पाकिस्तानी मूल की नीता कंवर बनीं राजस्थान में सरपंच

पुनः संशोधित शनिवार, 18 जनवरी 2020 (13:26 IST)
टोंक। राजस्थान में शुक्रवार को हुए पंचायत राज के प्रथम चरण के चुनाव में से आई सोढा निर्वाचित हुई हैं।

नामांकन पत्र भरने के बाद चर्चा में आई नीता टोंक जिले के नटवाड़ा ग्राम पंचायत की सरपंच चुनी गईं। उन्होंने 362 मतों से जीत हासिल की।

नीता कंवर मूल रूप से पाकिस्तान की नागरिक थीं। वह वर्ष 2001 में भारत में शिक्षा हासिल करने राजस्थान के जोधपुर में अपने चाचा के पास पाकिस्तान से भारत आई थीं।

अजमेर के सोफिया कॉलेज से स्नातक की डिग्री प्राप्त करने के बाद उनका विवाह नटवाड़ा प्रतिष्ठित परिवार के ठाकुर लक्ष्मण सिंह के बेटे पुण्य प्रताप सिंह से 2011 में हुआ, लेकिन उसे देश की नागरिकता हासिल करने में 18 वर्ष इंतजार करना पड़ा और सितंबर 2019 में उन्हें भारतीय नागरिकता मिल गई।

नीता कंवर के ससुर ठाकुर लक्ष्मण सिंह इस क्षेत्र से तीन बार सरपंच रह चुके हैं, लिहाजा उन्हें शुरू से ही राजनीतिक माहौल मिला। इस बार लॉटरी में नटवाड़ा सीट सामान्य महिला हुई तो ससुर ने इन्हें चुनाव में उतारने का फैसला किया।
स्थानीय नागरिकों ने भी उन पर भरोसा जताया और अब वह सरपंच बन गईं। जीतने के बाद नीता कहती हैं- गांव का विकास मेरी प्राथमिकता है, शिक्षा और स्वास्थ्य की दिशा में काम करने की बहुत जरूरत है।
अब नीता की जिंदगी में नया मोड़ आया है। उनके जीवन की नई इबारत की शुरुआत हो गई है। शिक्षा हासिल करने भारत आईं नीता ने शायद इस सबके बारे में सोचा भी नहीं होगा। यहां जनता ने उसे राजनीति की एक नई पारी शुरू करने का मौका दिया है, आगे वह कितना रास्ता तय करती है यह वक्त बताएगा।



और भी पढ़ें :