संजय सिंह का योगी सरकार पर निशाना, हमें नक्सली बता रहे थे, CBI जांच में सामने आया सच

अवनीश कुमार| पुनः संशोधित शनिवार, 19 दिसंबर 2020 (20:10 IST)
लखनऊ। उत्तरप्रदेश के लखनऊ में शनिवार देर शाम आम आदमी पार्टी के प्रदेश कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में पत्रकारों से बातचीत करते हुए आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रभारी व राज्यसभा सांसद संजयसिंह ने को लेकर योगी सरकार पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि जब आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता व मैं खुद हाथरस की रेप पीड़िता बच्ची के लिए न्याय की मांग कर रहे थे तब न्याय देने की जगह हमें नक्सली बता रहे थे, षड्यंत्र के आरोप लगा रहे थे, मेरे ऊपर हमला तक करवाया गया,लेकिन रिपोर्ट आने के बाद सारा सच सामने आ गया है। आम आदमी पार्टी शुरू से कह रही थी कि सर्वोच्च न्यायलय के नियमानुसार पीड़िता के अंतिम बयान के आधार पर कार्रवाई करो और सीबीआई ने वही किया।
आरोपी लड़कों की पॉलीग्राफी टेस्ट भी करवाया। इसके बाद सीबीआई ने माना की चारों लड़के बलात्कार के दोषी हैं। उन्होंने कहा कि आदित्यनाथजी आपकी सरकार ने एक दलित बच्ची के साथ अन्याय किया है और डीएम व एसपी ने बलात्कारियों को बचाने के लिए रात के अंधेरे में उसका शव जलवा दिया जिससे सबूत मिट जाएं। दूसरी तरफ आपकी सरकार की एडीजी लॉ एंड आर्डर ने कैमरे पर झूठ बोला कि हाथरस में बलात्कार हुआ ही नहीं।

आपने एक बेटी के साथ, पूरे दलित समाज के साथ बहुत बड़ा अन्याय किया है। अगर आपमें ज़रा-सी भी नैतिकता बची है तो फ़ौरन इस्तीफ़ा दे दीजिए। आपके कारण दलित समाज के सैकड़ों लोगों ने अपना धर्म छोड़कर बौद्ध धर्म की दीक्षा ले ली। आपने प्रदेश को शर्मसार कर दिया है।
उन्होंने कहा कि उत्तरप्रदेश में मासूमों के साथ हुए गैंगरेप, हत्या, बलात्कार, छेड़खानी के कारण हुई आत्महत्या के जितने भी मामले हैं, सभी को फास्ट ट्रेक कोर्ट में उच्च न्यायालय की निगरानी में चलवाया जाए क्योंकि आदित्यनाथ प्रशासन जनता का विश्वास खो चुकी है।

आम आदमी पार्टी हाथरस के पीड़ित परिवार के साथ पूरे दलित समाज के साथ मुश्तैदी से खड़े हैं। दलितों और पिछड़ों के ऊपर हो रहे अत्याचार के विरुद्ध पूरी की पूरी आम आदमी पार्टी न्याय दिलाने के लिए लड़ती रही है और आगे भी लड़ती रहेगी।



और भी पढ़ें :