Weather Alert: दिल्ली और गुजरात में हुई भारी बारिश, यूपी-छत्तीसगढ़ में वर्षा की संभावना

Last Updated: गुरुवार, 2 सितम्बर 2021 (08:29 IST)
नई दिल्ली। उत्तरी मध्य महाराष्ट्र पर बना कम दबाव का क्षेत्र कमजोर हो गया है। एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उत्तरी मध्य महाराष्ट्र और इससे सटे के दक्षिणी हिस्सों पर बना हुआ है। मानसून की अक्षीय रेखा बड़ौदा, अकोला, रामागुंडम, कलिंगपट्टनम से होते हुए पूर्व की ओर बंगाल की पूर्वी मध्य खाड़ी की ओर जा रही है।
ALSO READ:

दिल्ली में बारिश से सड़कें बनीं तालाब, लोग परेशान, देखें भयावह तस्वीरें...

स्काईमेट के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान दक्षिण गुजरात और उत्तरी कोंकण और गोवा में मध्यम से के साथ कुछ स्थानों पर बहुत भारी बारिश हुई। इन इलाकों में मानसून अति सक्रिय था। पूर्वी राजस्थान, दिल्ली एनसीआर, गुजरात क्षेत्र के कुछ हिस्सों, मध्य महाराष्ट्र, गोवा और तेलंगाना के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश और कुछ स्थानों पर भारी बारिश हुई।
हरियाणा, दक्षिण और पश्चिम मध्यप्रदेश, सौराष्ट्र और कच्छ, तटीय आंध्रप्रदेश, छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों, असम, मेघालय, उपहिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम और पूर्वोत्तर बिहार के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई है। जम्मू-कश्मीर, हिमाचलप्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब के कुछ हिस्सों, उत्तरप्रदेश, ओडिशा, गंगीय पश्चिम बंगाल, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, लक्षद्वीप और शेष पूर्वोत्तर भारत में एक या दो स्थानों पर हल्की बारिश हुई।


अगले 24 घंटों के दौरान, मध्य महाराष्ट्र, उत्तरी कोंकण और गोवा, गुजरात, दक्षिण और दक्षिण-पूर्व राजस्थान, उपहिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम के कुछ हिस्सों, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और तेलंगाना और आंध्रप्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है।
पूर्वोत्तर भारत के बाकी हिस्सों, उत्तरप्रदेश, बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, तमिलनाडु, आंतरिक कर्नाटक, केरल, दक्षिण कोंकण और गोवा, दिल्ली और एनसीआर और उत्तराखंड के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक दो स्थानों पर कुछ देर के लिए तेज बारिश हो सकती है। जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, उत्तर-पश्चिम और पश्चिमी राजस्थान और लक्षद्वीप में हल्की बारिश संभव है।

जमकर होगी बारिश: भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) का कहना है कि अगस्त माह के दौरान सामान्य से 24 प्रतिशत कम बारिश दर्ज की गई थी लेकिन देश में सितम्बर में सामान्य से अधिक बारिश होने का अनुमान है। आईएमडी के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने बुधवार को बताया कि सितम्बर में मध्यभारत के कई हिस्सों में सामान्य से अधिक बारिश होने की संभावना है। मानसून की कमी अब 9 प्रतिशत रह गई है और सितम्बर के दौरान अच्छी वर्षा होने से इसमें और कमी आ सकती है।



और भी पढ़ें :