Corona India Update: देश में संक्रमण के 3,68,147 नए मामले, 3417 और मरीजों की मौत

Last Updated: सोमवार, 3 मई 2021 (14:55 IST)
नई
दिल्ली। देश में सोमवार को कोविड-19 के 3,68,147 नए मामले आए तथा 3,417 और मरीजों की मौत हो गई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह 8 बजे अद्यतन किए गए आंकड़ों के मुताबिक नए मामलों के साथ संक्रमितों की कुल संख्या 1,99,25,604 जबकि मृतक संख्या 2,18,959 हो गई है। देश में 1 मई को संक्रमण के रिकॉर्ड 4,01,993 नए मामले आए थे, वहीं 2 मई को 3,92,488 मामले सामने आए।
ALSO READ:
देश में घातक हुई कोरोना की दूसरी लहर, पिछले 24 घंटे में 3 लाख 68 हजार नए मामले, 3417 लोगों की मौत

देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 34,13,642 हो गई है, जो संक्रमण के कुल मामलों का 17.13 प्रतिशत है, वहीं कोविड-19 से ठीक होने की दर 81.77 प्रतिशत हो गई है। मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक देश में 1,62,93,003 लोग ठीक हो चुके हैं जबकि मृत्यु दर 1.10 प्रतिशत है। देश में कोविड-19 के मरीजों की संख्या पिछले साल 7 अगस्त को 20 लाख को पार कर गई थी, वहीं कोविड-19 मरीजों की संख्या 23 अगस्त को 30 लाख, 5 सितंबर को 40 लाख और 16 सितंबर को 50 लाख के आंकड़े को पार कर गई थी।


इसके बाद 28 सितंबर को कोविड-19 के मामले 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख, 19 दिसंबर को 1 करोड़ और 19 अप्रैल को कोविड-19 के मामले 1.5 करोड़ से अधिक हो गए थे। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के मुताबिक 2 मई तक 29,16,47,037 नमूनों की जांच की गई है जिनमें से 15,04,698 नमूनों की रविवार को जांच की गई।

देश में पिछले 24 घंटे में संक्रमण से 3,417 लोगों की मौत हुई। इनमें से महाराष्ट्र में 669, दिल्ली में 407, उत्तरप्रदेश में 288, कर्नाटक में 217, छत्तीसगढ़ में 199, राजस्थान में 159, पंजाब में 157, गुजरात और तमिलनाडु में 153-153, हरियाणा में 145 और झारखंड में 115 लोगों की मौत हुई।


2,18,959 लोगों की मौत : देश में संक्रमण से कुल मिलाकर 2,18,959 लोगों की मौत हुई है। इनमें से महाराष्ट्र में 70,284, दिल्ली में 16,966, कर्नाटक में 16,011, तमिलनाडु में 14,346, उत्तरप्रदेश में 13,162, पश्चिम बंगाल में 11,539, पंजाब में 9,317 और छत्तीसगढ़ में 9,009 मरीजों की मौत हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि 70 प्रतिशत से अधिक मामलों में मौत अन्य गंभीर बीमारियों के कारण हुई है। (भाषा)



और भी पढ़ें :