गाजीपुर बॉर्डर से टैंट खोलकर अब दिल्ली के लिए कूच करेंगे किसान

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि रास्ता हमने बंद नहीं किया बल्कि दिल्ली पुलिस ने किया।

हिमा अग्रवाल| पुनः संशोधित गुरुवार, 21 अक्टूबर 2021 (14:12 IST)
गाजियाबाद। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता गुरुवार को एक बार फिर अपने चिर-परिचित अंदाज में सुर्खियां बटोरते नजर आ रहे हैं।


टिकैत ने कहा कि नेशनल हाईवे-24 को किसान अब आम जनता की परेशानियों को देखते हुए दिल्ली जाने के लिए खोल रहे हैं। पिछले कई माह से किसान गाजीपुर बॉर्डर पर तीन कृषि कानून रद्द की मांग को लेकर धरनारत हैं।

राकेश टिकैत नेशनल हाईवे 24 के दिल्ली गाजीपुर मुर्गा मंडी की तरफ जाने वाली सर्विस लेन के पास लगे अपने टेंट हटा रहे हैं। उनका कहना है कि उन्होंने कोई रास्ता बंद नहीं कर रखा है, बल्कि दिल्ली पुलिस लिखे बैरियर लगाकर रास्ता बंद किया गया है।

हम तो सिर्फ बताना चाहते हैं किस वजह से आम जनता को परेशानियां हो रही हैं। हमने तो सिर्फ अपने लगे पर्दे हटाए हैं और हटा रहे हैं। टिकैत का कहना है जिन्होंने कृषि कानून बनाया है उनके घर जाएंगे, दिल्ली पार्लियामेंट जाएंगे। टिकैत का कहना है कि हमने कोई रास्ता नहीं रोका, बल्कि रास्ता दिल्ली पुलिस ने रोका है न की किसानों ने रोका है।

उल्लेखनीय है कि ने एक याचिका के जवाब में किसानों से कहा है कि आंदोलन करना आपका हक है, लेकिन आप अनिश्चितकाल के लिए मार्ग अवरुद्ध नहीं कर सकते।



और भी पढ़ें :