सुशांत सिंह राजपूत केस : संजय लीला भंसाली और आदित्य चोपड़ा के बयानों में मिला अंतर

पुनः संशोधित बुधवार, 22 जुलाई 2020 (14:08 IST)
सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले में मुंबई पुलिस अब तक कई लोगों से पूछताछ कर चुकी है। इस केस की जांच के तहत हाल ही में फिल्ममेकर आदित्य चोपड़ा और संजय लीला भंसाली के बयान लिए गए थे। दोनों के बयान में अंतर देखने को मिला है।
पूछताछ में सामने आया था कि भंसाली ने आदित्य चोपड़ा से सुशांत को अपनी फिल्म में लेने के लिए इजाजत मांगी थी, जो कि उन्हें नहीं मिली क्योंकि सुशांत यशराज फिल्म्स के साथ कॉन्ट्रैक्ट में थे। लेकिन आदित्य चोपड़ा का कहना है कि संजय लीला भंसाली ने कभी उनसे सुशांत के लिए अप्रोच किया ही नहीं।
रिपोर्ट्स के मुताबिक भंसाली ने पुलिस को अपने बयान में बताया था कि उन्होंने यशराज फिल्म्स से पूछा था कि क्या वह सुशांत को उनकी फिल्म 'बाजीराव मस्तानी' करने की इजाजत दे सकते हैं? भंसाली ने इसके लिए साल 2015 में यशराज को अप्रोच किया था।

उस वक्त यशराज से सुशांत का कॉन्ट्रैक्ट चल रहा था। संजय से तब यशराज फिल्म्स ने कहा था कि सुशांत की डेट्स अभी फ्री नहीं हैं क्योंकि वह प्रोडक्शन के साथ बिजी हैं। उस वक्त सुशांत सिंह की फिल्म 'पानी' की तैयारी चल रही थी। शेखर कपूर के डायरेक्शन में बनने वाली फिल्म पानी उस समय रोक दी गई थी।

खबरें थीं कि शेखर कपूर और आदित्य चोपड़ा के बीच क्रिएटिव डिफ्रेंस की वजह से फिल्म अटकी हुई थी। इधर, पुलिस से पूछताछ में यशराज फिल्म्स के चेयरमैन आदित्य चोपड़ा ने अपने स्टेटमेंट रिकॉर्ड में कहा कि संजय लीला भंसाली के प्रोडक्शन से उन्हें सुशांत सिंह राजपूत के लिए ऐसी कोई अप्रोच आई ही नहीं थी।

चोपड़ा ने कहा साल 2016 में एमएस धोनी रिलीज हुई थी जिसका मतलब है कि यशराज फिल्म्स ने उन्हें कभी भी किसी दूसरे फिल्ममेकर के साथ काम करने से नहीं रोका। हालांकि मुंबई पुलिस को इस बात की पुष्टि करनी है।




और भी पढ़ें :