Whatsapp पर लगाया 1950 करोड़ रुपए का जुर्माना

पुनः संशोधित गुरुवार, 2 सितम्बर 2021 (17:13 IST)
फेसबुक के डेटा गोपनीयता नियमों के उल्लंघन के लिए के डेटा वॉचडॉग द्वारा व्हाट्सएप पर 225 मिलियन यूरो (लगभग 1950 करोड़ रुपए) का जुर्माना लगाया गया है। वहीं दूसरी ओर व्हाट्सएप का कहना है कि जुर्माना पूरी तरह से अनुपातहीन है और वह अपील करेगा।
खबरों के अनुसार, आयरलैंड के ने गुरुवार को कहा कि व्हाट्सएप ने यूरोपीय संघ में नागरिकों को यह नहीं बताया कि यह उनके डेटा के साथ क्या करता है। नियामक ने कहा कि व्हाट्सएप यूरोपीय लोगों को यह बताने में विफल रहा कि उनकी व्यक्तिगत जानकारी कैसे एकत्र और उपयोग की जाती है, साथ ही व्हाट्सएप फेसबुक के साथ डेटा कैसे साझा करता है।

जुलाई में यूरोपीय डेटा प्रोटेक्शन बोर्ड की एक बैठक ने स्पष्ट निर्देश जारी किया था, जिसमें डीपीसी को निहित कई कारकों के आधार पर अपने प्रस्तावित जुर्माने को पुन: निर्धारित करने और बढ़ाने की आवश्यकता थी।
ALSO READ:
30 लाख अकाउंट्‍स को ने किया बैन
इस पुनर्मूल्यांकन के बाद डीपीसी ने व्हाट्सएप पर 225 मिलियन यूरो (लगभग 1950 करोड़ रुपए) का जुर्माना लगाया है। आयरिश नियामक ने व्हाट्सएप को निर्दिष्ट उपचारात्मक कार्रवाइयों की एक श्रृंखला के अनुपालन में अपने प्रसंस्करण को लाने के आदेश के साथ एक फटकार भी लगाई।
वहीं व्हाट्सएप के प्रवक्ता का कहना है कि वह एक सुरक्षित और निजी सेवा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्‍होंने कहा, हमने यह सुनिश्चित करने के लिए काम किया है कि हम जो जानकारी प्रदान करते हैं, वह पारदर्शी और व्यापक है और ऐसा करना जारी रखेंगे। प्रवक्ता का कहना है कि हम 2018 में लोगों को प्रदान की गई पारदर्शिता के बारे में आज के फैसले से असहमत हैं और दंड पूरी तरह से असंगत है।



और भी पढ़ें :