गुरुवार, 22 फ़रवरी 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. Training of 'Agniveers' will start in December, youth will be able to be recruited till 23 years
Written By
Last Updated : शुक्रवार, 17 जून 2022 (19:15 IST)

दिसंबर में शुरू हो जाएगी 'अग्निवीरों' की ट्रेनिंग, 23 साल तक युवा हो सकेंगे भर्ती

दिसंबर में शुरू हो जाएगी 'अग्निवीरों' की ट्रेनिंग, 23 साल तक युवा हो सकेंगे भर्ती - Training of 'Agniveers' will start in December, youth will be able to be recruited till 23 years
नई दिल्ली। नई भर्ती के लिए सेना प्रारंभिक अधिसूचना जारी कर दो दिनों के भीतर ‘अग्निपथ’ योजना के तहत इसकी प्रक्रिया औपचारिक रूप से शुरू कर देगी। थल सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे ने कहा कि ‘अग्निपथ’ योजना के तहत 2022 के लिए आयु सीमा को 21 वर्ष से बढ़ाकर 23 वर्ष करने का निर्णय उन युवाओं को अवसर प्रदान करेगा, जो सेना में भर्ती होने की तैयारी कर रहे हैं। दूसरी ओर, अग्निपथ योजना का विरोध कर रहे युवाओं गुस्सा थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। कई स्थानों से आगजनी और हिंसा की खबरें आ रही हैं। 
 
सैन्य अधिकारियों के मुताबिक प्रारंभिक अधिसूचना जारी होने के बाद, सेना की विभिन्न एजेंसियां और प्रतिष्ठान बाद में भर्ती प्रक्रिया के विवरण जैसे रिक्तियों की संख्या, भर्ती रैलियों का स्थान और परीक्षा कार्यक्रम की जानकारी देंगे।
 
‍दिसंबर से शुरू होगा प्रशिक्षण : अधिकारियों ने बताया कि सेना ने ‘अग्निपथ’ योजना के तहत रंगरूटों का प्रशिक्षण दिसंबर तक शुरू करने का लक्ष्य रखा है। उन्होंने बताया कि सेना ने अगले साल जून तक इस नई योजना के तहत भर्ती रंगरूटों के शुरुआती बैच को अभियानगत और गैर-अभियानगत भूमिकाओं में तैनात करने की योजना बनाई है।
 
आयुसीमा अब 23 साल : थल सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे ने कहा कि ‘अग्निपथ’ योजना के तहत 2022 के लिए आयु सीमा को 21 वर्ष से बढ़ाकर 23 वर्ष करने का निर्णय उन युवाओं को अवसर प्रदान करेगा, जो सेना में भर्ती होने की तैयारी कर रहे हैं, लेकिन पिछले दो साल से कोविड-19 महामारी के कारण ऐसा नहीं कर पाए।
 
सेना प्रमुख पांडे की अपील : सेना प्रमुख ने एक बयान में कहा कि सेना को भर्ती के लिए उम्र में छूट देने संबंधी सरकार का फैसला मिल गया है और भर्ती प्रक्रिया की घोषणा जल्द की जाएगी। थल सेना प्रमुख ने आकांक्षी युवाओं से सेना में ‘अग्निवीर’ के रूप में शामिल होने के अवसर का लाभ उठाने का भी आह्वान किया।
 
उन्होंने कहा कि यह निर्णय हमारे उन कई ऊर्जावान और देशभक्त युवाओं को एक अवसर प्रदान करेगा, जो कोविड-19 के बावजूद भर्ती की प्रक्रिया में शामिल होने की तैयारी कर रहे थे और यह प्रक्रिया पिछले दो साल में कोविड प्रतिबंधों के कारण पूरी नहीं हो सकी थी।
 
25 फीसदी होंगे नियमित : सरकार ने रक्षा भर्ती प्रक्रिया में आमूलचूल परिवर्तन करते हुए तीनों सेनाओं में सैनिकों की भर्ती संबंधी ‘अग्निपथ’ योजना की मंगलवार को घोषणा की थी, जिसके तहत साढ़े 17 वर्ष से 23 वर्ष उम्र के युवाओं की भर्ती चार साल की लघु अवधि के लिए संविदा आधार पर की जाएगी और बाद में केवल 25 प्रतिशत को नियमित किया जाएगा। इन्हें ‘अग्निवीर’ नाम दिया जाएगा।
 
सरकार ने व्यापक विरोध प्रदर्शन के बीच बृहस्पतिवार की रात अग्निपथ योजना के तहत भर्ती के लिए ऊपरी आयु सीमा को वर्ष 2022 के लिए 21 से बढ़ाकर 23 वर्ष कर दिया था।
ये भी पढ़ें
महाराष्ट्र में कैंसर पीड़ित किशोरी ने नहीं मानी हार, 10वीं की परीक्षा में हासिल किए 81.60 फीसदी अंक