CM केजरीवाल ने की 'रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ' कैंपेन की घोषणा, बोले- हर साल हो सकती है 250 करोड़ रुपए की बचत

पुनः संशोधित बुधवार, 13 अक्टूबर 2021 (01:05 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। ने दिल्ली में को नियंत्रित करने के लिए आज 'रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ' कैंपेन की घोषणा की। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम ‘रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ’ कैंपेन 18 अक्टूबर से शुरू करने जा रहे हैं, लेकिन आप आज से ही रेड लाइट पर गाड़ी बंद करना शुरू कर दें।
हर दिल्लीवासी रेड लाइट पर गाड़ी बंद करके, हफ्ते में कम से कम एक या अधिक दिन अपनी गाड़ी का इस्तेमाल न करके और ग्रीन दिल्ली ऐप पर प्रदूषण फैलाने वालों की शिकायत करके वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं। अगर रेड लाइट पर गाड़ी बंद रखते हैं, तो साल में 250 करोड रुपए की बचत हो सकती है और 13-20 फीसदी तक प्रदूषण भी कम हो सकता है।

पराली जलाने से दिल्ली में प्रदूषण बढ़ने लगा है : मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज कहा कि मैं पिछले एक महीने से हर रोज दिल्ली के वायु प्रदूषण का डेटा ट्वीट कर रहा हूं। आपको दिखाने के लिए कि दिल्ली में रोज कितना प्रदूषण है। पिछले एक महीने में हमने देखा कि दिल्ली में इंडस्ट्री और वाहन प्रदूषण समेत सबका मिलाकर दिल्ली का अपना प्रदूषण सुरक्षित दायरे में है।

पिछले एक महीने से मैं आपको दिखाने के लिए यह ट्वीट कर रहा था। दिल्ली का वायु प्रदूषण पूरा साल सुरक्षित दायरे में रहता है। लेकिन इस वक्त (ठंड के मौसम में) प्रदूषण बढ़ जाता है। आपने देखा होगा कि पिछले तीन-चार दिन से वायु प्रदूषण बढ़ने लगा है। क्योंकि आसपास के राज्यों के अंदर वहां की सरकारों ने अपने किसानों की मदद नहीं की। इसलिए किसान न चाहते हुए भी अपनी-अपनी पराली जलाने के लिए मजबूर हैं। पराली जलनी चालू हो गई है।

सरकार ने दिल्लीवासियों के साथ मिलकर वायु प्रदूषण 25 फीसदी तक कम किया : मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जब से दिल्ली के अंदर आम आदमी पार्टी की सरकार बनी है। पिछले 7-8 साल के अंदर दिल्ली के अपने दो करोड़ दिल्ली के लोगों के साथ मिलकर 25 फीसदी तक वायु प्रदूषण को कम किया है। दिल्ली के लोगों ने बड़ी मेहनत की है। दिल्ली के लोगों ने बहुत ही सहयोग किया है। अब जब बाहर से पराली का प्रदूषण आने लगा है। तो हम कोशिश करें कि अपना दिल्ली का प्रदूषण और कम कर लें, ताकि हमारी सेहत ठीक रहे।

वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने में मदद करें : मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि आज मैं आपका सहयोग चाहता हूं कि हर दिल्लीवासी को भी अपने-अपने हिस्से का प्रदूषण कम करना है। हम सब किसी न किसी रूप में प्रदूषण फैलाते हैं। हम कुछ न कुछ ऐसा करते हैं, जिससे प्रदूषण पर फैलता है। अब जब दिल्ली में बाहर से प्रदूषण आ रहा है, तो उससे निपटने के लिए हम अपना प्रदूषण कम कर लें।

पड़ोसी राज्यों की सरकारों से तो हम कहते ही रहते हैं और केंद्र सरकार से भी कहते रहते हैं। हम अनुरोध करते रहते हैं कि हमने तो बायो डि-कंपोजर का इस्तेमाल कर लिया, आप भी कर लो, लेकिन वे नहीं कर रहे हैं और कब करेंगे, हमें पता नहीं है। इन सब के बीच हमें तो अपनी सेहत की चिंता है। इसलिए हम अपने हिस्से का प्रदूषण कम कर लें।

रेड लाइट पर गाड़ी बंद करने से तेल भी बचेगा और प्रदूषण भी नहीं होगा : मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि पिछले साल हम सब लोगों ने मिलकर ‘रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ’ कार्यक्रम चलाया था। इसके बड़े शानदार नतीजे आए थे। अक्सर रेड लाइट होने पर हम अपनी गाड़ी रोक लेते हैं, लेकिन गाड़ी का इंजन ऑन रखते हैं। इससे पेट्रोल-डीजल जलता रहता है।

कई बार रेड लाइट पर गाड़ियों की वजह से इतना प्रदूषण हो जाता है कि अगर आप वहां खड़े हो जाएं, तो आंखें जलने लग जाती हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि क्या हम हफ्ते में एक बार या एक से अधिक बार अपनी गाड़ी या स्कूटर का इस्तेमाल रोक नहीं सकते हैं। हम रोज दफ्तर, मार्केट या किसी भी चीज के लिए अपनी गाड़ी या स्कूटर लेकर घर से बाहर निकलते हैं।

अगर हम हफ्ते में एक बार ऐसा कर लें कि हम अपनी गाड़ी लेकर नहीं जाएंगे। हम या तो मेट्रो या बस से जाएंगे या फिर किसी के साथ गाड़ी शेयर कर लेंगे। अगर हम ऐसा करेंगे, तो विशेषज्ञों द्वारा बताया जा रहा है कि इससे प्रदूषण भी खूब कम होगा और खूब तेल भी बचेगा। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमने ग्रीन दिल्ली ऐप बनाया था।

अगर आपने अभी तक इसे डाउनलोड नहीं किया है, तो जरूर डाउनलोड कर लीजिए। साथ ही यह जिम्मेदारी लीजिए कि आप दिल्ली के अंदर कहीं पर भी प्रदूषण देखते हैं, जैसे- कोई ट्रक जा रहा है उससे बहुत प्रदूषण हो रहा है, किसी इंडस्ट्री से बहुत प्रदूषण हो रहा है या आप कहीं पर कूड़ा जलता हुआ देखते हैं, तो आप उसकी शिकायत ग्रीन दिल्ली ऐपर कीजिए। हमारी टीम तुरंत वहां पहुंच कर प्रदूषण करने वाली चीज को रोकेगी।




और भी पढ़ें :