New Motor vehicle Act : कहीं चालान की मार, कहीं राहत की बौछार

पुनः संशोधित गुरुवार, 12 सितम्बर 2019 (15:22 IST)
नई दिल्ली। लागू होने के बाद से ही देशभर लोगों में यातायात पुलिस का डर बढ़ गया है। उत्तरप्रदेश, हरियाणा समेत कई राज्यों में नियमों के लागू होते ही लोगों के हजारों रुपए के कटने लगे। इससे वाहन चालकों में हड़कंप मच गया। लोगों के गुस्से से बचने के लिए गुजरात, उत्तराखंड ने जुर्माने की राशि कम कर दी और कई राज्यों में जुर्माने की राशि घटाने के कवायद जारी है।

चुनाव के डर से हरियाणा ने नए नियम लागू करने के बाद अपने कदम पीछे हटा लिए और पुलिस को निर्देश दिए गए हैं कि फिलहाल लोगों को राहत दी जाए। पहला बड़ा चालान भी हरियाणा के गुरुग्राम में ही बना था। महाराष्‍ट्र और झारखंड में भी यह नियम लागू नहीं किए गए हैं। हरियाणा की तरह यहां भी चुनाव होने हैं।

कुल मिलाकर ज्यादातर चालान की राशि बढ़ाने के केंद्र सरकार के फैसले से सहमत नहीं दिखाई देते। राज्यों में चाहे भाजपा की सरकार हो या कांग्रेस की, सभी मोदी सरकार के इस फैसले से खुश नहीं हैं।
भले ही केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी कुछ भी कहें लेकिन राज्य की राजनीति करने वाले नेता यह मानकर चल रहे हैं कि भारी जुर्माने से लोग सरकार से नाराज हो जाएंगे और आने वाले चुनावों में उनको इसका नुकसान उठाना होगा। इसी वजह उन राज्यों ने मामले में चुप्पी साध ली है जहां जल्द ही चुनाव होने वाले हैं।

 

और भी पढ़ें :