मध्यप्रदेश में 15 दिन में तिगुना बढ़ गए एक्टिव केस,भोपाल,इंदौर में प्रदेश के 50 फीसदी मामले

मध्यप्रदेश में कोरोना की महाराष्ट्र वाली 'चाल',पॉजिटिविटी रेट 10 फीसदी के पार

Author विकास सिंह| Last Updated: मंगलवार, 30 मार्च 2021 (16:22 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना को लेकर हालात अब बिगड़ने लगे है। पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र की तरह प्रदेश में कोरोना अब 10 फीसदी के पार पहुंच गया है। पॉजिटिविटी रेट बढ़ने का सीधा असर यह हुआ है कि प्रदेश में 15 दिन में कोरोना के एक्टिव 3 गुना बढ़ गए है। स्वास्थ्य विभाग के कोरोना बुलिटेन के मुताबिक प्रदेश में 15 मार्च को 5024 एक्टिव केस थे जो 29 मार्च को 15,150 तक पहुंच गए है।


और इंदौर के साथ प्रदेश के अन्य जिलों में कोरोना का संक्रमण किस कदर तेजी से फैला रहा है इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि 15 दिन पहले के सिर्फ 9 जिलों में 100 से उपर के एक्टिव मौजूद थे तो अब लगभग आधे प्रदेश (25) जिलों में कोरोना के 100 से अधिक एक्टिव मौजूद है।


प्रदेश की राजधानी भोपाल और आर्थिक राजधानी कहे जाने वाले इंदौर में अब कोरोना संक्रमण खतरनाक स्तर को पार कर गया है। पिछले 24 घंटे में भोपाल में 500 के करीब तो इंदौर में 600 से अधिक नए केस मिले है। सोमवार को राजधानी भोपाल में 469 पॉजिटिव मरीजों और इंदौर में 609 केस मिले। सोमवार को पूरे प्रदेश में 2323 नए केस मिल तो भोपाल और इंदौर में कुल मिलाकर 1078 संक्रमित केस सामने आए। अगर बात करें कोरोना पॉजिटिविटी रेट की तो इंदौर और भोपाल में लगातार 15 फीसदी के करीब बनी हुई है। वहीं जबलपुर में भी अब तेजी से संक्रमण बढ़ता जा रहा है।
मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण फिर किस कदर तेजी से फैल रहा है इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि प्रदेश के 25 जिलों में कोरोना के एक्टिव केस 100 से उपर पहुंच गए है। इनमें भोपाल और इंदौर में एक्टिव केस तीन हजार के उपर,जबलपुर में एक हजार से अधिक,उज्जैन,ग्वालियर,रतलाम में 500 से अधिक केस है। वहीं सात जिलों में 200 से अधिक कोरोना के एक्टिव केस वर्तमान समय में है।

वर्तमान में प्रदेश में कोरोना के कुल एक्टिव केस 15,150 है तो भोपाल में 3286, इंदौर में 3965 और जबलपुर में 1129 केस है।अगर आंकड़ों को देखे तो प्रदेश के इन तीन बड़े शहरों में 60 फीसदी से अधिक केस 8,380 है। वहीं ग्वालियर में 502 एक्टिव केस है।

प्रदेश में 15 मार्च को पिछले 24 घंटे में प्रदेश में रिकॉर्ड 2323 केस आने के मुख्यमंत्री ने आज सुबह मुख्यमंत्री निवास पर अधिकारियों के साथ ताजा हालात पर बैठक की। बैठक के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि संक्रमण को रोकने के लिए सरकार और जनता को साथ आना होगा और अब कोरोना को समाप्त करने की रणनीति पर मंथन करना होगा।




और भी पढ़ें :