जमीनी हालात, मां की सांस उखड़ती देखकर बेटियों ने मुंह से दी सांस

हिमा अग्रवाल| Last Updated: रविवार, 2 मई 2021 (18:09 IST)
पूरे देश में कोविड-19 की दूसरी लहर ने कहर बरपा रखा है। चारों तरफ अस्पताल से कोहराम, चीख-पुकार या डॉक्टरों के आगे गिड़गिड़ाते परिजन नजर आ रहे हैं। एक बेड पर दो-दो मरीज, जमीन में या एंबुलेंस, ऑटो में ऑक्सीजन सिलेंडर लगाकर कोविड मरीजों को जीवन देने का प्रयास किया जा रहा है। वहीं, ऑक्सीजन के अभाव में तिल-तिल करके मरीज जान से दे रहे हैं।
उत्तरप्रदेश के जिला अस्पताल से मन को झकझोर देने वाली तस्वीर सामने आ रही है। जहां दो बेटियां अपनी मां को मौत के मुंह में जाता हुआ देखकर अपने मुंह से ऑक्सीजन देने की कोशिश कर रही हैं। ये तस्वीरें सरकार के दावों की पोल खोलती हैं कि अस्पतालों में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है।
स्वास्थ्य विभाग के बीमार सिस्टम पर इन दो बेटियों ने खुद मां को सांस देकर करारा तमाचा मारा है। बहराइच जिला अस्पताल का यह वीडियो सोशल मीडिया से तेजी के साथ वायरल हो रहा है।

बहराइच के जिला अस्पताल में कोरोना संक्रमण एक पीड़ित महिला को इलाज के लिए लाया गया। पीड़िता की गंभीर हालत थी, अस्पताल में ऑक्सीजन की किल्लत के चलते पेशेंट को ऑक्सीजन नहीं मिली। मां को तड़पता हुआ देखकर उसकी दो बेटियां संक्रमण की परवाह किए बिना मां को मुंह से सांस देने लगीं।

यह वीडियो पास खड़े एक व्यक्ति ने वीडियो बना लिया, जो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।
यह हाल आमतौर पर सभी सरकारी और निजी अस्पतालों का है। सूबे के मुख्यमंत्री प्रदेश में भरपूर ऑक्सीजन की बात करते हैं, लेकिन सरकारी अस्पताल से आई ये तस्वीरें/वीडियो सरकारी व्यवस्था की पोल खोलने के लिए काफी हैं।

अभी कुछ दिनों पहले आगरा से भी इसी तरह की तस्वीर सामने आई थी, जिसमें एक पत्नी अपने पति की उखड़ती सांसों को थामने के लिए ऑटो में मुंह से सांस दे रही थी, लेकिन उसका प्रयास पति को नहीं बचा सका।



और भी पढ़ें :