1. समाचार
  2. रूस-यूक्रेन वॉर
  3. न्यूज़ : रूस-यूक्रेन वॉर
  4. vladimir putin oversees drills of nuclear forces
Written By
Last Updated: बुधवार, 26 अक्टूबर 2022 (19:15 IST)

Russia-Ukraine war update : क्या रूस ने कर ली है यूक्रेन पर परमाणु हमले की प्लानिंग?

मास्को/कीव। Russia-Ukraine war update : रूस-यूक्रेन में करीब 8 महीने से जंग चल रही है। अब यह युद्ध बड़े खतरनाक मोड़ पर आ चुका है। इस बीच खबरें आ रही है कि रूस यूक्रेन के खिलाफ परमाणु बम का इस्तेमाल कर सकता है। रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (vladimir putin) ने सुरक्षा अधिकारियों के साथ बैठक की। साथ ही पुतिन ने परमाणु बम के अभ्यास को भी देखा। खबरों के मुताबिक कीव में भी अलर्ट साइरन बज रहे हैं। भारत ने यूक्रेन-रूस के युद्ध पर चिंता जताई है।
यूक्रेन की परमाणु ऊर्जा एजेंसी ने रूस के इस दावे को खारिज किया कि कीव रेडियोधर्मी उपकरण तथाकथित ‘डर्टी बम’ के जरिए उसे उकसाने की कोशिश कर रहा है।
पुतिन ने देखा अभ्यास : रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने बुधवार को देश के सामरिक परमाणु बल का अभ्यास देखा जिसमें बैलिस्टिक और क्रूज मिसाइलों के प्रक्षेपण आदि शामिल थे। क्रेमलिन ने इस आशय की जानकारी दी।
 
रूस के रक्षा मंत्री सेरगेई शोईगु ने पुतिन को बताया कि रूस पर परमाणु हमला होने की स्थिति में उसके (रूस) द्वारा ‘बड़े पैमाने पर परमाणु हमला’ करने का अभ्यास किया गया।
 
यूक्रेन में रूसी कार्रवाई को लेकर रूस और पश्चिमी देशों के बीच भीषण तनाव की पृष्ठभूमि में यह अभ्यास हुआ है। क्रेमलिन ने एक बयान में कहा कि अभ्यास के लिए तय सभी लक्ष्य प्राप्त कर लिए गए और दागी गई सभी मिसाइलें निशाने पर लगीं।

40 गांवों को बनाया निशाना : रूस ने गत एक दिन में यूक्रेन के 40 से अधिक गांवों को निशाना बनाया है। यूक्रेन के अधिकारियों ने बुधवार को यह दावा करते हुए कहा कि इन हमलों में दो लोगों की मौत हो गई और हवाई हमले के भय से लोग रात बंकरों में बिता रहे हैं।
 
यूक्रेन के सशस्त्र बल जनरल स्टाफ ने बताया कि रूसी बलों ने यूक्रेनी ठिकानों पर पांच रॉकेट हमले, 30 हवाई हमले और बहु प्रक्षेपण रॉकेट प्रणाली से 100 से अधिक हमले किए।
 
ये हमले ऐसे समय हुए हैं जब यह आशंका प्रबल होती जा रही है कि मात मिलने की वजह से रूस उस उपकरण का इस्तेमाल कर सकता है जिससे रेडियोधर्मी कचरा फैलता है ताकि दहशत का महौल बना सके।
 
रूस के रक्षा मंत्री ने भारत और चीन के अपने समकक्षों से बात कर कथित ‘डर्टी बम’ के इस्तेमाल की यूक्रेन की योजना को लेकर अपनी चिंता साझा की। हालांकि, रूस के इस दावे को यूक्रेन और पश्चिमी देशों ने खारिज किया है।
 
रूस के रक्षा मंत्रालय के मुताबिक, रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगु ने यूक्रेन द्वारा ‘संभावित तौर पर डर्टी बम के इस्तेमाल सहित’ उकसावे की कार्रवाई को लेकर अपने भारतीय समकक्ष राजनाथ सिंह और चीनी समकक्ष वेई फेंगी से बातचीत की।
 
भारत और चीन के रक्षामंत्रियों से बात करने से पहले शोइगु ने रविवार को ब्रिटेन, फ्रांस, तुर्किये और अमेरिका के समकक्षों के साथ बातचीत कर यही दावा किया था। हालांकि, ब्रिटेन, फ्रांस और अमेरिका ने शोइगु के दावे को खारिज करते हुए इसे ‘सफेद झूठ’ करार दिया।
 
पश्चिम द्वारा रूसी दावे को खारिज किए जाने के बावजूद क्रेमिलन के प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोव ने जोर देकर कहा, ‘‘हमारे पास सूचना है कि यूक्रेन में ऐसे हमलों की तैयारी चल रही है।’’
 
पेस्कोव ने कहा कि हम विश्व समुदाय को अपनी जानकारी और कीव में मौजूद सरकार के गैर जिम्मेदाराना कदम को रोकने के लिए उठाए जाने वाले कदम से अवगत कराना जारी रखेंगे।’’
 
यूक्रेन के अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि रूस ने नीपरो शहर के गैस स्टेशन को निशाना बनाया जिसमें एक गर्भवती महिला सहित दो लोगों की मौत हो गई। नीपरोपेत्रोवस्क के गवर्नर वैलेंटाइन रेज्निचेंको ने बताया कि हमले में चार लोग घायल हुए हैं और अस्पताल में भर्ती हैं।
 
जारी रहे हमले : दक्षिणी बंदरगाह शहर मिकोलाइव के नजदीक युद्ध चल रहा है और लोगों को खाने-पीने के सामान के लिए कतार में खड़ा देखा जा रहा है। स्थानीय प्रशासन ने बताया कि शहर में मंगलवार को हुए रूसी हमले में कई इमारतों को नुकसान पहुंचा और अब तक स्पष्ट नहीं है कि कोई हताहत हुआ है या नहीं। अधिकारियों ने कहा कि बुधवार की सुबह भी मिसाइलों से हमले जारी रहे।
अमेरिका ने दी चेतावनी : अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने रूस को यूक्रेन में परमाणु हथियारों का इस्तेमाल करने के खिलाफ चेतावनी देते हुए कहा कि यह ‘‘अत्यंत गंभीर गलती’ होगी। बाइडन प्रशासन ने पहले कहा था कि रूस ने नोटिस दिया है कि उसका अपनी परमाणु क्षमताओं का नियमित अभ्यास करने का इरादा है।  
 
यूक्रेन ने कहा कि रूसी सेना अपने कब्जे वाले यूरोप के सबसे बड़े परमाणु ऊर्जा संयंत्र में गुप्त रूप से निर्माण कार्य कर रही है और अपनी गतिविधि से ध्यान हटाने के लिए वह यूक्रेन पर आरोप लगा रही है। बाइडन ने कहा कि मैं यह कहना चाहता हूं: यदि रूस सामरिक परमाणु हथियार का इस्तेमाल करता है, तो यह अत्यंत गंभीर गलती होगी।’
 
अमेरिका के राष्ट्रपति से सवाल किया गया था कि क्या रूस ‘डर्टी बम’ या परमाणु हथियार का इस्तेमाल करने की तैयारी कर रहा है। बाइडन ने कहा, ‘‘मैं आपको इस बात की गारंटी नहीं देता हूं कि यह वास्तविकता को छुपाने के लिए चलाया गया कोई अभियान है या नहीं। मुझे नहीं पता, लेकिन यह बड़ी भूल होगी।  एजेंसियां  Edited by Sudhir Sharma
ये भी पढ़ें
पालघर में रासायनिक कारखाने में विस्फोट, 3 की मौत, 12 घायल