अखिलेश के गढ़ में अमित शाह ने ललकारा, योगी सरकार की तारीफ की

पुनः संशोधित रविवार, 14 नवंबर 2021 (00:14 IST)
आजमगढ़ (उत्‍तर प्रदेश)। गृहमंत्री अमित शाह ने शनिवार को समाजवादी पार्टी पर हमला करते हुए कहा कि जिस आजमगढ़ को दुनियाभर में सपा के शासनकाल के दौरान 'कट्टरवादी सोच और की पनाहगाह' के रूप में जाना जाता था, उसी भूमि पर आज मां सरस्वती का धाम बनाने का काम हो रहा है।
उन्होंने कहा कि ये शुरूआत है परिवर्तन का, जिस आजमगढ़ को देश-विरोधी गतिविधियों का अड्डा बनाकर रखा गया था, अब उस आजमगढ़ से युवा शिक्षित होकर देश में अपना नाम रोशन करेंगे और रोजगार मिलेगा।आजमगढ़ में राज्य विश्वविद्यालय का शिलान्यास और विकास योजनाओं के लोकार्पण कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले शाह ने पूर्ववर्ती अखिलेश सरकार पर जमकर निशाना साधा।


आजमगढ़ से ही लोकसभा सदस्य हैं। शाह ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से यहां खुलने वाले राज्य विश्वविद्यालय का नाम महाराजा सुहेलदेव के नाम पर रखने के लिए कहा। शाह का भाषण खत्म होते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस नए राज्य विश्वविद्यालय का नाम का महाराजा सुहेलदेव के नाम पर करने का ऐलान कर दिया।

अंग्रेजों के खिलाफ लड़ने वाले महाराजा सुहेलदेव अन्य पिछड़ा वर्ग में निषाद जाति के लिए एक प्रतिष्ठित और सम्मानित व्यक्ति रहे हैं। निषाद नेता ओमप्रकाश राजभर 2017 के उत्तर प्रदेश चुनाव में भाजपा के साथ थे, लेकिन इस बार उन्होंने आगामी विधानसभा चुनाव के लिए अखिलेश यादव के साथ हाथ मिला लिया है।

शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी एक जैम (जेएएम पोर्टल) लाए हैं, ताकि भ्रष्टाचार विहीन खरीदी हो सके, उसमें जे का मतलब है जनधन बैंक एकाउंट, ए का मतलब है आधार कार्ड और एम का मतलब है हर आदमी को मोबाइल।उन्होंने सपा पर व्यंग्य करते हुए कहा, गुजरात में जब इस बारे में मैंने बोला तो एक समाजवादी पार्टी (सपा) के नेता बोले, हम भी जैम लाए हैं। मैंने पता कराया कि इनका जैम क्या है, तो पता चला समाजवादी जैम का मतलब है- जे से जिन्ना, ए से आजम खान और एम से मुख्तार अंसारी।

अब आप बताइए आपको भाजपा का जैम चाहिए या समाजवादी पार्टी का। शाह ने कहा कि ये लोग उत्तर प्रदेश का भला नहीं कर सकते, उनका काम समाज को जात-पांत में बांटना, दंगे कराना, तुष्टीकरण करना और वोट बैंक की राजनीति को आगे बढ़ाना है। उन्होंने कहा कि जैसे ही चुनाव आया है, अखिलेश को जिन्ना बहुत महान दिखने लगे हैं।

उन्होंने भीड़ से पूछा, किसी को जिन्ना में महान व्यक्ति की बात नजर आती है। चुनावी मौसम आया है तो अखिलेश जी को वह याद आ रहे हैं। लेकिन मैं अखिलेश को एक बात कहता हूं कि मैं योगी सरकार को एक सर्टिफिकेट देकर जाना चाहता हूं कि उन्होंने पूर्वांचल को मच्छर और माफिया दोनों से मुक्त कर दिया है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि 2017 में घोषणा पत्र में उनकी पार्टी ने राज्य में दस नए विश्वविद्यालय बनाने की बात कही थी और आज 10 विश्वविद्यालय बनाने का काम पूरा हो गया है। शाह ने कहा, हमने 40 मेडिकल कॉलेज बनाने का वादा किया था अब मोदी जी आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं और हमने 40 मेडिकल कॉलेज बनाने का वादा भी पूरा कर दिया।

उन्होंने कहा, पांच साल के अंदर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश में हमारे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ढेर सारा परिवर्तन किया है। यहां पहले जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टीकरण का राज चलता था। सबको न्याय नहीं मिलता था आज योगी जी ने यहां पर जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टीकरण पर पूर्ण विराम लगा दिया है।

शाह ने कहा, 2017 के पहले उत्तर प्रदेश देश की छठी अर्थव्यवस्था थी, आज वह देश की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। उन्होंने कहा, उत्तर प्रदेश में जो सबसे बड़ा काम हुआ है, तो वह प्रदेश को माफिया राज से मुक्ति दिलाने का काम योगी आदित्यनाथ सरकार ने किया है। आजमगढ़ इसका उदाहरण है।

उन्होंने कहा कि कैराना से लोग पलायन कर रहे थे। बच्चियों की उच्च शिक्षा नहीं हो पाती थी। आज मैं गर्व के साथ कहता हूं कि माफिया उत्तर प्रदेश छोड़कर चले गए हैं। यहां माफिया का राज नहीं, कानून का राज है। हजारों एकड़ सरकारी भूमि माफिया हजम करके बैठ गए थे। योगी जी ने कठोरता के साथ इसको खाली कराया और उस भूमि को विकास के कार्यों में लगाने का काम किया है।

उन्होंने कहा कि पहले मच्छरों का शासन था, गोरखपुर और पूर्वांचल में दिमागी बुखार से बच्चे मर जाते थे। उन्होंने कहा, मोदी जी के स्वच्छता के अभियान को योगी आदित्यनाथ ने जमीन पर उतारा और स्वच्छता अभियान के कारण मच्छर मुक्त पूर्वांचल बनाने का काम किया। और जिस प्रकार का शासन चला माफिया उत्तर प्रदेश के बाहर अपने घर ढूंढने लगे हैं। वह भी उत्तर प्रदेश से पलायन कर गए हैं।

भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा, समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस ताना कसते थे कि मंदिर वहीं बनाएंगे मगर तिथि नहीं बताएंगे। आज मैं डंके की चोट पर कहता हूं कि नरेंद्र मोदी को आपने दोबारा प्रधानमंत्री बनाया है और अयोध्या की उसी भूमि पर भव्य रामलला के मंदिर का शिलान्यास हुआ और देखते-देखते वहां पर भव्य राम मंदिर बनेगा जिसकी ध्वजा आसमान के साथ बात करेगी।

शाह ने लोगों से आजमगढ़ की एक-एक विधानसभा सीट पर भाजपा को जिताने की अपील की। कार्यक्रम को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने आजमगढ़ का नाम आर्यमगढ़ रखने की ओर भी इशारा किया।(भाषा)



और भी पढ़ें :