दिल्ली में भारी बारिश से जनजीवन अस्तव्यस्त, टूटा 12 साल का रिकॉर्ड

पुनः संशोधित बुधवार, 1 सितम्बर 2021 (11:28 IST)
नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार को सुबह भारी होने से निचले इलाकों में घुटनों तक पानी भर गया और शहर के कई हिस्सों में यातायात बाधित हो गया। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अधिकारियों ने बताया कि सफदरजंग वेधशाला में बुधवार को सुबह साढ़े आठ बजे तक, बीते 24 घंटों में 112.1 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई जो 12 वर्षों में सबसे अधिक है।
इससे पहले 2010 में राजधानी में 20 सितंबर को 110 मिमी बारिश दर्ज की गयी थी। लोधी रोड, रिज, पालम तथा आयानगर वेधशालाओं ने सुबह साढ़े आठ बजे तक, बीते 24 घंटों में क्रमश: 120.2 मिमी, 81.6 मिमी, 71.1 मिमी और 68.2 मिमी बारिश दर्ज की।

दिल्ली में मंगलवार को सुबह साढ़े 8 बजे से दोपहर 2:30 बजे तक महज 6 घंटों में 84 मिमी बारिश हुई जिससे सड़कों पर जलभराव हो गया और आईटीओ, आईपी एस्टेट पुल के पास रिंग रोड, धौला कुआं और रोहतक रोड पर भारी यातायात जाम लग गया।
मौसम विभाग ने बुधवार को सुबह छह बजे दिल्ली-एनसीआर में ‘‘मध्यम बारिश’’ तथा कुछ स्थानों पर ‘‘भारी बारिश’’ का अलर्ट जारी किया था। अधिकारियों ने बताया कि सफदरजंग वेधशाला ने सुबह साढ़े पांच बजे से साढ़े आठ बजे तक 28 मिमी बारिश दर्ज की। मौसम विभाग ने कहा था कि बारिश से निचले इलाके और सड़कें जलमग्न हो सकती हैं तथा प्रमुख सड़कों पर यातायात बाधित हो सकता है।

दिल्ली यातायात पुलिस ने भारी जलभराव के कारण प्रताप नगर की ओर जाने वाले आजाद मार्केट सबवे पर यातायात बाधित होने का परामर्श जारी किया है। उसने कहा कि जलभराव के कारण जखीरा अंडरपास भी बंद है। मौसम विभाग ने दिन में और बारिश होने की संभावना जतायी है।



और भी पढ़ें :