1. समाचार
  2. रूस-यूक्रेन वॉर
  3. न्यूज़ : रूस-यूक्रेन वॉर
  4. ukraines zelensky sets conditions for genuine peace talks with russia
Written By
पुनः संशोधित मंगलवार, 8 नवंबर 2022 (20:51 IST)

तो रूस-यूक्रेन में खत्म हो सकती है जंग, जेलेंस्की ने पुतिन को बताई अपनी शर्तें

कीव। Russia-Ukraine war updates : रूस-यूक्रेन में करीब 8 माह से जंग चल रही है। जंग के बीच वोलोदिमिर जेलेंस्की का बड़ा बयान सामने आया है। जेलेंस्की ने शांति वार्ता की संभावना के संकेत दिए हैं। अमेरिका में महत्वपूर्ण चुनावों की पूर्व संख्या पर यूक्रेन के राष्ट्रपति ने रूस के साथ शांति वार्ता की संभावना के संकेत दिए हैं और यह राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ बातचीत से इनकार के उनके पूर्व के रुख से अलग है।
 
वोलोदिमिर जेलेंस्की ने सोमवार देर रात अंतरराष्ट्रीय समुदाय से 'रूस को वास्तविक शांति वार्ता के लिए मजबूर करने' का आग्रह किया और बातचीत के लिए अपनी सामान्य शर्तों को सूचीबद्ध किया : यूक्रेन की सभी कब्जे वाली भूमि की वापसी, युद्ध से हुई क्षति के लिए मुआवजा और युद्ध अपराधों का मुकदमा चलाने को कहा।
 
यह कम से कम उस व्यक्ति के बयानों में बदलाव है जिसने सितंबर के अंत में पुतिन के साथ 'बातचीत को असंभव' बताते हुए एक शपथ-पत्र पर हस्ताक्षर किए थे। उनकी शर्तें देखकर लगता नहीं कि मास्को इसके लिए राजी होगा। ऐसे में यह देखना अहम होगा कि वे बातचीत की दिशा में आगे कैसे बढ़ते हैं।
 
पश्चिमी हथियार और सहायता यूक्रेन की रूस के आक्रमण से लड़ने की क्षमता के लिए महत्वपूर्ण रहे हैं। शुरू में माना जा रहा था कि यूक्रेन इस युद्ध में लंबे समय तक टिक नहीं पाएगा। अमेरिका में मंगलवार को हो रहे मध्यावधि चुनाव हालांकि यूक्रेन के लिए वॉशिंगटन के भविष्य के राजनीतिक और वित्तीय समर्थन की राशि और स्वरूप को परिभाषित करेंगे।
 
संसद पर अगर रिपब्लिकन पार्टी का नियंत्रण होता है तो अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के प्रशासन के लिये यूक्रेन की सहायता के लिये सैन्य और अन्य सहायता के लिए बड़े पैकेजों को आगे बढ़ाना मुश्किल हो सकता है।
 
रूस और यूक्रेन ने युद्ध की शुरुआत में बेलारूस और तुर्किये में कई दौर की बातचीत की थी। युद्ध शुरू हुए अब करीब नौ महीने हो रहे हैं। मार्च में इस्तांबुल में प्रतिनिधिमंडलों की पिछली बैठक में कोई परिणाम नहीं निकलने के बाद वार्ता रुक गई थी।
 
ज़ेलेंस्की ने सोमवार को कहा कि कीव ने 'बार-बार बातचीत का प्रस्ताव दिया है और उसके बदले हमें हमेशा नए आतंकवादी हमलों, गोलाबारी या ब्लैकमेल के रूप में रूसी प्रतिक्रियाएं मिलीं'। भाषा
ये भी पढ़ें
Congress Twitter News: कांग्रेस को बड़ी राहत, ट्विटर हैंडल ब्लॉक करने का आदेश कर्नाटक हाईकोर्ट ने किया रद्द