गुरुवार, 9 फ़रवरी 2023
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. 3 terrorists killed in encounter in Jammu and Kashmir's Pulwama
Written By
Last Updated: रविवार, 12 जून 2022 (19:35 IST)

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में मुठभेड़, लश्‍कर के 3 आतंकी ढेर

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में सुरक्षाबलों के साथ रातभर चली मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के 3 आतंकवादी मारे गए। जिनके शव मुठभेड़ स्थल से बरामद कर लिए गए। जब सुरक्षाकर्मी आतंकवादियों के संदिग्ध ठिकाने पर पहुंचे तो वहां छिपे आतंकवादियों ने उन पर अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी, जिसका सुरक्षाबलों ने प्रभावी रूप से जवाब दिया और दोनों पक्षों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई।

पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी। इसी के साथ इस साल अब तक घाटी में मारे गए आतंकवादियों की संख्या बढ़कर 99 हो गई है। पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि दक्षिण-कश्मीर स्थित पुलवामा जिले के द्रबगाम गांव में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने पर शनिवार को इलाके में सुरक्षाबलों ने घेराबंदी एवं तलाश अभियान शुरू किया।

प्रवक्ता के अनुसार, जब सुरक्षाकर्मी आतंकवादियों के संदिग्ध ठिकाने पर पहुंचे तो वहां छिपे आतंकवादियों ने उन पर अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी, जिसका सुरक्षाबलों ने प्रभावी रूप से जवाब दिया और दोनों पक्षों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई।

उन्होंने बताया कि मुठभेड़ में लश्कर ए तैयबा के तीन आतंकवादी मारे गए जिनके शव मुठभेड़ स्थल से बरामद कर लिए गए। उनके अनुसार, तीनों की पहचान पुलवामा के गडूरा निवासी जुनैद अहमद शीरगोजरी, पुलवामा के द्रबगाम निवासी नजीर भट और पुलवामा के अराबल निकास निवासी इरफान अहमद मलिक के रूप में हुई है।

पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार, ये तीनों आतंकवादी पुलिस एवं सुरक्षाबलों पर हमले, आम लोगों के उत्पीड़न समेत कई आतंकी गुनाहों में शामिल समूहों का हिस्सा थे। प्रवक्ता ने बताया कि शीरगोजरी अपने साथी एवं पुलवामा के मोंघामा निवासी आबिद हुसैन के साथ 13 मई को पुलिसकर्मी रियाज अहमद की हत्या करने में शामिल था। आबिद हुसैन 30 मई को मारा गया था।

उन्होंने कहा, वह (शीरगोजरी) पुलवामा-बडगाम के बाहर चडूरा में ईंट-भट्टे पर दो जून को श्रमिकों पर किए गए हमले में भी शामिल था। इस हमले में एक मजदूर की जान चली गई थी और कई अन्य घायल हो गए थे। प्रवक्ता ने बताया कि मुठभेड़ स्थल से हथियार, गोला-बारूद आदि चीजें बरामद हुई हैं, जिन्हें आगे की जांच के लिए रिकॉर्ड के तौर पर रखा गया है।

पुलिस महानिरीक्षक (कश्मीर) विजय कुमार ने बिना किसी नुकसान के पेशेवर तरीके से आतंकवाद रोधी अभियान चलाने को लेकर सुरक्षाबलों को बधाई दी। उन्होंने बताया कि घाटी में इस साल अब तक 99 आतंकवादियों का सफाया किया जा चुका है।(भाषा)