मेरठ के रहने वाले अदनान से हुई।

अदनान भी यहीं काम करता था, पीड़िता की दोस्ती इस गैर समुदाय के युवक अदनान से हुई। इसी बीच लॉकडाउन हो गया, अदनान उसे बहला-फुसलाकर मेरठ अपने घर ले आया। युवती का आरोप है कि मेरठ लाकर उसके साथ मारपीट की गई, उसे नशे की गोलियां देकर अदनान ने यौन शोषण किया।
Meerut Love Jihad" width="740" />

आरोपी अदनान ने पीड़िता का मोबाइल भी तोड़ दिया, ताकि वह अपनी आप बीती किसी को बता न सके। आरोपी युवती को नशे की गोलियां खिलाता और खुद भी खाता था। इसके बाद वह दुष्कर्म करता था। अदनान की मारपीट और व्यवहार से परेशान युवती ने किसी तरह अपने परिवार से फोन पर संपर्क साधा। मां से कहा कि किसी भी हालत में उसे मेरठ आकर ले जाएं।
अपनी बेटी की दर्दनाक कहानी सुनकर मां का कलेजा पसीज गया, मां ने मेघालय में एफआईआर दर्ज कराई। मेघालय पुलिस ने मेरठ पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही देहली गेट पुलिस ने गुरुवार देर रात युवती को बरामद कर लिया और आरोपी अदनान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। मेरठ पुलिस ने बयान दर्ज कर युवती का मेडिकल परीक्षण कराया है।
पीड़िता के मुताबिक दिल्ली में वह जिस ऑफिस में काम कर रही थी, वह लॉकडाउन में बंद हो गया था। जिसके चलते आरोपी उसे जबरन मेरठ ले आया। कई बार आरोपी के चंगुल से छूटने का प्रयास किया। लेकिन वह कामयाब नहीं हो सकी। पुलिस का दावा है कि आरोपी के घर से नशे की गोलियां बरामद हुई हैं।

मामला दो संप्रदायों से जुड़ा होने के कारण पुलिस फूंक-फूंक कर कदम रख रही है। सभी बिंदुओं की बारीकी से जांच कर रही है। पुलिस ने पीड़िता के परिजनों को इसके बारे में जानकारी दी। युवक के दूसरे संप्रदाय का होने से पीड़ित परिवार का आक्रोश और भी बढ़ गया। वह बेटी को लेने मेघालय से मेरठ आ रहे हैं।

इस बीच हिंदू संगठनों में भी रोष है, उनका कहना है कि मेरठ लव जिहाद की मंडी बन गया है। भोली-भाली लड़कियों को मुस्लिम युवक अपने जाल में नाम बदलकर फंसाते हैं, फिर उन्हें धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर करते हैं। वह धर्म न बदलने पर उनकी हत्या तक कर देते हैं।

लव जिहाद का यह पहला मामला नया नहीं है, कुछ समय पहले मेरठ के एक लड़के ने पंजाब की एक पढ़ी-लिखी युवती को झूठ बोलकर फंसाया था। युवती को जब पता चला कि युवक मुस्लिम है तो उसने विरोध किया, कुछ दिन पहले मेरठ के भूड़भराल में भी गाजियाबाद की युवती का धर्म परिवर्तन न करने पर हत्या हुई है।
मेरठ में मुस्लिम युवक बाहर से युवतियों को प्रेमपाश में फंसाकर लाते हैं। लेकिन राज खुलने पर अपने धर्म में लाने की कोशिश करते हैं, जिसमें विफल होने पर निर्ममता से उनकी हत्या कर शव को ठिकाने लगा देते हैं। पुलिस बाद में आरोपी को गिरफ्तार करती है और जेल भेज देती है, लेकिन कुछ समय बाद ये जमानत पर छूट जाते हैं। ऐसे लव जिहाद करने वालों के लिए फांसी की सजा होनी चाहिए, जिससे आगे कोई ऐसा करने से पहले दस बार सोचे।



और भी पढ़ें :