पटना में बोले PM मोदी, बिहार को बीमार बनाने वालों से खतरा

Last Updated: बुधवार, 28 अक्टूबर 2020 (15:34 IST)
पटना। दूसरे चरण में होने वाले बिहार चुनाव (2020) के लिए पटना की रैली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि बिहार को बीमार बनाने वालों से खतरा है। बिहार के गरीब की आकांक्षा, बिहार के मध्यम वर्ग की आकांक्षा कौन पूरी कर सकता है? वो लोग जिन्होंने बिहार को बीमार बनाया, बिहार को लूटा, क्या वो ये काम कर सकते हैं?

प्रधानमंत्री ने महागठबंन पर निशाना साधते हुए कहा कि ऐसी टोली आई तो कोरोना से लड़ाई की राशि का क्या होगा? मैं पटना के लोगों से जानना चाहता हूं, क्या जंगलराज में बिहार आईटी हब बनने का सपना देख सकता था? क्या ‘जंगलराज के युवराज’ बिहार को IT के क्षेत्र में, या आधुनिकता के किसी भी क्षेत्र में आगे ले जा सकते हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि जिन लोगों ने सिर्फ अपने परिवार के बारे में सोचा, बिहार के एक-एक व्यक्ति के साथ अन्याय किया, दलितों-पिछड़ों-वंचितों का हक भी हड़प लिया, क्या वो लोग बिहार की उम्मीदों को समझ भी पाएंगे?

प्रधानमंत्री ने कहा कि अटलजी कभी कहते थे कि बिहार में बिजली की परिभाषा यह है, कि वह आती कम है और जाती ज्यादा है। लालटेन काल का अंधेरा अब छट चुका है। बिहार की आकांक्षा अब लगातार बिजली और एलईडी बल्ब की है।
जंगलराज के युवराज : मुजफ्फरपुर में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को कहा कि जंगलराज के 'युवराज' से आप क्या अपेक्षा कर सकते हैं।
दरअसल, नरेन्द्र मोदी ने लालू पुत्र का नाम लिए बिना उन्हें जंगलराज का 'युवराज' कहा था। उन्होंने कहा कि उनका पुराना ट्रैक रिकॉर्ड उठाकर देख सकते हैं। आप तो उन्हें मुझसे बेहतर जानते हैं।
उन्होंने कहा कि बिहार में स्थिर सरकार की जरूरत है। इसके लिए आपको अनुभवी नेता चाहिए। कोरोनावायरस महामारी के दौर में यदि जंगलराज वाले राज करने आ गए तो बिहार पर दोहरी मार पड़ेगी।
मोदी ने कहा कि यह समय हवा-हवाई बातें करने वालों का नहीं है। जिन्होंने बिहार में कुशासन दिया था वे फिर सत्ता में बैठने का मौका खोज रहे हैं।



और भी पढ़ें :