पाकिस्तान ने फिर गोलीबारी की, 2020 में 3589 बार तोड़ा संघर्षविराम

पुनः संशोधित शनिवार, 17 अक्टूबर 2020 (18:28 IST)
जम्मू। जम्मू कश्मीर के कठुआ जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा (IB) पर अग्रिम चौकियों और गांवों पर पाकिस्तान रेंजर्स ने रातभर बिना उकसावे के गोलीबारी कर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया।

अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि पंसार-मनयारी क्षेत्र में शुक्रवार की रात लगभग नौ बजकर 15 मिनट पर गोलीबारी शुरू हुई और यह रातभर चली, जिस वजह से स्थानीय लोगों को भूमिगत बंकरों में शरण लेनी पड़ी।
अधिकारियों ने बताया कि आईबी की सुरक्षा में तैनात सीमा सुरक्षा बल (BSF) के जवानों ने जवाबी कार्रवाई की। भारत की ओर किसी के हताहत होने के बारे में कोई सूचना नहीं है। हालांकि उन्होंने बताया कि हज्जाम की एक दुकान को कुछ नुकसान पहुंचा है। दोनों पक्षों के बीच सीमा पार गोलीबारी सुबह लगभग 5 बजकर 55 मिनट पर बंद हुई।
अधिकारियों ने बताया कि मनयारी गांव का रहने वाला 48 वर्षीय एक व्यक्ति मामूली रूप से घायल हुआ है। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, इस वर्ष 6 अक्टूबर तक नियंत्रण रेखा (LOC) और आईबी के पास पाकिस्तान 3,589 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर चुका है, जबकि 2019 में यह संख्या 3,168 थी।

सेना ने नष्ट किए मोर्टार के 5 गोले : दूसरी ओर, के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा के पास विभिन्न गांवों में पाकिस्तान की ओर से दागे गए 120 मिलीमीटर मोर्टार के 5 गोलों को सेना ने शनिवार को नष्ट कर दिया।
अधिकारियों ने कहा कि यह गोले बलनोई सेक्टर के विभिन्न गांवों में आवासीय क्षेत्रों के पास पाए गए थे। ग्रामीणों द्वारा सूचना दिए जाने के बाद मोर्टार के गोलों को बम निरोधक दस्ते ने जंगल में ले जाकर उनमें नियंत्रित विस्फोट कर उन्हें नष्ट कर दिया।

अधिकारियों ने कहा कि कभी-कभार गोले फटते नहीं हैं और स्थानीय लोगों द्वारा सूचना दिए जाने के बाद सेना के विशेषज्ञ इन्हें दूर ले जाकर निष्क्रिय या नष्ट कर देते हैं।



और भी पढ़ें :