COVID-19 : Corona से जान गंवाने वाले 700 रेलकर्मियों के परिवारों को राहत देने की राज्यसभा में हुई मांग

Last Updated: शुक्रवार, 19 मार्च 2021 (16:28 IST)
नई दिल्ली। राज्यसभा में शुक्रवार को भाजपा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी के दौरान रेलवे के करीब 700 कर्मचारियों की होने का जिक्र करते हुए उनके परिवारों को पर्याप्त राहत मुहैया कराने की मांग की।
सिंधिया ने प्रश्नकाल के दौरान पूरक सवाल करते हुए कहा कि पिछले साल कोविड महामारी के दौरान प्रवासी लोगों को उनके घरों तक पहुंचाने के क्रम में रेलवे के 700 सदस्यों की मौत हो गई।

इसके जवाब में रेलमंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि रेलवे में इस संबंध में सुस्थापित व्यवस्था है और उनका पालन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पात्र होने पर अनुकंपा के आधार पर परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने का भी प्रावधान है।
उन्होंने कहा कि सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के लागू हो जाने के बाद मुआवजा राशि में भी खासी वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा कि कोविड महामारी के कारण भय और डर के माहौल में रेलकर्मियों ने देश की सेवा की, जिस पर पूरे भारत को गर्व है।

गोयल ने कहा कि आरपीएफ कर्मियों के अलावा रेलवे के स्वास्थ्यकर्मियों को भी कोविड टीके लगाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि आगे रेल के अन्य कर्मचारियों को भी टीके लगाने पर ध्यान दिया जाएगा।(भाषा)



और भी पढ़ें :