Shiv Sena: योगी की ‘जनसंख्‍या नीति’ का स्‍वागत, 8 राज्‍यों में हिंदू हो गए ‘अल्पसंख्यक’

Last Updated: रविवार, 18 जुलाई 2021 (19:09 IST)
कल तक जो भाजपा और शि‍वसेना आमने-सामने थी, अब वे करीब आती नजर आ रही हैं। शि‍वसेना ने अब यूपी के सीएम योगी आदित्‍यनाथ के जनसंख्‍या मसौदे की तारीफ करते हुए उसका स्‍वागत किया है।

संजय राउत ने पार्टी के मुखपत्र ‘सामना’ में लिखा कि जनसंख्या नियंत्रण पर योगी आदित्यनाथ के ड्राफ्ट का स्वागत किया है। उन्‍होंने कहा, मुख्यमंत्री योगी को इस कदम के लिए बधाई दी जानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि हालांकि इसे चुनावी फायदे के लिए पेश नहीं किया जाना चाहिए। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा बिल का विरोध करने पर राउत ने कहा कि अगर नीतीश कुमार कानून का विरोध करते हैं तो भाजपा को नीतीश कुमार सरकार से अपना समर्थन वापस लेना चाहिए।

महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना के एक साथ वापस आने की अफवाहों के बीच संजय राउत ने लिखा है कि बिहार और उत्तर प्रदेश दोनों को अधिक जनसंख्या के कारण नुकसान उठाना पड़ा है। लोगों को पलायन करना पड़ता है। लोग आजीविका की तलाश में दूसरे राज्यों में जा रहे हैं।

यह देखते हुए कि उत्तर प्रदेश और बिहार की आबादी लगभग 15 करोड़ है और अधिकांश लोग आजीविका की तलाश में दूसरे राज्यों में चले जाते हैं, राउत ने कहा कि इन राज्यों में जनसंख्या को नियंत्रित करने के लिए कानूनी कदम उठाए जाने चाहिए।

1947 के बाद भारत के धर्म-आधारित विभाजन का जिक्र करते हुए राउत ने लिखा कि हिंदुओं को धर्मनिरपेक्षतावादी बनने के लिए मजबूर किया गया, जबकि मुसलमानों और अन्य धर्मों के लोगों ने अपनी धार्मिक स्वतंत्रता का आनंद लिया। उन्होंने कहा, "ये लोग जनसंख्या नियंत्रण और परिवार नियोजन में विश्वास नहीं करते हैं। उनकी स्वतंत्रता की भावना एक से अधिक पत्नी रखने और बच्चों को जन्म देने में है।

देश की आबादी बढ़ी है लेकिन उनमें से अधिकतर अनपढ़ हैं और बेरोजगार हैं।' उन्होंने दावा किया कि आठ राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों में हिंदू अल्पसंख्यक हो गए हैं। राउत ने लिखा, "अवैध प्रवास (पड़ोसी बांग्लादेश से) के कारण, असम, पश्चिम बंगाल और बिहार में जनसंख्या जनसांख्यिकी बदल गई है।"



और भी पढ़ें :