गुरुवार, 2 फ़रवरी 2023
  1. चुनाव 2022
  2. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022
  3. न्यूज: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022
  4. yogi government's election bet on new year's eve
Written By
Last Updated: मंगलवार, 21 दिसंबर 2021 (14:53 IST)

CM योगी आदित्यनाथ ने चला चुनावी दांव, 5वें और 6ठे वेतनमान वाले कर्मचारियों को मिलेगी बढ़ी हुई सैलरी

लखनऊ। योगी सरकार ने नववर्ष की पूर्व संध्या पर चुनावी दांव चला है। अब 5वें और 6ठे वेतनमान वाले कर्मचारियों को बढ़ी हुई सैलरी मिलेगी। यूपी चुनाव से पहले योगी सरकार ने 5वें और 6ठे वेतनमान वाले कर्मचारियों को न्यू ईयर का तोहफा दिया है।

 
उत्तरप्रदेश की योगी सरकार ने 5वें और 6ठे वेतनमान वाले कार्मिकों को 1 जुलाई से बढ़ी हुई दर से मंहगाई भत्ता दिए जाने का आदेश जारी कर दिया है यानी इस संशोधित दर से महंगाई भत्ते का नकद भुगतान 1दिसंबर 2021 से होगा। इसका मतलब है कि दिसंबर वाली सैलरी जब जनवरी में आएगी तो इन कर्मियों की सैलरी बढ़ी हुई होगी। राज्य के अपर मुख्य सचिव एस. राधा चौहान ने आदेश जारी कर यह जानकारी दी।
 
सरकार के इस फैसले का उन सभी कर्मचारियों को मिलेगा, जो अभी तक 5वें और 6ठे केंद्रीय वेतन आयोग द्वारा संस्तुत राज्य सरकार की वेतन संरचना में कार्यरत हैं। यह लाभ जुलाई 2021 से जोड़कर दिसंबर से मिलना शुरू हो जाएगा। हालांकि सरकार ने इसकी घोषणा पहले ही की थी, मगर इस संबंध में आदेश अब जारी किया गया है।

 
उत्तरप्रदेश की योगी सरकार द्वारा जारी आदेश के मुताबिक 5वें वेतनमान के कर्मचारियों को वेतन में अब 368 फीसदी की दर से महंगाई भत्ता मिलेगा, वहीं 6ठे वेतनमान वाले कर्मचारियों को 198 फीसदी की दर से महंगाई भत्ता मिलेगा। अभी तक 6ठे वेतनमान के कर्मचारियों को 189 फीसदी और 5वें वेतनमान कर्मचारियों को 356 फीसदी की दर से महंगाई भत्ता मिल रहा था।
 
इससे कुछ दिन पहले ही योगी सरकार ने प्रदेश के सभी राज्य कर्मचारियों का महंगाई भत्ता यानी डीए 28 फीसदी से बढ़ाकर 31 फीसदी कर​ दिया। इसका मतलब अब राज्य कर्मचारियों के भत्ते में 3 प्रतिशत की बढोतरी की गई है। यह महंगाई भत्ता जुलाई 2021 से देय होगा। गौरतलब है कि दीपावली पर कर्मचारी बोनस के साथ डीए बढ़ने की उम्मीद कर रहे थे लेकिन तब ऐसा नहीं हुआ था।
ये भी पढ़ें
अमित शाह की रैली में लगाए थे जय श्रीराम के नारे, अहसान राव को मिली सुरक्षा