रेगिस्तान में बाढ़, राजस्थान के कई जिलों में भारी बारिश के बाद नदी में तब्दील हुईं सड़कें

पुनः संशोधित मंगलवार, 26 जुलाई 2022 (17:00 IST)
हमें फॉलो करें
जयपुर। भारत के कई राज्यों में बारिश ने भीषण कोहराम मचाया हुआ है। इसी बीच राजस्थान से चौंका देने वाली तस्वीरें सामने आ रही हैं। बरसात के मौसम में राजस्थान के कई इलाके जलमग्न हो चुके हैं। अजमेर, भीलवाड़ा, बूंदी, बारां, कोटा, जोधपुर आदि बड़े शहरों में बीती रात भारी बारिश हुई।

राजस्थान के अजमेर, भीलवाड़ा, बूंदी, बारां, कोटा, जोधपुर आदि बड़े शहरों में बीती रात भारी बारिश हुई। इनमें सबसे ज्यादा बारिश भीलवाड़ा और उसके बाद जोधपुर में दर्ज की गई। भीलवाड़ा में पिछले 24 घंटों 205 मिलीमीटर एवं जोधपुर तहसील में 175 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई।

जोधपुर में तो रातों-रात जलभराव की स्थिति पैदा हो गई। जोधपुर में भारी बारिश के कारण कलेक्टर ने स्कूली बच्चों के लिए एक दिन के अवकाश की घोषणा भी की है। शहर की सडकों पर पानी भरने की वजह से कई गाड़ियां सड़क के बीचों-बीच ही फंस गई हैं।


अजमेर, बारां और बूंदी में पानी लोगों के घरों तक जा पहुंचा है। लोगों का घर से निकलना मुश्किल हो रहा है। कई जगहों पर दुकानों में भी पानी भर चुका है। प्रदेश की राजधानी जयपुर में इससे विपरीत केवल हल्की बूंदाबांदी जारी है।

राजस्थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने मंगलवार को ट्वीट करते हुए कहा कि जोधपुर में अचानक अधिक बारिश होने से कई स्थानों पर जलभराव की स्थिति पैदा हो गई है। स्थिति को लेकर कल से ही जिलाधिकारी से संपर्क बना हुआ है एवं (अधिकारियों को) किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने के निर्देश दिए गए हैं। अभी स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है।

मौसम विभाग ने मंगलवार को भी जोधपुर सहित अनेक जगह भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग के अनुसार, 28-29 जुलाई से राज्य के कुछ हिस्सों में मानसून की गतिविधियों में धीरे-धीरे कमी आने की संभावना है।

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो राजस्थान में भारी बारिश के कारण लगभग सभी बांध लबालब भर चुके हैं। राजस्थान के प्रमुख बांध कोटा बैराज, जवाहर सागर, माही बजाज और बीसलपुर सभी में 90 प्रतिशत तक पानी भरा चुका है। कुछ दिनों में बारिश कम नहीं हुई, तो बांधों के कुछ गेट खोलने पड़ सकते हैं।



और भी पढ़ें :