Indore में Coronavirus से हुई मौतों को लेकर सामने आया डराने वाला आंकड़ा

पुनः संशोधित रविवार, 11 अप्रैल 2021 (18:20 IST)
इंदौर। Update : कोरोना के हॉटस्पॉट मध्यप्रदेश के जिले में अब तक कोविड-19 से 999 दर्ज हुई है। इसमें 50 प्रतिशत से ज्यादा वे मृतक शामिल है, जो मधुमेह (डायबिटीज़) और उच्च रक्तचाप (हाइपरटेंशन) से ग्रसित थे। उम्र के लिहाज से इन मृतकों में 41 से 60 वर्ष की आयु के 29 प्रतिशत और 61 से 80 वर्ष की आयु के 37 प्रतिशत से ज्यादा संक्रमित शामिल हैं।
ALSO READ:
छत्तीसगढ़ में माओवादी सरगना मुठभेड़ में ढेर, सिर पर घोषित था 1 लाख रुपए का इनाम
कोरोना कंट्रोल रूम के प्रभारी डॉ. अनिल डोंगरे ने बताया कि 24 मार्च 2020 को कोरोना के संक्रमण के दस्तक देने के बाद 11 अप्रैल 2021 की अवधि में कुल 999 मौतें आधिकारिक रिकॉर्ड पर दर्ज की जा चुकी हैं। इन मृतकों में 500 से ज्यादा वे लोग शामिल है, जिन्हें कोरोना संक्रमित होने के पहले मधुमेह (डायबिटीज) और उच्च रक्तचाप की समस्या थी। शेष मृतकों में अस्थमा और अन्य रोगों से ग्रस्त रोगी शामिल हैं।
डॉ. डोंगरे ने बताया इसी तरह उम्र श्रेणी के लिहाज से देखा जाए तो इन 999 मृतकों में सर्वाधिक 61 से 80 वर्ष की उम्र के 374 पुरुष और 163 महिला शामिल हैं। इस प्रकार 537 मृतक 61 से 80 वर्ष के कुल काल कवलित हो चुके हैं।

इसी क्रम में 41 से 60 वर्ष आयु के 235 पुरुष और 106 महिला यानी 341 मृतक शामिल हैं। इसके अलावा शून्य से 20 वर्ष की आयु के 1 पुरुष और 2 महिला सहित कुल 3 संक्रमित मृत हो चुके हैं। 21 से 40 वर्ष की उम्र के 31 पुरुष और 10 महिला सहित कुल 41 संक्रमितों को नहीं बचाया जा सका है। इसी क्रम में 80 वर्ष की वयोवृद्ध आयु के 54 पुरुष और 23 महिला समेत कुल 73 ने उपचार के दौरान दम तोड़ा है।
आधिकारिक जानकारी के अनुसार आगामी 19 अप्रैल तक लॉकडाउन वाले इंदौर जिले में शनिवार को 919 नए मामले सामने आए हैं। जिले में अब तक 9,86,831 संदेहियों के सैंपल जांचे गए है, इनमें 78,511 संक्रमित सामने आ चुके है। राहतभरी खबर है कि इनमें से इलाज के बाद 69,799 स्वस्थ हो चुके हैं। जिले में वर्तमान में एक्टिव केस की संख्या 77,713 है। जिला प्रशासन कोरोना से निदान, रोकथाम, उपचार और बचाव के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रहा है।



और भी पढ़ें :