1. मनोरंजन
  2. बॉलीवुड
  3. बॉलीवुड न्यूज़
  4. rajkumar hirani steps in as lead creative mentor of first story library the sourrce
Written By
पुनः संशोधित शुक्रवार, 20 मई 2022 (17:57 IST)

स्टोरी लाइब्रेरी 'द सोर्स' में मुख्य रचनात्मक सलाहकार के रूप में हुए शामिल राजकुमार हिरानी

अंदाज के बाद, शिखा कपूर, अमित चंद्रा और प्रभात चौधरी ने 'द सोर्स' लॉन्च किया है, जो इंडस्ट्री की पहली स्टोरी कमिटेड लाइब्रेरी है और इंडिया से सिर्फ ओरिजिनल स्टोरीटेलिंग ही कहते देखी जाएगी। अक्लेम्ड डायरेक्टर राजकुमार हिरानी ने इसके चीफ क्रिएटिव मेंटर रूप में कदम रखते हुए इसकी पहली स्टोरी सोर्स की है।

 
सोर्स कहानी और स्कीनप्ले डिवलेपमेंट के लिए विचारों और कॉन्सेप्ट्स को इकट्ठा करने की प्रक्रिया में एक संरचना डालने का प्रयास करता है। इसने 21 राज्यों में फैले भारत के अलग अलग भूगोल में कहानी स्काउट्स के अपने तरह के पहले नेटवर्क में गहराई से प्रवेश किया है।
 
कश्मीर, नॉर्थ ईस्ट, हिंदी हार्टलैंड, पंजाब, बंगाल, महाराष्ट्र और दक्षिणी राज्यों के स्काउट्स डेली बेसिस पर मुंबई में सोर्स की डिवलेपमेंट टीम को स्टोरीजऔर आइडियाज भेजते हैं। इसमें सच्ची डरावनी कहानियों से लेकर लोक कथाओं तक, रेयर ह्यूमन अचीवमेंट स्टोरीज और समृद्ध पौराणिक कथाओं तक, द सोर्स की डिवलेपमेंट टीम देश भर से अविश्वसनीय कहानी इनपुट की एक सीरीज को डेली बेसिस पर संसाधित कर रही है।
 
द सोर्स के पास चिकित्सा, कानूनी और व्यावसायिक दुनिया में कभी ना समझाए गए नैरेटिव में टैप करने के लिए समर्पित टीमें भी हैं। सोर्स अपनी लाइब्रेरी तक पहुंच के लिए एक उद्योग-व्यापी सदस्यता की पेशकश करेगा और विकास संक्षिप्त के लिए असामान्य कहानियों को भी क्यूरेट करेगा।
 
इसके अलावा, ओरमैक्स मीडिया के साथ सहयोग के जरिए हर कहानी को लाइब्रेरी में लाने से पहले एक अपील स्कोर को क्यूरेट करके विकास टीम को गहराई और दर्शकों की प्रतिक्रिया प्रदान करेगा।
 
ऑरमैक्स मीडिया के संस्थापक और सीईओ शैलेश कपूर कहते हैं, ऑरमैक्स मीडिया में, हम पिछले एक दशक में बड़े पैमाने पर फिल्मों और सीरीज के लिए स्क्रिप्ट का टेस्ट कर रहे हैं। लेकिन द सोर्स के साथ जुड़ाव खास तौर से विशेष है, क्योंकि यह हमें शुरुआत से ही, गहरी पहुंच या विचार से, कहानी और फिर स्क्रिप्ट तक विकास प्रक्रिया में योगदान करने का अवसर देता है। 
 
उन्होंने कहा, तेजी से विकसित हो रहे उद्योग में, दर्शकों की गहरी पहुंच के महत्व को कम करके नहीं आंका जा सकता है, और मुझे खुशी है कि द सोर्स की लीडरशिप टीम भारतीय नाटकीय और स्ट्रीमिंग मार्केट के लिए अच्छे कंटेंट विकसित करने के लिए दर्शकों के इनपुट का इस्तेमाल करने के लिए कमिटेड है।
 
राजकुमार हिरानी ने कहा, यह एक बहुत ही शक्तिशाली विचार है और हमारे उद्योग को इसकी जरुरत है। कंटेंट पाइपलाइन में अभी विस्फोट हुआ है और एक उद्योग के रूप में हमें ज्यादा से ज्यादा विचारों की जरुरत है। सोर्स के रचनात्मक विचारों को खोजने की प्रक्रिया के लिए एक संरचना रखता है। जबकि मैं कंपनी के दिन-प्रतिदिन के कामकाज में शामिल नहीं होता, मैं रचनात्मक टीम का मार्गदर्शन करता रहूंगा।
 
ये भी पढ़ें
आ जा, तेरी उदासी उतारूं : कमाल का है जोक, हंसी नहीं रूकने वाली