मध्यप्रदेश उपचुनाव में 12 मंत्रियों समेत ज्योतिरादित्य सिंधिया की प्रतिष्ठा भी दांव पर !

शिवराज सरकार के 12 मंत्रियों की किस्मत का फैसला कर रहे है वोटर

Author विकास सिंह| Last Updated: मंगलवार, 3 नवंबर 2020 (10:12 IST)
मध्यप्रदेश में आज 28 सीटों पर हो रही वोटिंग में शिवराज कैबिनेट के एक दर्जन मंत्रियों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। सुबह 7 बजे से शुरु हुए मतदान में मतदाता उन 12 मंत्रियों की किस्मत का फैसला ईवीएम का बटन दबाकर कर रहे है, जो ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए थे।
इसके साथ बीच चुनाव में संवैधानिक बाध्यता के चलते अपना मंत्री पद छोड़ने को मजबूर हुए सांवेर से भाजपा उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहे तुलसी सिलावट और सुरखी विधानसभा क्षेत्र से गोविंद सिंह राजपूत की किस्मत का फैसला भी आज वोटर कर रहे है।
वर्तमान मंत्री जो चुनावी मैदान में- उपचुनाव में जिन 12 मंत्रियों के भाग्य का फैसला वोटर
कर रहे है उसमें ग्वालियर से प्रद्युमन सिंह तोमर, डबरा से इमरती देवी, सांची से प्रभुराम चौधरी,बमोरी‌ से‌‌ महेंद्र ‌सिंह सिसौदिया, सुवासरा से हरदीप सिंह डंग,बदनावर से राजवर्धन सिंह दत्तीगांव, अनूपपुर से बिसाहूलाल सिंह,सुमावली से एंदल सिंह कंसाना,मुरैना से मंत्री रघुराज सिंह कंसाना,दिमनी से गिरिराज दंडोतिया,मेहगांव से ओपी एस भदौरिया, मुंगावली से बृजेंद्र सिंह यादव शामिल है।
सिंधिया की भी प्रतिष्ठा दांव पर- उपचुनाव की आज हो रही वोटिंग में उम्मीदवारों के साथ-साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया की प्रतिष्ठा भी दांव पर लगी है। मार्च से प्रदेश की राजनीति के केंद्र में रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया की भविष्य की राजनीति को बहुत कुछ आज हो रही वोटिंग के आने वाले नतीजे तय करेंगे। ग्वालियर-चंबल की 16 सीटों पर ‘महाराज’ के साथ-सिंधिया घराने की पूरी प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है। अपने समर्थकों को जिताने के साथ-साथ खुद की प्रतिष्ठा बचाने के लिए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी थी।



और भी पढ़ें :