1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. Supreme court's big decision regarding Rohingya community
Written By
पुनः संशोधित गुरुवार, 8 अप्रैल 2021 (17:08 IST)

सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, अवैध प्रवासी हैं रोहिंग्या, निर्धारित प्रक्रिया के बिना म्यांमार प्रत्यर्पित नहीं किए जाएंगे...

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने गुरुवार को कहा कि जम्मू में हिरासत में लिए गए रोहिंग्याओं को निर्धारित प्रक्रिया का पालन किए बिना म्यांमार प्रत्यर्पित नहीं किया जाएगा।

प्रधान न्यायाधीश एसए बोबडे की अध्यक्षता वाली एक पीठ ने उस याचिका पर यह आदेश पारित किया, जिसमें जम्मू में हिरासत में लिए गए रोहिंग्या शरणार्थियों को तुरंत रिहा करने और उन्हें म्यांमार प्रत्यर्पित करने से रोकने के लिए केंद्र को निर्देश देने के लिए अनुरोध किया गया था। केंद्र ने इससे पहले याचिका का विरोध करते हुए कहा था कि भारत अवैध प्रवासियों की राजधानी नहीं बन सकता।

सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता की तरफ से पेश अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने कहा कि रोहिंग्या बच्चों की हत्याएं कर दी जाती है और उन्हें यौन उत्पीड़न का सामना करना पड़ता है तथा म्यांमार की सेना अंतरराष्ट्रीय मानवीय कानूनों का पालन करने में नाकाम रही है।(भाषा)
ये भी पढ़ें
अनिल देशमुख को झटका, CBI जांच रोकने की याचिका सुप्रीम कोर्ट ने की खारिज