शर्मनाक, कुलभूषण जाधव को दुबारा कॉन्सुलर एक्सेस देने से पाक का इनकार

Last Updated: गुरुवार, 12 सितम्बर 2019 (15:53 IST)
इस्लामाबाद। जबसे ने आर्टिकल 370 हटाया है, तब से ही भारत को नीचा दिखाने व असहयोग करने पर उतारू है। अपने हवाई मार्ग बंद करने समेत व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मुंह की खाने के बाद भी उसके रवैये में कोई अंतर नहीं आया है। अंतरराष्ट्रीय दबाव के चलते पाकिस्तान ने को पहली बार दिया था, लेकिन अब उसने दुबारा कॉन्सुलर एक्सेस देने से मना कर दिया है।
ALSO READ:
ओछी हरकतों पर उतरा पाकिस्तान, सेना की टोह लेने नाबालिग को भेजा
कुलभूषण जाधव को दूसरी बार कॉन्सुलर एक्सेस देने से पाकिस्तान ने मना कर दिया है। पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता डॉ. मोहम्मद फैसल ने यह जानकारी देते हुए कहा कि हम कुलभूषण जाधव को दूसरी बार कॉन्सुलर एक्सेस नहीं देंगे।

पहली बार कुलभूषण को इससे पहले 2 सितंबर कॉन्सुलर एक्सेस दिया गया था और भारत के उप उच्चायुक्त गौरव अहलूवालिया ने उनसे मुलाकात की थी। मुलाकात के बाद भारत ने बयान जारी कर कहा कि पाकिस्तान कुलभूषण जाधव पर गलतबयानी करने के लिए काफी दबाव बना रहा है। तब भारत ने एक बार फिर से कॉन्सुलर एक्सेस की मांग की थी जिससे अब पाकिस्तान ने कर दिया है। आईसीजे ने उन्हें कॉन्सुलर एक्सेस देने का आदेश दिया था।
कॉन्सुलर एक्सेस का आशय यह होता है कि जिस देश का कैदी है उस देश के राजनयिक या अधिकारी को जेल में बंद कैदी से मिलने की इजाजत दी जाए, जैसे कि भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव पाकिस्तान की जेल में कैद हैं।

कुलभूषण जाधव पाकिस्तान ने साल 2016 से कैद कर रखा है। पाकिस्तान का आरोप है कि कुलभूषण जाधव ने पाकिस्तान की जासूसी की है, जबकि भारत ने इससे इंकार किया है।

 

और भी पढ़ें :