जीएसटी राजस्व संग्रह एक लाख करोड़ के पार

नई दिल्ली| पुनः संशोधित मंगलवार, 1 मई 2018 (15:32 IST)
नई दिल्ली। चालू वित्त वर्ष के पहले महीने अप्रैल में सकल जीएसटी पहली बार एक लाख करोड़ रुपए के पार 1,03,458 करोड़ रुपए पर पहुंच गया।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार इसमें सीजीएसटी 18.652 करोड़ रुपए, एसजीएसटी 25,704 करोड़ रुपए, आईजीएसटी 50,548 करोड़ रुपए, जिसमें आयात पर कर 21,246 करोड़ रुपए भी शामिल हैं और उपकर 8,554 करोड़ रुपए है। इसमें आयात पर उपकर का 702 करोड़ रुपए शामिल है। पिछले वर्ष जुलाई से लागू जीएसटी कर व्यवस्था के इस वर्ष अप्रैल में संग्रहित राशि अब तक की सर्वाधिक है।

मार्च महीने के लिए 30 अप्रैल तक 60.47 लाख जीएसटीआर थ्री बी रिटर्न दाखिल किए गए जबकि जीएसटी रिटर्न भरने के लिए कुल जीएसटी करदाताओं में से 87.12 लाख योग्य थे। अप्रैल महीने में कंपोजिशन डीलरों को भी तिमाही रिटर्न भरना होता है। अभी 19.31 लाख कंपोजिशन डीलर हैं जिनमें से 11.47 लाख ने तिमाही रिटर्न जीएसटीआर4 दाखिल किया है और कुल 579 करोड़ रुपए का कर जमा कराया है। यह राशि भी अप्रैल महीने के जीएसटी राजस्व संग्रह में शामिल है।
इस वर्ष अप्रैल में केन्द्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा कुल मिलाकर क्रमश: सीजीएसटी से 32,493 करोड़ रुपए और एसजीएसटी से 40,257 करोड़ रुपए शामिल हैं। (वार्ता)



और भी पढ़ें :