मिर्जापुर के ‘कालीन भैया’ पंकज त्रिपाठी का खुलासा, पत्नी की सैलरी से चलाते थे खर्च

Last Updated: बुधवार, 15 जनवरी 2020 (18:23 IST)
एक्टर पंकज त्रिपाठी आज बॉलीवुड और डिजिटल स्पेस में एक जाना-माना नाम है। लेकिन एक समय ऐसा भी था, जब उनके पास काम नहीं था और रोजमर्रा की जरूरतों के लिए वे अपनी पत्नी की सैलरी पर निर्भर थे। ‘मिर्जापुर’ के ‘कालीन भैया’
ने हाल ही में यह चौंकाने वाला खुलासा किया है।
एक इंटरव्यू में पंकज त्रिपाठी ने अपने स्ट्रगल के दिनों के बारे में बताते हुए कहा, ‘मुझे अभी भी याद है कि मेरे पास काम नहीं था और मेरी पत्नी मुंबई के एक स्कूल में पढ़ाकर घर चलाती थी। हमारी रोजमर्रा की जरूरतें पत्नी की सैलरी से पूरी होती थीं।’


हालांकि, पंकज ने यह भी कहा कि उनकी स्ट्रगल स्टोरी बहुत दुखभरी भी नहीं थी। न तो उन्हें स्ट्रीट लाइट के नीचे बैठना पड़ा और न ही उन्हें रेलवे स्टेशन पर सोना पड़ा। हालांकि उन्हें एक छोटे सिंगल कमरे वाले घर में रहना पड़ता था।

गौरतलब है कि नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा से अभिनय की पढ़ाई करने के बाद पंकज त्रिपाठी को फिल्म में काम करने के लिए काफी संघर्ष का सामना करना पड़ा था। फिल्मों में काम करने का सपना लेकर वह 2004 में मुंबई आए थे। पंकज त्रिपाठी की पहली बॉलीवुड फिल्म अभिषेक बच्चन स्टारर ‘रन’ थी। इसके बाद उन्होंने ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’, ‘फुकरे’, ‘न्यूटन’, ‘बरेली की बर्फी’, ‘स्त्री’ और ‘लुका छुपी’ जैसी कई शानदार फिल्मों में अपने एक्टिंग से लाखों दिलों को जीता।

पंकज त्रिपाठी को फिल्म ‘न्यूटन’ के लिए नेशनल अवॉर्ड भी मिल चुका है। साल 2018 में उन्होंने डिजिटल प्लेटफॉर्म पर वेब सीरीज ‘मिर्जापुर’ से डेब्यू किया और ‘कालीन भैया’ बनकर दर्शकों के दिलों पर राज किया।

पंकज त्रिपाठी इस साल ‘मुंबई सागा’, ‘83’, ‘लूडो’, ‘गुंजन सक्सेना-द कारगिल गर्ल’, ‘अभी तो पार्टी शुरू हुई है’, ‘मिमी’, ‘अंग्रेजी मीडियम’ और ‘शकीला’ में नजर आने वाले हैं।

विज्ञापन
Traveling to UK? Check MOT of car before you buy or Lease with checkmot.com®
 

और भी पढ़ें :