भूटान में भी पैर पसारता ड्रैगन, डोकलाम के पास 100 वर्ग किमी की सीमा में बसाए 4 गांव

Last Updated: गुरुवार, 18 नवंबर 2021 (10:12 IST)
हमें फॉलो करें
अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। भारत के बाद अब उसने सीमा पर 4 बसा लिए हैं। चीनी सैन्य विकास पर एक वैश्विक शोधकर्ता द्वारा ट्वीट की गई नई सैटेलाइट तस्वीरों में भूटानी क्षेत्र में चीनी गांवों का निर्माण दिखाई दे रहा है।
यह क्षेत्र डोकलाम के पास भूटान और चीन के बीच विवादित भूमि पर स्थित है जिसमें 2020 और 2021 के बीच की अवधि में निर्माण गतिविधि दिखाई गई थीं। अब लगभग 100 वर्ग किमी के क्षेत्र में कई नए गांव फैले हुए दिखाई दे रहे हैं।

चीन द्वारा उठाया गया यह कदम भारत के लिए विशेष रूप से चिंताजनक है, क्योंकि भूटान की सीमाओं की सुरक्षा के लिए भारत वहां एक सीमित सशस्त्र बल रखता है। इसका पड़ोस पर व्यापक भू-रणनीतिक प्रभाव भी पड़ेगा। लगभग 100 वर्ग किमी क्षेत्र में कई नए गांव फैल गए हैं।

थ्री-स्टेप रोडमैप पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए भारत ने कहा कि हमने आज भूटान और चीन के बीच समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं। आप जानते हैं कि 1984 से भूटान और चीन सीमा वार्ता कर रहे हैं। भारत इसी तरह चीन के साथ सीमा वार्ता कर रहा है।

चीन का यह कदम बीजिंग द्वारा भूमि सीमा क्षेत्रों के संरक्षण और शोषण पर पारित करने के तुरंत बाद आया है। कानून कहता है कि चीन प्रादेशिक अखंडता और भूमि सीमाओं की रक्षा करने और क्षेत्रीय संप्रभुता और भूमि सीमाओं को कमजोर करने वाले किसी भी कार्य के खिलाफ सुरक्षा और मुकाबला करने के लिए उपाय करेगा।



और भी पढ़ें :