0

Shri Ganesh visarjan 2019 : श्री गणेश को कर रहे हैं बिदा तो यह 1 मंत्र जरूर बोलें

गुरुवार,सितम्बर 12, 2019
Ganesh visarjan Mantra
0
1
पंचक में भगवान श्रीगणेश सहित अन्य किसी देवता की प्रतिमा का विसर्जन अशुभ नहीं होता। बल्कि आम लोगों के बीच यह धारणा बन चुकी है कि पंचक लगने के पहले ही विसर्जन की प्रक्रिया को औपचारिक रूप से पूरा कर लिया जाए।
1
2
अनंत चतुर्दशी की कथा- पौराणिक ग्रंथों के अनुसार प्राचीन समय में सुमंत नाम के एक ऋषि हुआ करते थे उनकी पत्नी का नाम था दीक्षा।
2
3
भगवान श्र‍ी गणेश जी को स्थान से थोड़ा सा आगे खिसकाने का शुभ समय 12 सितंबर को सुबह शुभ चौघड़िया में 6.15 से 7.45 तक का है। इसके बाद गणपति विसर्जन हेतु विशेष उत्तम और सर्वश्रेष्ठ समय इस प्रकार है।
3
4
श्री गणेश की बिदाई के पल नजदीक है। जिन लोगों ने पूरे 10 दिन श्री गणेश को विराजित किया है वे अनंत चतुर्दशी पर विसर्जन करेंगे। इस बार 12 सितंबर गुरुवार के दिन अनंत चतुर्दशी है। आइए जानते हैं गणपति विसर्जन के शुभ मुहूर्त और नियम...
4
4
5
परंपरानुसार कहा जाता है कि श्री गणेश को उसी तरह बिदा किया जाना चाहिए जैसे हमारे घर का सबसे प्रिय व्यक्ति जब यात्रा पर निकले तब हम उनके साथ व्यवहार करते हैं।
5
6
आप भी भगवान गजानन की आराधना कर सुखी और समृद्ध जीवन की कामना करें। आइए जानें अपनी राशिनुसार कौन-सा मंत्र जपें-
6
7
Mumbai: Devotees offer prayers at famous Ganeshgallicha Raja pandal During the 10th day Ganesh festival in Mumbai on Tuesday. Photo Girish Srivastav/ 03.09.2019 Devotees offer prayers, Ganeshgallicha Raja, गणेश गली चा राजा, गजानन श्री गणेश, ...
7
8
मुंबई में श्री गणेश उत्सव की धूम और उत्साह चरम पर है। जीएसबी सेवा मंडल पंडाल में सबसे अमीर गणेश जी देखें जा सकते हैं। यहां सोने, चांदी के बेशकीमती आभूषणों में सजकर विराजे हैं विनायक, जिन्हें देखने के लिए भक्तों की भीड़ उमड़ रही हैं।
8
8
9
सुबह जल्दी नित्य कर्मों से निवृत्त होकर पूर्वाभिमुख या उत्तराभिमुख होकर पाट पर लाल वस्त्र बिछाकर चावल की ढेरी पर उपलब्ध गणेश जी को विराजमान करें।
9
10
श्री गणेश उत्सव आज 2 सितंबर 2019 से आरंभ हो गया है। समस्त पूजा विधि के साथ हम लाए हैं सटीक प्रयोग... बस एक धागा, डोरी, राखी या मौली लीजिए और उसमें 7 गांठ लगा कर श्री गणेश के चरणों में रख दें, पढ़ें विस्तार से
10
11
गणपति हिन्दुओं के आदि आराध्य देव होने के साथ-साथ प्रथम पूज्यनीय भी हैं। किसी भी तरह के धार्मिक उत्सव, यज्ञ, पूजन, सत्कर्म या फिर वैवाहिक कार्यक्रमों में सभी के निर्विघ्न रूप से पूर्ण होने की कामना के लिए विघ्नहर्ता हैं
11
12
आज 2 सितंबर 2019 को श्री गणेश चतुर्थी है। जिसे हम गणेशोत्सव, बड़ी विनायक चतुर्थी, गणेश चौथ और श्री गणेश स्थापना भी कहते हैं। आज से 10 दिन तक श्री गजानन हमारे घर में विराजित होंगे और हर दिन हम उनका सत्कार करेंगे। गणेश चतुर्थी को भगवान गणेश के जन्मदिन ...
12
13
श्री गणेश चतुर्थी 2019 को क्यों न खास अंदाज में मनाएं। इस वर्ष अपनी राशि के रंग के श्री गणेश स्थापित करें और अपनी समस्त मनोकामना पूर्ण करें। लेकिन सवाल यह उठता है कि घर में हर राशि के सदस्य होते हैं तब किसकी राशि को प्राथमिकता देनी चाहिए।
13
14
श्री गणेशोत्सव की शुभकामनाएं ... . इस वर्ष श्री गणेश चतुर्थी के दिन कई शुभ संयोग बन रहे हैं। शुभ ग्रह-नक्षत्रों की छांव तले गणेश जी की स्थापना करने से घर में सुख-समृद्धि और शांति प्राप्त होगी।
14
15
2 सितंबर 2019 को भगवान श्री गणपति का पृथ्वी पर शुभागमन हो रहा है। प्रथम पूज्य श्री गणेश हमारे अति विशिष्ट, सौम्य और आकर्षक देवता हैं।
15
16
श्री गणेश की प्रतिमा लाने से पूर्व या घर में स्थापना से पूर्व यह सवाल सामने आता है कि श्री गणेश की कौन सी सूंड होनी चाहिए दाईं सूंड या बाईं सूंड यानी किस तरफ सूंड वाले श्री गणेश पूजनीय हैं? आइए जानें .....
16
17
हमारे सनातन धर्म में भगवान गणेश को प्रथम पूज्य माना गया है। वे अपने भक्तों के समस्त विघ्नों का हरण कर उन्हें सिद्धि-बुद्धि प्रदान करते हैं इसीलिए उन्हें विघ्नहर्ता भी कहा जाता है। सोमवार, 2 सितंबर 2019 को गणेश चतुर्थी है। इस दिन घर-घर में गणेशजी की ...
17
18
विघ्न विनाशक भगवान श्री गणेश का निम्न मंत्रों से जाप करने से विघ्न, आलस्य, रोग आदि का तत्काल निवारण हो जाता है।
18
19
गणेश चतुर्थी को भगवान गणेशजी की स्थापना की जाती है, जो विशेष मुहूर्त में करना चाहिए। इस वर्ष चतुर्थी 2 सितंबर को आ रही है। किस मुहूर्त में गणेशजी के कलश की स्थापना करें, जानिए-
19