भोपाल में जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में बवाल, भाजपा ने जमाया कब्जा, 3 कांग्रेस सदस्य हुए बागी

मंत्री भूपेंद्र सिंह औऱ पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह में नोंकझोंक

Author विकास सिंह| Last Updated: शुक्रवार, 29 जुलाई 2022 (15:36 IST)
हमें फॉलो करें
भोपाल। राजधानी में जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव के दौरान लेकर जमकर बवाल हुआ। भारी हंगामे के बीच हुए चुनाव में भाजपा की रामकुंवर गुर्जर ने चुनाव जीत लिया। रामकुंवर गुर्जर कांग्रेस नेता नवरंग गुर्जर की पत्नी है लेकिन ऐन वक्त पर वह पाला बदलकर भाजपा के खेमे में चली गई है। वोटिंग के दौरान भाजपा की रामकुंवर गुर्जर को 6 मत मिले वहीं कांग्रेस प्रत्याशी अवनीश भार्गव की पत्नी रश्मि भार्गव को 4 वोट मिले। वोटिंग के दौरान भाजपा ने चार सदस्यों के टेंडर वोट डलवाए।

तेजी से बदले सियासी हालात में चुनाव से पहले संख्या बल अपने पक्ष में होने का दावा कर रहे कांग्रेस नेता अवनीश भार्गव की पत्नी रश्मि भार्गव को हार का सामना करना पड़ा। कांग्रेस प्रत्याशी की हार के बाद पूर्व मुख्यमंत्री ने भाजपा पर कांग्रेस के जिला पंचायत सदस्यों के अपहरण का आरोप लगाते हुए कहा कि वह पूरे मामले की शिकायत चुनाव आयोग से करेंगे।


इससे पहले जिला पंचायत कार्यालय में भाजपा और कांग्रेस के दिग्गज नेता आपस में भिड़ गए है। कांग्रेस की ओर मोर्चा संभाले पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह भोपाल के प्रभारी मंत्री की गाड़ी के सामने डट गए। मंत्री भूपेंद्र सिंह अपनी गाड़ी में नवनिर्विचित जिला पंचायत सदस्यों को लेकर पहुंचे थे। मंत्री की गाड़ी में जिला पंचायत सदस्यों को देखकर कांग्रेस ने हंगामा शुरु कर दिया, जिसके बाद कार्यालय के बाहर हंगामे के हालात बन गए। इस बीच मंत्री विश्वास सांरग औऱ भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा की गाड़ी से अन्य सदस्य पहुंचे,जिसके बाद कांग्रेसियों ने जमकर हंगामा किया। वोटिंग के दौरान जिला पंचायत दफ्तर के बाद जमकर हंगामा होता रहा है। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के नेतृत्व में कांग्रेस के विधायक पीसी शर्मा और आरिफ मसूद डटे रहे है और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते रहे।




और भी पढ़ें :