Budget Ground Report : महिला सुरक्षा और रोजगार के अवसर बढ़ाने वाला होना चाहिए बजट

Budget
Author विकास सिंह| Last Updated: मंगलवार, 28 जनवरी 2020 (08:04 IST)
वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण एक फरवरी को संसद में अपना दूसरा आम बजट पेश करेगी। वित्तमंत्री ऐसे समय बजट पेश करने जा रही जब आर्थिक मोर्चे पर देश कई सवालों से जूझ रहा है। विकास दर में लगातार गिरावट से मंदी जैसे हालात बन गए है और बेरोजगारी के आंकड़ों में तेजी से इजाफा हो रहा है। ऐसे में आम बजट को लेकर देश के युवा क्या सोचते है इसको लेकर वेबदुनिया ने अलग अलग सेक्टर के युवाओं से बातकर उनसे ये जनाना चाहा कि उनको बजट से क्या उम्मीदें है।

महिला सुरक्षा पर हो फोकस – राजस्थान से आकर भोपाल में पढ़ाई करने वाली स्टूडेंट साक्षी नागर कहती हैं कि बजट में वित्तमंत्री को महिला सशक्तिकरण पर विशेष फोकस करना चाहिए। वह कहती हैं आज जिस तरह महिलाओं खासकर कॉलेज में पढ़ने वाली लड़कियों के खिलाफ अपराध के मामलों में तेजी से इजाफा हुआ उसके बाद महिला सुरक्षा के बजट में महिला वित्तमंत्री को बड़े एलान करने चाहिए। वहीं उनकी दोस्त और पश्चिम बंगाल से आकर भोपाल में पढ़ाई करने वाली नेहा गुप्ता भी अपनी दोस्त की बात का समर्थन करते हुए कहती हैं कि महिला सुरक्षा के लेकर निर्भया फंड बनाने जैसे कुछ बड़े एलान वित्तमंत्री को इस बजट में भी करना चाहिए।


युवाओं के लिए बढ़े के अवसर – वेबदुनिया से बजट पर चर्चा करते हुए स्टूडेंट नेहा गुप्ता कहती हैं कि लगातार इकोनॉमी में जो स्लोडाउन चल रहा है उसको दूर करने के लिए वित्त मंत्री को बड़े एलान करने होंगे। वह कहती हैं कि लगातार इकोनॉमी में स्लोडाउन के चलते युवाओं के सामने रोजगार का संकट खड़ा हो गया है और सरकार को इस ओर ध्यान देना चाहिए। वह कहती हैं बजट में युवाओं के शिक्षा से जुड़े बजट आवंटन को बढ़ाना चाहिए। नेहा ये भी कहती हैं कि बजट में महंगाई को रोकने के लिए वित्तमंत्री को तुरंत बड़े एलान करना चाहिए जिससे रोजमर्रा के उपयोग में आने वाली चीजों के दाम कम हो सके।

स्टार्ट-अप को बढ़ावा देने वाला हो बजट – लंबे समय तक प्राइवेट सेक्टर में काम कर चुके युवा मनुज भारद्धाज कहते हैं उनको उम्मीद है कि बजट में वितमंत्री स्टार्टअप को लेकर कुछ बड़े एलान करेगी। वह कहते हैं कि आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रेरणा से बड़ी संख्या में यूथ अपना स्टार्टअप शुरु कर रहा है तो उसे सरकार के खास मदद नहीं मिल पा रही है जिसक चलते उसको काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

मनुज कहते हैं कि वित्त मंत्री को बजट में कुछ इस सेक्टर से जुड़े कुछ ऐसे एलान करने चाहिए जिससे युवाओं को अपने स्टार्टअप के लिए आसानी से पर्याप्त पैसा मिल सके। वहीं मनुज के दोस्त सौमिल जैन कहते हैं कि स्टार्टअप शुरु होने बहुत हद तक रोजगार की समस्या हल हो जाएगी। वह कहते हैं कि वित्त मंत्री को बजट में ऐसी घोषणा करने चाहिए जिससे युवाओं को अपना स्टार्टअप शुरु करने के लिए बैंकों से आसानी से लोन मिले सके।

युवाओं पर फोकस हो बजट – रिसर्च स्कॉलर राजकुमार पाल बजट पर चर्चा के दौरान कहते हैं कि वित्त मंत्री के सामने सबसे बड़ी चुनौती बेरोजगारी की समस्या से पार पाना है। वह कहते हैं आज बेरोजगारी के चलते पूरी पारिवारिक संरचना प्रभावित हो रही है। वह कहते हैं कि ऐसे समय जब युवा बजट में युवाओं को खासा टारगेट करना चाहिए और उसके लिए बड़े एलान करना चाहिए।

वह कहते हैं कि आज युवाओं की आत्महत्या के लिए बेरोजगारी एक बड़ा कारण साबित हो रही है। वह कहते हैं कि आज ऐसा माहौल बन गया है कि देश में बाहर की कंपनिया निवेश के नहीं आ रही है और देश की कंपनिया नए निवेश के लिए तैयार नहीं हो रही है जिससे रोजगार के अवसर दिन प्रतिनदिन बड़ी तदाद में कम होते जा रहे है।



और भी पढ़ें :