फर्जी लेटरहेड से लेता था वीआईपी कोटे का रेलवे टिकट, गिरफ्तार

पुनः संशोधित गुरुवार, 24 मई 2018 (11:20 IST)
मुंबई। मूल रूप से लखनऊ के निवासी 29 वर्षीय एक व्यक्ति को कथित रूप से नेताओं और नौकरशाहों के फर्जी लेटरहेड बनाने तथा वीआईपी कोटा के तहत धनी यात्रियों को टिकट बुक कराने के लिए सिफारिश के तौर पर उन्हें भेजने को लेकर गुरुवार को गिरफ्तार किया गया।

मुंबई के एक जीआरपी अधिकारी ने बताया कि आरोपी देवप्रताप सिंह वेटिंग लिस्ट वाले यात्रियों को ये फर्जी पत्र बेचता था और उनसे 1200-2400 रुपए प्रति पत्र वसूलता था। अधिकारी ने कहा, अब तक की जांच के दौरान सामने आया है कि उसने महाराष्ट्र के एससीएस (गृह), उत्तरप्रदेश के मुख्य सचिव और बिहार के लोकायुक्त समेत विभिन्न राज्यों के वरिष्ठ नौकरशाहों, सांसदों और विधायकों के फर्जी लेटरहेड तैयार किए।

डीसीपी (जीआरपी) समधन पवार ने कहा, सिंह प्रति पत्र करीब 1200-2400 रुपए लेता था। वह पिछले दो सालों से ऐसा कर रहा है। स्थानीय अदालत ने उसे में भेज दिया। (भाषा)



और भी पढ़ें :