मंगलवार, 7 फ़रवरी 2023
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. प्रादेशिक
  4. 35th arrest in Uttarakhand in paper leak case
Written By एन. पांडेय
Last Updated: बुधवार, 7 सितम्बर 2022 (22:44 IST)

UKSSSC पेपर लीक मामले में स्पेशल टास्क फोर्स उत्तराखंड ने की 35वीं गिरफ्तारी

देहरादून। यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामले में स्पेशल टास्क फोर्स उत्तराखंड ने 35वीं गिरफ्तारी कर ली है। इसके साथ ही यूकेएसएसएससी की स्नातक स्तरीय परीक्षा पेपर लीक मामले में पूर्व में गिरफ्तार 4 अभियुक्तों की ज्युडिशियल रिमांड की कार्यवाही भी सचिवालय रक्षक परीक्षा लीक मुकदमे में की गई है। 
वन दरोगा ऑनलाइन परीक्षा मामले में भी 2 अभियुक्त पहले गिरफ्तार हो चुके हैं। पिछले कुछ दिनों में इस प्रकार अलग-अलग दर्ज 3 मुकदमों में कुल 38 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है।
 
मुख्यमंत्री उत्तराखंड पुष्करसिंह धामी के सख्त निर्देश के क्रम में कि 'किसी भी दोषी को बख्शा न जाए', इसलिए पेपर लीक मामले में फरार 2 अपराधी क्रमश: सादिक मूसा निवासी अंबेडकरनगर (उत्तरप्रदेश) पर 2 लाख का इनाम और योगेश्वर राव निवासी गाजीपुर (उत्तरप्रदेश) की गिरफ्तारी पर 1 लाख का इनाम पुलिस महानिदेशक द्वारा घोषित किया गया है।
 
उत्तराखंड एसटीएफ द्वारा पेपर लीक मामले में गिरफ्तार अभियुक्त संदीप शर्मा पुत्र स्व. राजेश शर्मा निवासी जुल्हान मोहल्ला, जसपुर जनपद उधम सिंह नगर ने अन्य अभियुक्त के साथ मिलकर गाजियाबाद में एक फ्लैट में जनपद उधम सिंह नगर एवं जनपद हरिद्वार के कई अभ्यर्थियों को ले जाकर प्रश्नपत्र हल कराया था।
 
गिरफ्तार अभियुक्त के जसपुर और ठाकुरद्वारा में आयुर्वेदिक और पैरामेडिकल सहित 3 कॉलेज हैं। अभियुक्त से पूछताछ और अन्य जानकारी के आधार पर 2 दर्जन के करीब छात्रों को चिन्हित किया गया है। उत्तराखंड एसटीएफ द्वारा गवाहों के बयान एवं तकनीकी साक्ष्य के आधार पर अभियुक्त को अरेस्ट किया गया। इस गिरफ्तारी से उत्तरप्रदेश में नकल माफियाओं के धामपुर के बाद गाजियाबाद में हुई नकल के सेंटर का पर्दाफाश करने में सफलता मिली है।
 
अब देहरादून की सड़कों पर उतरे बेरोजगार : उत्तराखंड में एक के बाद एक लगातार सामने आ रहे भर्ती घोटालों को लेकर अब प्रदेश के युवाओं के सब्र का बांध टूट रहा है। राजधानी दून की सड़कों पर बुधवार को हजारों बेरोजगारों का हुजूम उमड़ पड़ा। प्रदेशभर से देहरादून पहुंचे बेरोजगारों ने परेड ग्राउंड से सचिवालय तक रैली निकालकर भर्ती परीक्षा में हुई धांधली का विरोध किया और अब तक हुईं परीक्षाओं की सीबीआई जांच की मांग की। बेरोजगारों की भारी भीड़ देखते हुए पुलिस के पसीने छूट गए।
 
सभी भर्तियों की सीबीआई जांच की मांग कर रहे युवाओं ने आज राजधानी में बड़े स्तर पर प्रदर्शन किया। राज्यभर से आए बेरोजगार युवा पहले परेड ग्राउंड में एकत्रित हुए। उसके बाद हाथों में तख्तियां लेकर तिब्बती बाजार, लैंसडाउन चौक, कनक चौक से होते हुए सचिवालय तक रैली निकाली। हालांकि पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को सचिवालय से पहले ही बैरिकेडिंग लगाकर रोक दिया जिसके बाद प्रदर्शनकारी युवा सड़क पर ही धरने पर बैठ गए। प्रदेश में नौकरियों में हो रहीं धांधलियों को लेकर आक्रोशित युवा 'हाकम सिंह को फांसी दो' जैसे नारे लगाकर सरकार के खिलाफ अपना आक्रोश प्रकट कर रहे थे।
 
इस दौरान उत्तराखंड बेरोजगार संगठन के अध्यक्ष बॉबी पंवार ने कहा कि सरकार भर्ती परीक्षाओं की जांच के नाम पर बेरोजगारों के साथ धोखा कर रही है। राज्य गठन के बाद प्रदेश में हुई सभी भर्ती परीक्षाओं की जांच और घोटालों में लिप्त सभी आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि आज इकट्ठा हुई बेरोजगारों की भीड़ ने जिम्मेदारियां और बढ़ा दी हैं। अब सभी की लड़ाई को पुरजोर तरीके से आगे भी लड़ा जाएगा। इधर बेरोजगारों की रैली को आम आदमी पार्टी, कांग्रेस और उत्तराखंड क्रांति दल जैसे दलों ने भी अपना समर्थन दिया है।
ये भी पढ़ें
Apple Event 2022 : IPhone 14 सीरीज की लॉन्चिंग, दुनिया भर की निगाहें (Live)