जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों ने 29 दिनों में किया 50 आतंकियों का सफाया

Author सुरेश एस डुग्गर| Last Updated: सोमवार, 29 जून 2020 (10:58 IST)
जम्‍मू। कश्‍मीर में अब एक बार फिर से आतंकियों पर भारी साबित होने लगे हैं। पिछले 29 दिनों में उनके द्वारा मार गिराए गए 50 आतंकियों के आंकड़े से यह स्‍पष्‍ट होता है। आज भी 2 कमांडरों समेत 3 आतंकियों को मार डाला गया है।
अनंतनाग के रूनीपोरा इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच हुई मुठभेड़ में 3 आतंकी मारे गए हैं। मारे गए आतंकियों के पास से 1 और 2 पिस्तौलें बरामद की गई हैं। फिलहाल सर्च ऑपरेशन जारी है।
इलाके में आतंकियों की मौजूदगी की सूचना पर एसओजी, सेना की 19-आरआर (राष्ट्रीय राइफल्स) और सीआरपीएफ ने तलाशी अभियान शुरू किया था।
ALSO READ:
पुलिस का दावा, दक्षिण कश्मीर के त्राल में कोई हिजबुल आतंकवादी नहीं
इस दौरान खुद को घिरा देख आतंकियों ने सुरक्षाबलों की संयुक्त टीम पर फायरिंग करनी शुरू कर दी।
इसके बाद सुरक्षाबलों ने मोर्चा संभाला और कई घंटे चली मुठभेड़ में 3 आतंकियों को मार गिराया। मारे गए आतंकियों की पहचान अभी नहीं हो पाई है। इलाके में तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। बता दें कि दक्षिणी कश्मीर में इस महीने 13वीं मुठभेड़ हुई है जिसमें 36 आतंकियों का सफाया हुआ है जबकि पूरी कश्‍मीर वादी में 29 दिनों में 50 आतंकियों का सफाया किया जा चुका है।

डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा कि अनंतनाग में हुई मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के 2 आतंकी और हिजबुल कमांडर मसूद मारा गया है। उन्होंने कहा कि मसूद के मारे जाने के बाद जम्मू संभाग का डोडा जिला पूरी तरह से आतंकमुक्त हो गया है। बताया कि मसूद दुष्कर्म का भी आरोपी था, जो कि फरार चल रहा था। इसके बाद वह हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल हो गया और कश्मीर में आतंकी गतिविधियों को अंजाम दे रहा था।



और भी पढ़ें :