Fact Check: Farm Bills पास होते ही मोगा में लग गया अडाणी ग्रुप के वेयर हाउस का बोर्ड? जानिए सच

Last Updated: शुक्रवार, 25 सितम्बर 2020 (12:52 IST)
कृषि क्षेत्र से जुड़े दो बिल (Farm Bills) संसद में पास हो गए हैं। हालांकि, नए को लेकर विपक्ष लगातार केंद्र सरकार पर हमले कर रहा है और देश के कुछ हिस्सों में किसान भी सड़क पर उतर आए हैं। इस बीच सोशल मीडिया पर एक तस्वीर खूब वायरल हो रही है। यह तस्वीर अडाणी ग्रुप के वेयर हाउस के बोर्ड का है। दावा किया जा रहा है कि संसद में कृषि बिल पास होते ही पंजाब के मोगा में अडाणी ग्रुप का ये बोर्ड लग गया है।

क्या है वायरल-


ट्विटर पर तस्वीर शेयर करते हुए यूजर्स सरकार पर निशाना साध रहे हैं।




यह तस्वीर फेसबुक पर भी इसी तरह के दावों के साथ शेयर किया जा रहा है।



क्या है सच-


वायरल दावे की पड़ताल करते हुए हमने इंटरनेट पर ‘adani moga fci’ कीवर्ड के साथ सर्च किया, तो हमें फाइनेंशियल एक्सप्रेस की 2008 की एक रिपोर्ट मिली। इस रिपोर्ट के मुताबिक, अडाणी एग्री लॉजिस्टिक लिमिटेड (AALL) ने साल 2005 में भारतीय खाद्य निगम (FCI) के साथ एक विशेष सेवा समझौता किया था, जिसके तहत अडाणी के सहयोग से पंजाब के मोगा और हरियाणा के कैथल में बनाए साइलो स्टोरेज में अनाज भंडारण किया जा रहा है।

अडाणी ग्रुप ने अपने वेबसाइट पर भी जानकारी दी है कि 2007 में एफसीआई के लिए मोगा और कैथल में मॉडर्न साइलो स्टोरेज बनाए थे।


वेबदुनिया ने अपनी पड़ताल में पाया कि सोशल मीडिया पर वायरल दावा भ्रामक है। मोगा में अडाणी का वेयर हाउस 2007 में ही बन चुका है। एक समझौते के तहत एफसीआई मोगा और कैथल में बने अडाणी के साइलो स्टोरेज में अनाज का भंडारण करती है।



और भी पढ़ें :